एबॉर्शन (miscarriage) के बाद प्रेगनेंसी पाना – गर्भपात के बाद प्रेगनेंसी की संभावना, कब प्रेगनेंसी होगी, बच्चा ना हो रहा हो तो क्या करना चाहिए?

0

एबॉर्शन या गर्भपात के बाद प्रेगनेंसी के chances (सम्भावना)

आजकल ज्यादातर लोग अनवांटेड प्रेगनेंसी को लेकर ज्यादा चिंता में रहते हैं वहीं कुछ लोग होते हैं जिन्हें प्रेगनेंसी पाने में दिक्कत होती है या जो प्रेगनेंसी पाने की लालसा रखते हैं और जब ऐसे लोगों को प्रेगनेंसी होती है तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं होता लेकिन किसी कारणवश यदि मिसकैरेज यह गर्भपात हो जाए तो ऐसे लोग मानसिक तनाव में रहने लगते हैं| यदि आप के साथ भी ऐसा हुआ है और आप एबॉर्शन के बाद फिर से प्रेग्नेंट होने की चाह रखते हैं लेकिन आपको यह नहीं पता कि मिसकैरेज या एबॉर्शन के बाद प्रेग्नेंट होने का सही समय क्या होता है या गर्भपात होने के बाद कितने दिनों, हफ्तों या महीनों बाद प्रेगनेंसी के लिए ट्राई करना चाहिए और यदि किसी कारणवश प्रेगनेंट ना हो पा रही हो तो आपको क्या करना चाहिए यानी मिसकैरेज के गर्भपात होने के बाद फिर से प्रेगनेंट होने की संभावना यह चांसेस कितने होते हैं के बारे में जानकारी हम आपको देने वाले हैं|

how and when to get pregnant after abortion miscarriage in Hindi

क्या गर्भपात या miscarriage के बाद फिर से pregnant होना आसन होता है?

यदि आप स्वस्थ है तो abortion या मिसकैरेज से होने साइड इफेक्ट आपकी अगली प्रेगनेंसी पर नहीं पड़ता खासकर जब गर्भपात प्राकृतिक रूप से होता है| इसलिए यदि आप फिर से प्रेग्नेंट होना चाहते हैं  तो आपको कोई परेशानी नहीं होगी| लेकिन यदि आपने बार-बार एबॉर्शन करवाया है यह पहले किए गए अबॉर्शन में सावधानी नहीं बरती गई है तो आपको प्रेगनेंसी पाने में परेशानी हो सकती है|

गर्भपात, एबॉर्शन या miscarriage के बाद प्रेगनेंसी कब और कितने समय बाद पा सकते हैं|  how and when to get pregnant after abortion in Hindi

एबॉर्शन के बाद आप कब प्रेग्नेंट हो सकती हैं या मिसकैरेज होने के बाद आपको बच्चे पाने के लिए कब ट्राई करना चाहिए कई कारकों पर निर्भर करता है|

loading...

अबॉर्शन के बाद आपका पीरियड और ओवुलातिओं जैसे ही चालू हो जाता है तो उस समय आप आसानी से प्रेग्नेंट हो सकती है आमतौर पर आप miscarriage यानी गर्भपात के 7 से 10 दिन बाद प्रेगनेंसी पा सकती है| इसलिए गर्भपात के बाद प्रेगनेंट होना संभव होता है| लेकिन आमतौर पर डॉक्टर ऐसा करने की सलाह नहीं देते क्योंकि अबॉर्शन के बाद आप शारीरिक रूप से कमजोर होते हैं|

आमतौर पर डॉक्टर आपको गर्भपात या मिसकैरेज होने के बाद कम से कम 3 महीने रुकने की सलाह देते हैं ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि एबॉर्शन के बाद शरीर को हुए नुकसान यो हनी की भरपाई अच्छी तरह से हो पाए और आपको अगली प्रेगनेंसी में किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो | इसलिए एबॉर्शन के बाद प्रेग्नेंट होने से पहले डॉक्टर से अपना कंपलीट चेकअप करवा ले जिससे यह सुनिश्चित हो सके कि आप अगली प्रेगनेंसी के लिए पूरी तरह से तैयार है या नहीं| इसके अलावा डॉक्टर यह भी पता करता है कि आपका अबॉर्शन या गर्भपात किस प्रकार से हुआ है और एबॉर्शन होने के समय आप की प्रेगनेंसी कितने हफ्ते या महीने की थी जैसे

यदि आपका सर्जिकल अबॉर्शन हुआ है इसे स्थिति में डॉक्टर आपको अगली प्रेगनेंसी या बच्चे के लिए ट्राई करने से पहले एक महीना रुकने की सलाह देता है|

इसी प्रकार यदि आपका एबॉर्शन दूसरी या तीसरी तिमाही में हुआ है तो आपको डॉक्टर कुछ महीनों का आराम करने की सलाह देता है ताकि अबॉर्शन के कारण हुए आपके शरीर के नुकसान की पूरी तरह से भरपाई हो सके|

इसके साथ आपको डॉक्टर कुछ सप्लीमेंट खाने की भी सलाह दे सकता है ताकि आपके शरीर की रिकवरी जल्दी हो और आपको अगली प्रेगनेंसी में किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना आए|

एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी पाने में problem आये तो क्या करें? गर्भपात के बाद pregnant ना हो पाना के कारण | एबॉर्शन के कारण बांझपन आना

अनचाहा गर्भपात या मिसकैरेज होना आपको मानसिक और शारीरिक रूप से कमजोर कर सकता है | कुछ महिलाएं बार-बार मिसकैरेज होने के कारण प्रेग्नेंट होने की आशा छोड़ देती है| यदि अबॉर्शन आपकी मर्जी से हुआ है और आपने अच्छे डॉक्टर से करवाया है तो आपको अगली प्रेगनेंसी पाने में कोई समस्या नहीं आएगी|  लेकिन यदि अपने गर्भपात सही डॉक्टर से या सही जगह से नहीं करवाया तो आपको इंफेक्शन होने का खतरा हो सकता है इसके अलावा दूसरी भी समस्या हो सकती है जो आपको फिर से प्रेग्नेंट होने से रोक सकती हैं| अबॉर्शन के बाद बांझपन की समस्या आने के क्या कारण हो सकते हैं जैसे

यदि आपको एबॉर्शन होने में कोई त्रुटि यह गलती हो गई है तो इस स्थिति में आपको इनफेक्शन या गर्भाशय में नुकसान होने के कारण आपको प्रेगनेंसी पाने में परेशानी हो सकती है|

इसके अलावा एबॉर्शन के बाद Pelvic Inflammatory disease (PID) होने का खतरा रहता है और  यदि इसका इलाज ना करवाया जाए तो आपको ectopic pregnancy होने की समस्या हो सकती है|

इसी प्रकार गर्भपात के दौरान यदि गर्भाशय को नुकसान हो जाए तो भी आपको प्रेगनेंसी पानी में समस्या हो सकती है|  यदि आप को एबॉर्शन के बाद पीरियड ना आए या पीरियड बहुत हल्का आए तो यह गर्भाशय को नुकसान होने का संकेत हो सकते हैं ऐसे मैं आपको इसका डॉक्टर से इलाज लेना होता है यदि नुकसान बहुत अधिक है तो आपको बांझपन की समस्या भी हो सकती है|

इसी प्रकार यदि आपने पहले बार-बार गर्भपात करवाए हैं तो ऐसी स्थिति में आपके cervix में कमजोरी हो सकती है किसके कारण आपको प्रेगनेंसी पाने में समस्या हो सकती है|

इसलिए एबॉर्शन के बाद यदि आप प्रेगनेंसी पाने के लिए कोशिश कर रहे हैं और 1 साल की कोशिश के बाद भी प्रेगनेंसी नहीं होती तो आपको किसी अच्छे डॉक्टर या fertility specialist से जांच और इलाज करवाना चाहिए|

एबॉर्शन के तुरंत बाद pregnant होने से कैसे करें बचाव या बचें?

जैसा कि हमने बताया कि डॉक्टर्स के अनुसार मिसकैरेज या गर्भपात होने के बाद आपको प्रेगनेंसी पाने के लिए कुछ समय इंतजार करना चाहिए इसलिए बचाव के लिए आप गर्भनिरोधक उपाय अपनाने के अलावा बर्थ कंट्रोल पिल्स या इंजेक्शन का का इस्तेमाल कर सकते हैं | अधिक जानकारी आप अपने डॉक्टर से भी प्राप्त कर सकते हैं|

क्या एबॉर्शन के बाद pregnant होने में परेशानी हो सकती है? क्या बार बार गर्भपात होने से आगे की प्रेगनेंसी में problem आ सकती है?

देखिए अभी तक यह विज्ञान को पता नहीं चल पाया है एबॉर्शन के बार बार होने से आपको भविष्य में प्रेग्नेंट होने में परेशानी होगी या नहीं| यदि आप स्वस्थ हैं और आपका गर्भाशय प्रेगनेंसी पाने के लिए तैयार है तो आपको किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी|

आज हमने मेडिकल साइंस में बहुत तरक्की कर ली है यदि आप गर्भपात की प्रक्रिया किसी अच्छे डॉक्टर की देखरेख में करवाते हैं तो आपको भविष्य में प्रेगनेंसी पाने में कोई समस्या नहीं आएगी| आपको समस्या तब आ सकती है जब आप अबॉर्शन कराने के लिए घरेलू उपाय अपनाते हैं या  किसी ऐसी डॉक्टर का सहारा लेते हैं ट्रेंड ना हो|

जैसा कि हमने आपको बताया कि डॉक्टर गर्भपात या मिसकैरेज होने के बाद आपको 3 महीने रुकने की सलाह देता है यदि आप भविष्य में स्वस्थ प्रेगनेंसी चाहते हैं तो डॉक्टर की देखरेख में रहे और जब डॉक्टर आपको प्रेगनेंसी पानी के लिए सलाह दे तभी प्रेगनेंसी के लिए ट्राई करना शुरू करें|

एबॉर्शन या गर्भपात के बाद जल्दी pregnant होने के लिए क्या करें – कुछ जरुरी उपाय | how to get pregnant after abortion fast tips in Hindi

गर्भपात या मिसकैरेज के बाद जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए जैसे

डॉक्टर से मिलकर यह जानकारी लेनी चाहिए कि आपका शरीर प्रेगनेंसी के लिए तैयार है या नहीं इसके अलावा आपको अपनी पूरी जांच करवानी चाहिए ताकि आपको प्रेगनेंसी पाने में कोई परेशानी ना हो|

अपनी जीवनशैली को स्वस्थ बनाएं चाय, कॉफी, स्मोकिंग, एल्कोहल और फास्ट फूड के सेवन से परहेज रखें|

अबॉर्शन के बाद शरीर को रिकवर करने के लिए नियमित रूप से एक्सरसाइज करते रहे इससे आपका हार्मोनल लेवल भी संतुलन में आएगा|

ओवुलेशन का सही तरह से पता लगाने के लिए आप ऑनलाइन ovulation kit खरीद सकते है|

यदि आप मिसकैरेज के बाद जल्दी प्रेग्नेंट होना चाहती हैं तो आपको कुछ सावधानियां रखनी होती है जैसे

अपनी गायनोकोलॉजिस्ट या फर्टिलिटी एक्सपर्ट से जांच करवाएं और यह सुनिश्चित करें कि प्रेगनेंसी पाने के लिए पूरी तरह से तैयार है|

बार बार गर्भपात होने से cervix कमजोर हो जाता है जिसे कि डॉक्टर सही कर सकता है इसके अलावा आपकी पेल्विक फ्लोर मसल को मजबूत करने के लिए डॉक्टर आपको कीगल एक्सरसाइज करने की सलाह दे सकता है|

हमेशा एबॉर्शन होने के बाद अपने शरीर को रिकवरी के लिए टाइम दीजिए| यदि आप ऐसा नहीं करते तो आपको प्रेगनेंसी में समस्या हो सकती है पर इसका असर आपके बच्चे के स्वास्थ्य पर भी बुरी तरह से पढ़ सकता है|

यदि सब कुछ करने के बाद भी आपको प्रेगनेंसी पाने में परेशानी हो रही है तो आप IVF य IUF जैसी तकनीक का भी सहारा ले सकते हैं|

एबॉर्शन या गर्भपात होने का मतलब यह नहीं होता कि आपको भविष्य में प्रेगनेंसी पाने में कोई दिक्कत होगी या प्रेग्नेंट नहीं हो सकते| यदि आपने एबॉर्शन की क्रिया किसी अच्छे डॉक्टर से करवाई है यह आपका natural रूप से मिसकैरेज हुआ है तो आपको भविष्य में होने वाली प्रेगनेंसी के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए और जब जरूरी हो अपने गायनेकोलॉजिस्ट समय समय पर जांच करवाते रहना चाहिए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...