एबॉर्शन (गर्भपात) के बाद ध्यान रखने वाली बातें और सावधानियां

0

एबॉर्शन के बाद सावधानियां |Recovery after Abortion in Hindi

एबॉर्शन यानी गर्भपात होने के बाद का समय किसी भी महिला के लिए बहुत ही मुश्किल और दर्द भरा समय होता है| ऐसे में शरीर को सही करने के लिए यानी जल्दी रिकवरी करने के लिए कुछ बातों का विशेष रुप से ध्यान रखना पड़ता है और एबॉर्शन के बाद कुछ सावधानियां भी रखनी पड़ती है जिनसे आपको आगे भविष्य में कोई दिक्कत ना आए| आइए जानते हैं एबॉर्शन यानी गर्भपात के बाद आपको किन बातों पर गौर करना चाहिए अबॉर्शन के बाद क्या सावधानियां बरतनी चाहिए के बारे में जानकारी|

garbhpat ke baad recovery time

एबॉर्शन के बाद क्या सावधानियां रखनी चाहिए ताकि जल्दी recovery हो सके?

एबॉर्शन के बाद संभोग करना चाहिए या नहीं | गर्भपात के बाद सहवास कब कर सकते हैं

डॉक्टरों का मानना है कि गर्भपात के तुरंत बाद आपको दो हफ्तों के लिए संभोग से परहेज रखना चाहिए | एबॉर्शन के बाद इन्फेक्शन का खतरा बहुत अधिक होता है इसलिए कुछ हफ्ते रुक कर संबंध बनाने के बारे में विचार करें| यदि आप गर्भनिरोधक उपायों का इस्तेमाल नहीं करेंगे तो फिर से प्रेगनेंसी होने का खतरा बढ़ जाएगा| अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क करें, डॉक्टर ही आपको यह बता सकते हैं कि आप का एबॉर्शन कितने समय का था और उसी हिसाब से डॉक्टर आपको जरूरी सलाह देगा|

एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना चाहिए |Pregnancy test after your abortion in Hindi

आमतौर पर डॉक्टर अबॉर्शन यानी गर्भपात के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए आपको एक महीना रुकने की सलाह देते हैं क्योंकि यदि टेस्ट इससे पहले कर लिया जाए तो उसका परिणाम गलत भी हो सकता है| अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से सलाह कर ले|

एबॉर्शन के बाद गर्भ निरोधक उपाय या गोली कब इस्तेमाल कर सकते हैं|Contraception after abortion in Hindi
loading...

यदि डॉक्टरों की मानें तो आप गर्भनिरोधक गोली या उपाय एबॉर्शन होने के तुरंत बाद शुरू कर सकते हैं उसके लिए आपको एबॉर्शन के बाद होने वाली बिल्डिंग के रुकने का इंतजार नहीं करना होगा और ना ही अपने पहले पीरियड का इंतजार करना होगा| डॉक्टर ऐसा इसलिए सलाह देते हैं क्योंकि आप गर्भपात के तुरंत बाद प्रेगनेंट हो सक्ति है|

एबॉर्शन के बाद कब नहाना चाहिए | Washing after abortion

यदि आपका मेडिकल या सर्जिकल अबॉर्शन हुआ है तो आपको नहाने के लिए कम से कम 48 घंटे का इंतजार करना चाहिए| इससे पहले यदि नहाते हैं तो इंफेक्शन का खतरा अधिक बढ़ जाता है| आप चाहे तो 48 घंटे के बाद स्नान ले सकते हैं लेकिन यदि आपको गर्भपात के बाद चक्कर आने की समस्या हो रही है तो किसी परिवार वाले को स्नानघर में अपने साथ लेकर जाएं|

एबॉर्शन के बाद दर्द्द निवारक दवा लेनी चाहिए या नहीं | कौनसी दवा लें कौनसी नहीं

अबॉर्शन के बाद आप दर्द निवारक दवा ले सकते हैं जैसे

Paracetamol

Paracetamol +Codeine

Ibuprofen

Ibuprofen + Codeine

Naproxen

ध्यान रखिए कि भूल कर भी आपको Ibuprofen के साथ Naproxen का इस्तेमाल नहीं करना है और ऐसी दवाई भी नहीं लेनी है जो खून को पतला करती है जैसे एस्प्रिन| क्योंकि ऐसी दवाई लेने से खून बहना बहुत तेज हो सकता है| दवाई के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से पहले ही जानकारी ले ले ताकि आप से कोई गलती ना हो|

एबॉर्शन के बाद Tampon इस्तेमाल करे या पेड

अबॉर्शन के बाद आपको कभी भी टेंपल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि इस इन्फेक्शन का खतरा हो सकता है| बेहतर यही होगा कि आप सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करें|

गर्भपात के बाद एक्सरसाइज कब करनी चाहिए

आपको गर्भपात के बाद कम से कम 2 हफ्ते रुकना चाहिए खासकर यदि आप घुड़सवारी, जिम या स्विमिंग करने की शौकीन है|  इसी प्रकार यदि आप का बच्चा छोटा है तो जितना हो सके उसे कम उठाएं खासकर जब आप सीढियों से उतर या चढ़ रही हो|

क्या एबॉर्शन के बाद शराब पी सकते हैं | alcohol after abortion in Hindi

गर्भपात के बाद आप किसी भी प्रकार का अल्कोहल पीने से परहेज करें खासकर जब आप की एंटीबायोटिक दवाई चल रही हो| शराब का सेवन शरीर और रिकवरी को बुरी तरह से प्रभावित करता है|

एबॉर्शन के बाद स्तन से पानी आना क्या है ?

एबॉर्शन या गर्भपात के बाद स्तन से पानी आना एक आम बात है क्योंकि अबॉर्शन से पहले जब आप प्रेगनेंट होती है तब आपका शरीर बच्चे के लिए खुद को तैयार कर रहा होता है| अबॉर्शन के बाद कुछ हफ्तों बाद स्तन में से पानी आना रुक जाता है| कभी भी भूलकर अपने स्तन को दबाकर निचोड़ कर पानी निकालने की कोशिश ना करें ऐसा करने पर लीकेज होना और अधिक हो जाएगा|

क्या एबॉर्शन के बाद बच्चे को दूध पिलाना छोड़ना चाहिए या नहीं ? | एबॉर्शन के बाद स्तनपान

अबॉर्शन के बाद यदि आपका कोई छोटा बच्चा है तो उसे दूध पिलाने से परहेज करना चाहिए क्योंकि एबॉर्शन के दौरान आप को दी गई दवाई आपकी दूध में मिल सकती है जिससे बुरा असर बच्चे पर पड़ सकता है| इसलिए हमेशा डॉक्टर से पूछ कर ही अपने बच्चे को दूध पिलाना शुरू कीजिए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...