प्रेगनेंसी में हाथ पैरों में सूजन क्यों आती है जानिये कारण और उपाय

0

गर्भवस्था में आम बात है सूजन का होना

प्रेगनेंसी अपने साथ अनगिनत समस्याएं लेकर आती है और ऐसी ही गर्भवस्था से जुडी एक समस्या है प्रेगनेंसी में हाथ और पैरों में सूजन होना| कुछ महिलाएं हाथ पैर सूजने पर दर्द होने की भी शिकायत करती है और पूछती है की प्रेगनेंसी में हाथ पैर क्यूँ फूलता है| लेकिन गर्भवस्था में hands और feet की swelling कैसे दूर करे के बारे में जानकारी देने से पहले आपके यह बताना जरुरी है की आखिर प्रेगनेंसी में क्यों hath पैर सूज या फूल जाते हैं|

garbhavastha me hath pair fulna

गर्भावस्था में हाथ पैर फूलना| प्रेगनेंसी में हाथों और पैरों में सूजन क्यों आती है?

प्रेगनेंसी में swelling होने को इंग्लिश या मेडिकल भाषा में edema बोला जाता है जिसमें आपके शरीर के tissue यानि उत्तकों में अधिक द्रव या पानी एकत्रित हो जाता है| प्रेगनेंसी में थोड़ी बहुत सूजन हाथ या पैरों में होना बहुत ही सामान्य सी बात है जिसकी आपको अधिक चिंता नहीं करनी चाहिए| गर्भवस्था में अधिकतर महिलाओं के पैरों में सूजन आती है लेकिन हाथों में भी होना कोई बड़ी बात नहीं है| प्रेगनेंसी में आपका शरीर प्रकात्रिक रूप से पानी एकत्रित कर लेता है इसके साथ गर्भवस्था में होने वाले blood के अधिक निर्माण से और शरीर का प्राकर्तिक रूप से अपने अन्दर अधिक पानी एकत्रित करने से हाथ पैर फूलना की problem हो जाती है|

Loading...

इसके अलावा आपके पेट में बच्चा आपके गर्भाशय पर दबाव डालता है जिससे आपके पैरों से आपके दिल की और जाने वाले खून के मार्ग में रूकावट आती है फलसवरूप आपका खून पैरों की तरफ अधिक रहता है और आपके पैरों में सूजन आ जाती है|

प्रेगनेंसी में hath पैर की सूजन कब अधिक होती है?

loading...

वैसे तो प्रेगनेंसी में यह problem कभी भी हो सकती है लेकिन अधिकतर मामलों में प्रेगनेंसी के सूजन तीसरे तिमाही यानि प्रेगनेंसी के आखिरी तीन महीनों में अधिक होती है लेकिन ऐसा नहीं है की पहले और दुसरे तिमाही में बिलकुल न हो|  जिन महिलाओं के पेट में दो या अधिक बच्चे होते हैं उनको पैरों और हाथों में सूजन की समस्या और अधिक होती है|

प्रेगनेंसी में पैरों की सूजन कब ख़त्म होती है?

एक बात और ध्यान रखिये की गर्भावस्था की सूजन रात के समय और गर्मियों मेंअधिक समस्या पैदा करती है| यदि आपका सवाल है की गभावस्था में की सूजन कब ख़तम होती है तो इसका जवाब है की जब आपकी डिलीवरी हो जाएगी तब ये swelling भी दूर हो जाएगी| बच्चा होने के बाद माँ बनी स्त्री को कुछ दिन अधिक पेशाब और पसीना आता है जिसके द्वारा शरीर में जमा द्रव बहार निकल जाता है और आपकी सूजन दूर हो जाती है|

गर्भावस्था में सूजन कब समस्या बन सकती है | When to worry about pregnancy swelling

कुछ मामले ऐसे होते हैं जिसमें गर्भावस्था के दौरान सूजन होना समस्या की बात भी हो सकती है वैसे हाथों में यदि हलकी सूजन है तो कौई बात नहीं लेकिन सूजन अधिक होने पर आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए इसके साथ निम्न लक्षण होने पर भी डॉक्टर से इलाज लेना बहुत जरुरी हो जाता है

चेहरे में सूजन होने पर

आँखों के चारों और यदि सूजन हो जाए

हाथों में सामान्य से अधिक swelling होने पर

गर्भावस्था में यदि आपके पैरों में एक दम से बहुत अधिक सूजन हो जाए तो तुरंत डॉक्टर की सलाह और पैरों में सूजन का इलाज लें| खास कर तब जब आपकी एक टांग में दूसरी टांग से अधिक सूजन हो| इसके अलावा जांघ या घुटने के पिछले हिस्से में सूजन हो तो यह खून का थक्का होने का संकेत हो सकता है जिसका इलाज बहुत जरुरी होता है|

प्रेगनेंसी में हाथ पैर फूलने की समस्या कब अधिक होती है?

प्रेगनेंसी में आपको कभी भी swelling हो सकती है खास कर पांचवें महीने के बाद ऐसा होना आम बात है लेकिन कुछ कारण ऐसे है जिससे आपको कभी भी हाथ पैर में सूजन हो सकती है जैसे

गर्मियों में अधिक गर्मी लगने के कारण

अधिक बैठे रहने या खड़े रहने से

अधिक काम काज करने से थकावट होने पर

शरीर में पोटैशियम की कमी होने के कारण

अधिक कॉफ़ी पीने से

अधिक नमक खाने से

इसके अलावा और भी कारण हो सकते हैं जिनसे प्रेगनेंसी के दौरान legs में swelling हो सकती है|

प्रेगनेंसी में हाथ पैरों की सूजन दूर करने के उपाय या इलाज क्या हैं?

प्रेगनेंसी में सूजन से आपको कोई हानि नहीं होती जब तक की ऊपर दी गयी समस्यें आपको न हों| आपको डॉक्टर से सूजन के लिए विशेष इलाज की जरुरत नहीं होती इसलिए आप कुछ उपाय अपनाकर गर्भावस्था में सूजन को कम कर सकती हैं जैसे

  • जब भी लेटें या सोयें तो अपनी लेफ्ट में सोये जिससे आपकी खून की नालिओं पर बच्चे का पड़ने वाला दबाव लम हो और आपकी सूजन दूर हो|
  • लेटे या बैठे समय पैरों को तकिये की सहायता से थोडा ऊपर रखने की कोशिश करें|
  • जब आप बैठी हों तब टांगों को एक दुसरे पर रख कर न बातें इससे खून के दौरे में बाधा आएगी और आपको सूजन के साथ टांगों में दर्द की शिकायत भी हो सकती है|
  • एक ही मुद्रा में बठने से या पैरों को न हिलाने से सूजन अधिक हो जाती है इसलिए बीच बीच में अपने पोजीशन बदलती रहे और पैरों को थोड़े थोड़े समय बाद आगे पीछे और गोल गोल हिलती रहे|
  • अधिक देर बैठने और खड़े होने से परहेज करें|
  • टाइट जूते, टाइट जुराबें या band पहनने से परहेज करें सर्दी है तो आप घरेलु ऊनी कपडे अपने पैरों के लिए बना सकती हैं|
  • पानी अधिक पीने से सूजन कम होती है इसलिए समय समय पर पानी पीती रहे| प्रेगनेंसी में आप पानी सही मात्रा में पी रही हैं का पता आप पेशाब के रंग से लगा सकती है जैसे की यदि आपका पेशाब सफ़ेद है तो इसका अर्थ होगा आप सही मात्रा में पानी पी रही हैं| प्रेगनेंसी में निम्बू पानी और गर्भावस्था में नारियल पानी पीकर भी आप पोषण के साथ पानी की कमी को पूरा कर सकती हैं|
  • प्रेगनेंसी में हलकी फुलकी एक्सरसाइज करते रहने से आपको सूजन के अलावा और भी कई सारी problems से मुक्ति मिलेगी और डिलीवरी भी आसन होगी इसलिए नियमित डॉक्टर के निर्देशानुसार एक्सरसाइज करें|
  • इसके अलावा डॉक्टर से पूछ कर जितना healthy खा सकें आप खाएं ताकि आप और आपका होने वाला बच्चा स्वस्थ रहे|
  • भोजन में नमक का कम से कम प्रयोग करें|
  • शरीर में पोटैशियम की कमी पूरी करने के लिए पोटैशियम युक्त खाद्य पदार्थ खाएं जैसे की केला|
  • आप हलकी फुलकी मालिश करवाकर भी इस समस्या को कम कर सकती हैं|
  • हाथ पैर में सूजन होने पर आप हाथों और पैरों में पहनी जाने वाली अंगूठी, बिछुआ या band न पहने|

प्रेगनेंसी में हाथ पैर में सूजन होना थोडा डरावना लग सकता है लेकिन यह बिलकुल सामान्य सी समस्या होती है जो की डिलीवरी होने के बाद अपने आप ठीक हो जाती है लेकिन यदि आपको सूजन के साथ दर्द या कोई और परेशानी हो रही है तो डॉक्टर से मिलने को परहेज न करें|

Check Out Our Brand New English Website

kitchenhomeremedies.com

loading...

LEAVE A REPLY