गर्भपात (एबॉर्शन) के बाद कब तो होती है ब्लीडिंग – गर्भपात के बाद खून आना कब बंद होता है

0

एबॉर्शन के बाद खून आना कब रुकता है

आज हम यह जाने वाले हैं कि अबॉर्शन या गर्भपात के बाद ब्लीडिंग होना या खून बहना कब बंद होता है| ब्लीडिंग होना कब रुकता है और कब आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए| देखिए गर्भपात के बाद महिला को बहुत से शारीरिक और मानसिक कष्टों से गुजरना पड़ता है महिला को असहनीय दर्द के साथ साथ दूसरे कई लक्षणों को सहन करना पड़ता है उनमें से एक है गर्भपात के बाद कई दिनों तक खून का बहना|  जिससे कि महिला के शरीर में कमजोरी भी आती है आज हम जाने वाले हैं कि अबॉर्शन के बाद ब्लीडिंग कब तक होती रहती है यानी गर्भपात के बाद खून आना कब बंद होता है|

abortion ke baad bleeding

एबॉर्शन के बाद कब तक होती रहती है ब्लीडिंग

देखिए गर्भपात होने के बाद महिला को अपने स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखना होता है | गर्भपात होने के बाद कई प्रकार की दिक्कतें महिला को झेलनी पड़ सकती है जैसे कि अधूरा गर्भपात होना जिसके कारण इंफेक्शन का खतरा बना रहता है| इसके अलावा कुछ दिनों तक महिला को दर्द, मरोड़ और हेवी ब्लीडिंग जैसी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है|  गर्भपात होने के कई दिनों बाद खून आना रुकता नहीं या बंद नहीं होता| तो चलिए जानते हैं अबॉर्शन के बाद जब खून आना बंद होता है या गर्भपात के बाद होने वाली बिल्डिंग को कैसे रोका जा सकता है|

गर्भपात के बाद खून आना कब बंद होता है

जैसे ही आपका गर्भपात होता है उसके तुरंत बाद ब्लीडिंग होना चालू हो जाता है|  इसके अलावा आपको पेट के निचले हिस्से में दर्द भी रह सकता है | अबॉर्शन के बाद खून आना दो हफ्तों तक चलता रह सकता है| यदि आपकी ब्लीडिंग बहुत ही हैवी है तो आपको नियमित रूप से डॉक्टर से संपर्क में रहना चाहिए क्योंकि इससे शरीर में खून की कमी के लक्षण देखने को मिल सकते हैं | यदि आपका एबॉर्शन सर्जरी के द्वारा हुआ है या फिर अपने mtp kit इस्तेमाल की है तो आपको अपनी डॉक्टर की देखरेख में ही कुछ दिन रहना चाहिए ताकि कुछ भी असामान्य होने पर आप को इलाज मिल सकते|

loading...

डॉक्टर से आपको कब मिलना चाहिए

यदि गर्भपात में ब्लीडिंग बहुत अधिक हो या फिर 15 दिन से अधिक ब्लीडिंग हो रही हो तब आपको अपनी डॉक्टर से सलाह और इलाज लेना चाहिए|  गर्भपात के कुछ दिन बीत जाने के बाद भी तेज दर्द बना रहे तो भी आपको डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी होती है| इसके इलावा डॉक्टर जो भी दवाई आपको देता है इसका सेवन आपको नियमित रूप से करना होता है अन्यथा इनफेक्शन या कमजोरी होने का डर रहता है|

सर्जरी द्वारा गर्भपात यदि हुआ है

सर्जरी द्वारा अबॉर्शन तो किया जाता है जब भ्रूण का आकार बड़ा हो जाए या फिर बच्चे में कोई कमी हो या  डॉक्टर आपको ऐसा करने की सलाह दे| सर्जरी द्वारा गर्भपात होने के बाद कुछ हफ्तों तक हेवी ब्लीडिंग हो सकती है इसलिए यदि सर्जरी द्वारा आपका गर्भपात हुआ है तो अपने डॉक्टर से सही जांच और इलाज करवाएं| सर्जरी के बाद हेवी ब्लीडिंग हो सकती है या फिर गर्भाशय को नुकसान पहुंच सकता है| इसलिए यदि सर्जरी के द्वारा एबॉर्शन होता है तो अपने डॉक्टर के संपर्क में बने रहे|

अबॉर्शन के बाद हेवी ब्लीडिंग

ज्यादातर गर्भपात के बाद सामान्य ब्लीडिंग होना एक आम बात है लेकिन यदि आपको सामान्य से ज्यादा खून आने की शिकायत हो रही है तो अपने डॉक्टर से सही इलाज लेना जरूरी होता है|  इसके इलावा कुछ लक्षण होते हैं

जब आपको डॉक्टर से इलाज लेना बहुत ही जरूरी होता है जैसे

चक्कर आना

कमजोरी महसूस होना

सांस चढ़ना

पेट में असहनीय दर्द होना

गर्भपात के बाद खून आना यदि दो हफ्तों के बाद भी चलता रहे

गर्भपात के बाद पीरियड कब आता है

जयादातर महिलाएं यह सोचकर चिंतित रहती है की एबॉर्शन के बाद पीरियड कब आएगा|  यदि आपके गर्भपात के बाद होने वाली ब्लीडिंग रुक गई है तो शुरुआत में हो सकते पीरियड मिस हो जाए या फिर पीरियड आने की डेट कुछ आगे या पीछे हो जाए|  जैसे जैसे आपके शरीर में हार्मोन का स्तर होगा संतुलित होगा और आपके शरीर की recovery हो जाएगी वैसे वैसे पीरियड की डेट नियमित होती जाएगी|

गर्भपात के बाद दर्द होना कैसे करें कम

गर्भपात के बाद पेट में दर्द होना या मरोड़ आना एक आम समस्या है| यहदर्द बहुत तेज भी हो सकता है और खून के साथ थक्के के भी आ सकते हैं| आप इस डर से निजात पाने के लिए गरम पैय का सेवन करें और अपनी पेट पर गर्म सेक करें यदि इन सब के बावजूद भी दर्द बना रहे डॉक्टर से दर्द कम करने वाली दवाई ले|

यह थी जानकारी कि गर्भपात या एबॉर्शन के बाद खून आना या ब्लीडिंग कब बंद होती है या रूकती है | यदि आपका एबॉर्शन हुआ है या आपने करवाया है तो सही सलाह या जानकारी अपने डॉक्टर से ही प्राप्त करें |

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

LEAVE A REPLY