कैंसर के लक्षण पहचान और इलाज क्या हैं

0

कैंसर नाम आते ही अच्छे अच्छों के पसीने छूट जाते हैं क्योंकि दिल की बीमारी के बाद कैंसर ही है जो दुनिया भर में मौत का सबसे बड़ा कारण होता है| कैंसर के प्रकार लगभग १०० से भी ज्यादा हैं| यदि कैंसर के लक्षणों का पता शुरुवात में लग जाए तो कैंसर का इलाज आसन होता है लेकिन अकसर कैंसर शुरुव्वात में कोई लक्षण नहीं दिखता और यही कारण है की कैंसर का समय पर आपको पता नहीं चल पाता| यदि आपके फॅमिली में कैंसर की हिस्ट्री हैं तो आपको समय समय पर अपने शरीर की जांच करवाते रहना चाहिए और ऐसे कारणों से बचना चाहिए जो कैंसर के लिए जिम्मेदार माने जाता हैं|

cancer khatam

कैंसर से बचाव और इलाज की सफलता इस बात पर निभर करती है की आप कितनी जल्दी कैंसर की गांठ होने की पहचान कर लेते हैं और ऐसा आप कैंसर के लक्षणों के आधार पर कर सकते हैं|

कैंसर किस प्रकार लक्षण दिखता है?

loading...

कैंसर वैसे तो कोई लक्षण नहीं दिखाता लेकिन जयादातर लोगों में कैंसर के लक्षण इस बात पर निर्भर  करते हैं की कैंसर की गांठ कहाँ है , कितनी बड़ी है और उसने उत्तकों और अंगों को कितना प्रभावित किया है जैसे कैंसर की गांठ यदि दिमाग (ब्रेन) में हो तो वो अपने लक्षण जल्दी दिखा देती हैं|  इसी प्रकार कुछ कैंसर में गांठ बड़ी होने तक आपको पता नहीं चलता जैसे की पित्त का कैंसर होने पर रोगी में कोई लक्षण देखने को नहीं मिलते लेकिन बाद में गांठ बड़ी होने पर रोगी को पेट दर्द, पीलिया जैसे लक्षण होते हैं|

कैंसर होने पर बुखार, कमजोरी, थकान और वजन कम (weight loss) जैसे लक्षण भी हो सकते हैं और ये तो होते हैं क्योंकि कैंसर की कोशिकाएं शरीर की काफी उर्जा का इस्तेमाल कर लेती हैं साथ ही ऐसे लक्षण कैंसर द्वारा आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में बदलाव होने के कारण ही हो सकते हैं|

कैंसर के लक्षण की पहचान से क्या फायदा होता है? How symptoms of cancer are Helpful

देखिये दोस्तों, कैंसर का इलाज तभी प्रभावी होता है जब कैंसर की पहचान शुरुवाती स्टेज में कर ली जाये| अकसर लोग लक्षणों को अनदेखा कर देते हैं और जो आगे चलकर घातक भी सिद्ध हो सकता है| यदि आप अपनी सेहत के प्रति जागरूक हैं तो समय समय पर अपनी जांच करवाते रहे खास कर जब आपके परिवार में किसी को कैंसर हो या आप स्मोकिंग, शराब, तंबाकू, गुथ्खा, फ़ास्ट food आदि चीज़ों का सेवन करते हों|

कैंसर की सामान्य लक्षण क्या हैं ? What are the general symptoms of cancer

यहाँ कुछ कैंसर के लक्षण दिए जा रहे हैं लेकिन जरुरी नहीं की यह लक्षण होने पर आप १०० प्रतिशत कैंसर ही हो| लेकिन यदि लक्षण लम्बे समय तक चल रहा है और समय की साथ बढ़ रहा है तो आपको डॉक्टर से जांच करवा लेनी चाहिए|

Cancer symptoms

बिना कारण वजन कम होना

यदि आपका वजन तेजी से कम हो रहा है और आपको उसका कारण भी नहीं पता चल रहा तो डॉक्टर से checkup करवा लें| अधिकतर केसेस में 5 किलो या उससे ज्यादा वजन अचानक से कम हो जाए तो यह कैंसर का लक्षण हो सकता है| ऐसा अकसर पेट, आहारनली, पीताश्य और lungs में कैंसर की गांठ होने के कारण होता है|

बुखार रहना

यदि किसी को बार बार या लगातार बुखार बना रहता है तो यह भी कैंसर का symptom हो सकता है क्योंकि कैंसर में अकसर रोगी का इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है जिसके फलसवरूप बुखार होना सव्भाविक होता है| ब्लड कैंसर जैसे leukemia या  lymphoma की शुरुवात में भी बुखार हो सकता है|

कमजोरी और थकावट

कैंसर का एक और लक्षण है कमजोरी और थकावट जो की आराम करने के बाद भी ठीक नहीं होती| ब्लड कैंसर, पेट का कैंसर और अमाशय में गांठ होने पर ऐसा होना आम बात है|

दर्द होना

दर्द होना कुछ कैंसर का मुख्य और शुरुवाती लक्षण होता है जैसे हड्डी और अंडकोष का कैंसर| इसी प्रकार सिर में दर्द का बने रहना ब्रेन tumor का लक्षण हो सकता है| इसी प्रकार पीट या कमर में दर्द बड़ी आंत, ओवरी या गुदा के कैंसर का लक्षण हो सकता है|

त्वचा में बदलाव

त्वचा के कैंसर के अलवा कुछ और प्रकार के कैंसर भी आपके त्वचा में बदलाव कर सकते हैं जैसे

त्वचा पर बाल अधिक होना

त्वचा का काला पड़ना या काले धब्बे पड़ना

त्वचा का लाल होना

स्किन पर खुजली होना

कैंसर के कुछ विशेष लक्षण

यहाँ कुछ विशेष लक्षणों के आधार पर आप किसी ख़ास प्रकार के कैंसर की पहचान कर सकते हैं|

स्तन कैंसर के लक्षण | Breast cancer symptoms

  • निप्पल में सूजन और कड़क हो जाना
  • स्तन में या बगल में गांठ होना
  • ब्रैस्ट की त्वचा में बदलाव होना या त्वचा के pores का बड़ा हो जाना

नोट :- स्तन में गांठ होना जरुरी नहीं की कैंसर हो लेकिन गांठ होने पर चिकित्सक की सलाह जरुर ले लेनी चाहिए|

  • इसके अलावा निप्पल से खून आना या white डिस्चार्ज होना भी ब्रैस्ट कैंसर के लक्षण हो सकते हैं|
  • स्तन में एक और ज्यादा सूजन और दर्द होना जिससे स्तन के आकर में आपको परिवर्तन नजर आये इसी प्रकार स्तन का सिकुड़ जाना भी एक लक्षण है
  • निप्पल का अन्दर की और या एक और मुड जाना
  • निप्पल के आस पास की त्वचा लाल और सूजी हुई दिखाई देना

मुंह के कैंसर के लक्षण | symptoms of mouth cancer

मुंह के कैंसर का शिकार अकसर वो लोग होते हैं जो गुटखा, खैनी, बीडी, सिगरेट , शराब आदि हानिकारक चीज़ों का सेवन करते हैं| यह कैंसर होंठ, जीभ, गला कही भी हो सकता है| मुंह के कैंसर के निम्न लक्षण हो सकते हैं|

  • मुंह या गले में गाँठ का होना जो ठीक ना हो रही हो
  • जबड़ा खुलने में परेशानी
  • मुंह या गले में किसी जगह दाने, सूजन या मोटा उभार होना
  • गले में कुछ फंसे होने का एहसास होना
  • खाने, बोलने या निगलने में दर्द और परेशानी होना
  • कान में निरंतर दर्द बने रहना
  • जबड़ा या जीभ को हिलाने में दिक्कत होना
  • आवाज में बदलाव जैसे फटी हुई या भरी आवाज निकलना
  • दांत का अचानक से कमजोर होना

ब्लड कैंसर के लक्षण क्या होते हैं | signs and symptoms of blood cancer

ब्लड यानि खून के कैंसर कई प्रकार के होते हैं जैसे  leukaemia, lymphoma, myeloma आदि| खून का कैंसर होने कई लक्षण और संकेत होते हैं जो की सभी प्रकार के ब्लड कैंसर में लगभग सामान से ही होते हैं|

  • बिना किसी कारण के शरीर का वजन कम होना
  • बहुत थकावट रहना
  • कमजोरी रहना
  • सांस फूलना
  • लसिका ग्रन्थियो में सूजन
  • पेट में दर्द और सूजन रहना
  • बार बार इन्फेक्शन की चपेट में आना
  • बुखार और रात को पसीना आना
  • जोड़ों और हड्डियों में दर्द रहना
  • त्वचा पर खुजली रहना
  • छाती और कमर में दर्द रहना
  • जरुरत से ज्यादा पसीना आना

पेट के कैंसर के लक्षण | stomach cancer signs

पेट में कैंसर का मतलब यहाँ हमारा stomach यानि अमाशय से है जिसके मुख्य लक्षण निम्न हैं

  • पेट में दर्द , भारीपन और सूजन रहना
  • बदहजमी या अपचन
  • भोजन के बाद भारीपन महसूस होना
  • जी मिचलाना
  • भूख ना लगना
  • एसिडिटी रहना
  • उलटी और दस्त
  • मल के साथ खून आना
  • बिना कारण के weight loss होना
  • त्वचा और आँखों का पीला होना
  • कब्ज रहना
  • कमजोरी और थकावट रहना

जरुरी नहीं की यह लक्षण होने पर आपको पेट का कैंसर हो यह इन्फेक्शन के कारण भी हो सकते हैं इसलिए यदि आप लम्बे समय से इनमें से किसी लक्षण से परेशान हैं तो तुरंत किसी अच्छे पेट के डॉक्टर से परामर्श करें|

लीवर में कैंसर होने के लक्षण | symptoms of liver cancer

लीवर में कैंसर होने के लक्षण अकसर शुरुवात में देखने को नहीं मिलते लेकिन कुछ संकेत हैं जिनसे आप लीवर में गांठ होने की पहचान कर सकते हैं|

  • भार का कम होना और उसका कारण पता ना चलना
  • भूख ना लगना
  • थोड़े सा भोजन खाने पर ऐसा लगना की बहुत ज्यादा खा लिया हो
  • जी मिचलाना और उलटी होना
  • पसलियों के नीचे दाहिनी तरफ सूजन होना
  • पेट में दर्द
  • पेट में पानी भरना
  • त्वचा पर खुजली होना
  • त्वचा और आँखों का पीला पड़ना (पीलिया)
  • बुखार रहना
  • पेट में फूली हुई नाड़ियो का दिखाई देना

इनके अलावा लीवर में गाँठ कुछ hormones का निर्माण करती है जो दुसरे अंगों की कार्यप्रणाली को प्रभावित कर सकते हैं| ये hormones

खून में कैल्शियम के लेवल को बढ़ा कर जी मिचलाना, confusion, कब्ज, कमजोरी या मांसपेशियों से सम्बंधित समस्या पैदा कर सकते हैं|

ब्लड में सुगर के स्तर को कम करके कमजोरी और बेहोशी पैदा कर सकते हैं|

पुरषों में अंडकोष का श्रिंक होना और स्तनों का बढ़ जाना

लाल रक्त कोशिकाओं के बढ़ने पर त्वचा का लाल दिखाई देना

कोलेस्ट्रॉल लेवल का बढ़ना

लंग (फंफडे) कैंसर के लक्षण | Lung cancer symptoms

फेंफैड़े के कैंसर होने के लक्षण शुरू में नजर नहीं आते लेकिन यदि आपको निम्न लक्षण हो रहे हैं तो डॉक्टर की सलाज आवश्य लें|

  • खांसी रुकने का नाम ना ले रही हो
  • सांस फूलना और सांस लेने में दिक्कत होना
  • लम्बी सांस लेने पर छाती में तेज दर्द होना
  • बलगम के साथ खून आना
  • भूख और वजन कम होना
  • थकान और कमजोरी रहना
  • हँसते और खांसते समय चेस्ट में दर्द होना

यदि कैंसर दुसरे अंगों तक फ़ैल जाए तो निम्न लक्षण भी देखने को मिलते हैं|

  • हड्डियों में दर्द
  • यदि कैंसर लीवर तक पहुँच जाए तो पीलिया भी हो सकता है|
  • त्वचा पर उभार दिखाई देना
  • तंत्रिका तंत्र में बदलाव जिससे सर दर्द, हाथ पैरों का सुन्न होना, चक्कर आना या दौरे पड़ना जैसे लक्षण हो सकते हैं|

दिमाग के कैंसर के लक्षण | symptoms of brain tumor

ब्रेन tumor या दिमाग में गांठ होने पर अलग अलग लोगों में अलग अलग लक्षण देखने को मिलते हैं|

सिर दर्द जो की अकसर सुबह के समय होता हा और बहुत तेज होता हैं| इस सिर दर्द पर दर्द निवारक असर नहीं कर पाते लेकिन व्यक्ति को सीधा खड़े होने पर आराम मिलता है|

दिमाग में कैंसर होने पर व्यक्ति को देखने सम्बंधित परेशानी भी हो सकती है| खड़े होने पर या शरीर की स्तिथि बदलने पर आँखों के आगे कुछ देर के लिए अँधेरा छा जाना|

रोगी को दौरे भी पड़ सकते हैं|

जी मिचलाना, चक्कर आना, दिमाग के कार्य कमजोर होना, शारीर का संतुलन बनाने में दिक्कत होना, बोलने में परेशानी होना, शरीर पर सुइयां चुभना, अधिक नींद आना, हाथ पैरों में कमजोरी रहना भी दिमाग के कैंसर के लक्षण हो सकते हैं|

हड्डी के कैंसर के लक्षण | symptoms of bone cancer

हड्डी का बार बार टूटना

हड्डी दर्द होना और उस जगह पर सूजन रहना

कमजोरी रहना और शरीर का वजन एक दम से कम हो जाना

ऐसे लक्षण यदि आप में दिखाई दे रहे हैं तो हड्डी के डॉक्टर से सलाह लें|

गर्भाशय के कैंसर के लक्षण | symptoms of utrine cancer

योनी से खून आना

पेशाब करते समय दर्द होना

सम्भोग के समय दर्द होना

प्राइवेट पार्ट्स के आस पास दर्द रहना

दोस्तों ये कुछ प्रकार के कैंसर और उसके लक्षण थे | दुसरे प्रकार के कैंसर के बारे में हम आपको आगे के लेख में बताएँगे ताकि आप इस जानलेवा बीमारी के प्रति अपना ज्ञान बढ़ा सकें|

कैंसर से बचाव के तरीके टिप्स | कैंसर होने का खतरा कम करने के लिए जरुरी बातें

यहाँ कुछ जरुरी बातें बताई जा रही हैं जो आपको भविष्य में कैंसर से बचने में मदद करेंगी|

तम्बाकू को कहें ना

तंबाकू मुंह, गले, फंफ्ड़े, पिताश्य, गुर्दे, ब्लैडर कैंसर होने का मुख्य कारण बनता है| तंबाकू चाहे किसी भी रूप में हो जैसे बीडी , गुटखा, खैनी, हुक्का या फिर कोई और भी धुम्रपान कर रहा हो तब भी आपके स्वास्थय के लिए हानिकारक हो सकता है| इसलिए यह जरुरी है की आप आज से ही इसका प्रयोग बंद करें|

स्वस्थ खाइए

स्वस्थ खान पान से आप काफी हद तक कैंसर के खतरे को दूर रख सकते हैं|

खूब हरे पत्तेदार सब्जियां और रंगीन फ्रूट्स खाइए

ऐसी चीज़ों से परहेज करिए जिनसे मोटापा बढ़ता हो – जैसे मैदा, जयादा मीठा, फैटी भोजन आदि|

शराब किडनी, लीवर, स्तन, पेट आदि के कैंसर का कारण बनती है इसलिए इससे दूर रहे|

ओलिव आयल, ड्राई फ्रूट्स, बीन्स, दालें आदि को भी अपने फ़ूड मेनू में शामिल करें|

स्वस्थ भार मेन्टेन कीजिये

स्वस्थ भार होने से कई प्रकार के कैंसर जैसे किडनी, colon, ब्रैस्ट, प्रोस्टेट और लंग कैंसर होने की संभावना काफी कम होती है| आपको कम से कम रोजाना ३० मिनट्स या उससे जयादा एक्सरसाइज करके आपने आपको शारीरिक रूप से स्वस्थ रखने की कोशिश करनी चाहिए|

सूर्य से बचकर रहिये

सूर्य की हानिकारक किरणें त्वचा के रोग ही नहीं कैंसर तक करने में सक्षम होती हैं इसलिए सुभे १० से ४ बजे तक सूर्य में न निकलें और यदि जरुरी होती तो सुरक्षा के उपाय जैसे स्कार्फ, टोपी, चश्मा और सनस्क्रीन लोशन का प्रयोग करना न भूलें|

vaccination लीजिये

आपको जरुरी vaccination लेनी चाहिए और अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को स्ट्रोंग बनाने के लिए डॉक्टर से जरुरी सलाह लेनी चाहिए कुछ वायरस जैसे हेपेटाइटिस लीवर का कैंसर भी पैदा कर सकता है| इसीप्रकार HPV वायरस का संक्रमण गुप्तांगों सम्बंधित कैंसर पैदा कर सकता है|

असुरक्षित यौन सम्बन्ध से दूर रहिये, नशे का सहारा ना लें और समय समय पर अपनी मेडिकल जांच करवाते रहे ताकि आपको कभी कोई बीमारी न हो पाए| जयादा जानकारी के लिए आप पास ही के किसी हॉस्पिटल में डॉक्टर से कैंसर के प्रति जरुरी सलाह ले सकते हैं|

कैंसर का इलाज | cancer treatment

कैंसर का इलाज या उपचार इस बात पर निर्भर करता है की आपको किस प्रकार का कैंसर है और वो किस स्टेज में है| अक्सर कैंसर के रोगीओं को उनकी स्तिथि के आधार पर सर्जरी, radiation थेरेपी, chemotherapy,  Immunotherapy , Targeted Therapy, Hormone Therapy, Stem Cell Transplant आदि करवाने की सलाह i जाती है जिनके साइड इफेक्ट्स भी होते हैं| साथ ही डॉक्टर जरुरी दवाइयां लेने की भी सलाह देता है|

आपने अभी जाना कैंसर ले लक्षण, पहचान और इलाज सम्बन्हित बातों के बारे में| अगले भाग में हम कैंसर से जुड़े कुछ जरुरी मिथक और तथ्यों के आर में चर्चा करेंगे इसलिए hindilookup से जुड़े रहे और अपनी जानकारी को बढाएं|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक


 

loading...