बगल (कांख) में दर्द वाली गांठ होने का इलाज और उपचार – armpit lump (ganth) treatment in Hindi

0

बगल की गांठ क्या है क्यों होती है कांख में गांठ | underarm ganth kya hai ?

बगल में गांठ होना या कांख की गांठ की समस्या किसी को भी किसी भीउम्र में हो सकती है| ऐसी गांठ अधिकतर स्तन के पीछे की तरफ हाथ के नीचे यानी अंडरआर्म्स में पाई जाती है|  यह गांठ महिला और पुरुषों दोनों में हो सकती है लेकिन महिलाओं में ऐसी गांठ को स्तन में कैंसर से जोड़कर देखा जाता है| कांख की गांठ मैं दर्द और सूजन भी हो सकता है|  बगल में गांठ होना अधिकतर मामलों में लसीका ग्रंथि यानी lymph node  मैं सूजन से हो सकता है| लसीका ग्रंथि किसी इंफेक्शन से लड़ने के लिए बड़ी हो जाती है और आपको बगल में या कांख में गांठ होने का एहसास होता है| यदि बगल की गांठ में दर्द हो और वो बहुत समय से दूर न हो रही रही हो तो ऐसी बगल की गांठ कैंसर के कारण भी हो सकती है|

underarm ganth dard cancer

लेकिन बगल में बनने वाली यह गांठ हमेशा कैंसर ही नहीं होती यह इंफेक्शन के कारण भी हो सकती है या पसीने की ग्रंथि में सूजन के कारण भी| यदि आपको बगल में गांठ की समस्या है और kankh की गांठ सामान्य है तो आप है घरेलू उपाय अपनाकर बगल में गांठ होना का इलाज आसानी से कर सकते हैं| बगल में या कांख में गांठ होने की स्थिति में आपको घरेलू इलाज से फायदा होगा और कोई नुकसान भी नहीं होगा|  यदि गांठ में बहुत तेज दर्द है और गांठ लंबे समय से वही बनी हुई है तब आपको डॉक्टर के पास जाकर जांच और इलाज करवाना चाहिए हो सकता है यह कैंसर की गांठ हो|

बगल में गांठ क्यों होती है | कांख में दर्द वाली गांठ होने के कारण (reasons)

महिला या पुरुष के बगल में गांठ क्यों होती है कांख में गांठ या lump  कैसे बनती है के पीछे कई कारण हो सकते हैं| बगल में दर्द वाली गांठ होने का सबसे मुख्य कारण होता है में बगल में पाई जाने वाली लसिका ग्रंथियों मैं सूजन| इसके अलावा underarms में गांठ बनने का करण बगल या कांख में बैक्टीरिया या वायरस से होने वाली इन्फेक्शन भी हो सकती है|

loading...

एड्स या हरपीज वायरस के शिकार होने पर भी ऐसा हो सकता है|

स्तन या ब्रेस्ट में कैंसर होने पर भी बगल में गांठ या उभार होना देखा जाता है|

Loading...

इसके इलावा कांख में गांठ और भी कई कारणों से हो सकती है जैसे fat की गांठ बगल में बनना, या पसीने की ग्रंथि में इंफेक्शन होने से फोड़ा बनना ऐसा फोड़ा त्वचा के अनादर या बहार यानि दोनों तरफ हो सकता है|

इसलिए महिला या पुरुष किसी के भी बगल में यदि गांठ है और उसमें तेज दर्द या सूजन है और घरेलू उपचार और उपाय काम नहीं कर रहे तो तुरंत डॉक्टर से जांच और इलाज करवाने के लिए जाना चाहिए|  यहाँ बताये गए कारणों के इलावा और भी बहुत सारे कारण हो सकते हैं जोकि डॉक्टर की जांच के बाद ही आपको पता चल सकेंगे|

बगल में गांठ होने के कौन से लक्षण होते हैं जब डॉक्टर से मिलना जरूरी होता है?

आपको डॉक्टर से जांच और इलाज करवाना तब बहुत जरूरी हो जाता है जब आपको गांठ के निम्न लक्षण दिखाई दे|

बगल में गांठ लंबे समय से बनी हुई है

गांड में बहुत तेज दर्द सूजन की शिकायत है

हाथ लगाने पर गांठ में तेज दर्द होता है

गांठ के कारण हाथ और छाती में दर्द महसूस होना

हाथ बिल्कुल नहीं हिला पाना

गांठ से खून या पस बहना

इनमें से यदि आपको बगल में गांठ होने की कोई भी लक्षण है तो डॉक्टर के पास इलाज के लिए चले जाना चाहिए| बगल में दर्द युक्त गांठ होना कैंसर के कारण भी हो सकती है और इन्फेक्शन के कारण भी| इसलिए जरूरी नहीं कि यह कैंसर के कारण ही हो| यदि आपका गांठ का कारण कैंसर है तो समय पर उसका इलाज करवा लेना चाहिए ताकि बाद में कोई परेशानी ना हो|

बगल में गांठ का इलाज और उपचार | कांख की गांठ के इलाज के लिए घरेलु नुस्खे | underarm lump treatment in Hindi

यदि बगल में होने वाली गांठ कैंसर के कारण नहीं है और कांख की गांठ होने का कारण इंफेक्शन या लसीका ग्रंथि की सूजन है तो आप कुछ घरेलू उपाय और उपचार अपनाकर अपनी बगल की गांठ के दर्द सूजन और दूसरे लक्षणों से निजात पा सकते हैं|  कुछ armpit की गांठ को दूर करने के नुस्खे नीचे दिए जा रहे हैं|

गर्म पानी से सेक करने से कम होती है दर्द और सूजन

शरीर में या बगल में गांठ होने पर आप दर्द और सूजन से छुटकारा पाने के लिए गर्म पानी में तौलिये को डुबोकर पानी को निचोड़कर, उस गर्म तोलिए को अपनी बगल के ऊपर कुछ मिनट्स के लिए लगा कर रखें| यह गांठ की सूजन और दर्द को खत्म करने का एक पुराना घरेलू रामबाण उपचार है जो कि सदियों से चला आ रहा है|  गर्म सेक आपको दिन में दो-तीन बार करना है|  हम उम्मीद करते हैं कि इससे आपको दर्द सूजन से राहत मिलेगी|

बगल की मालिश करने से दूर होती है गांठ | malish se ganth ka ilaj

कांख की गांठ का इलाज आप जैतून के तेल या नारियल के तेल से बगल की मालिश करके भी कर सकते हैं| इसके लिए थोड़ी मात्रा में तेल लेकर अपने बगल की हल्के हाथों से मसाज करें |ऐसा आपको दिन में दो बार करना है | मालिश करने से आप के बगल में खून का दौरा बेहतर बनेगा जिससे सूजन की समस्या कम होगी | इसलिए दिन में दो बार मालिश करना बगल की गांठ में होने वाला दर्द और सूजन को घटाने का एक अच्छा घरेलू उपाय माना जाता है|

underarm की गांठ का इलाज है विटामिन ई

विटामिन ई की कमी आपके शरीर और त्वचा संबंधी कई रोगों के लिए जिम्मेदार होती है| विटामिन ई में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो की सूजन को कम करने में मदद करते हैं| इसलिए यदि आपके बगल की गांठ में सूजन है तो आपको डॉक्टर से पूछकर कुछ दिन विटामिन ई की सही खुराक लेनी चाहिए|  इससे आप की बगल की गांठ जल्दी ठीक हो जाएगी|  इसके अलावा आप को जितना हो सके हल्का-फुल्का और पोषण युक्त भोजन ही करना है जिससे आपके शरीर को ठीक  होने में मदद मिलेगी|

बगल की गांठ दूर करता है तरबूज

तरबूज के रस में एंटीऑक्सीडेंट गुण और खून को साफ करने वाले गुण पाए जाते हैं| यह गुण इन्फेक्शन करने वाले बैक्टीरिया को शरीर से बहार करने में मदद करते हैं इसके इलावा आपके शरीर की भी सफाई करते हैं| शायद यही कारण है कि शरीर में कही भी गांठ होने पर तरबूज का रस पीने की सलाह दी जाती है|

हल्दी से बगल की गांठ का इलाज | turmeric for armpit lump cure

आप सभी जानते हैं कि हल्दी में एंटीसेप्टिक, सूजन दूर करने वाले और दर्द निवारक गुण पाए जाते हैं| आप हल्दी के दूध को पीकर यह गुण पा सकते हैं और अपनी कांख की गांठ की समस्या को ठीक कर सकते हैं| हल्दी की पानी के साथ पेस्ट बनाकर गांठ के ऊपर लगाने से भी बगल की गांठ से और इंफेक्शन से जल्दी छुटकारा मिलता है|  हल्दी वाला दूध पीने से आपको और भी कई सारे स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं| इसी लिए इस दूध को गोल्डन potion यानि सुनहरा अमृत भी कहा जाता है|

जयफल शहद से कांख की गांठ हटाना | Nutmeg for ganth

जयफल से underarm  में होने वाली गांठ हटाने का एक घरेलू रामबाण तरीका यह है कि आप आधे चम्मच जयफल का पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाएं| इस मिश्रण को एक कप हल्के गर्म पानी में घोलकर पी जायें| यह मिश्रण आपको दिन में 1 बार पीना है| जयफल में inflammation घटाने वाले और इंफेक्शन से लड़ने वाले गुण पाए जाते हैं | इसके अलावा जयफल में दर्द निवारक गुण भी होते हैं| इस घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल करके आप अपनी बगल की गांठ का आसानी से इलाज कर सकते हैं वह भी बिना किसी दवाइयां मेडिसिन के|

प्याज भी करता है गांठ को दूर | onion se lump khatam karna

प्याज में एंटी माइक्रोबियल और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं जो कि इन्फेक्शन से लड़ने में की मदद करते हैं| प्याज का रस पीने से या प्याज खाने से आप यह गुण प्राप्त कर सकते हैं| इसके इलावा प्याज के रस में शहद मिलाकर और कुछ बूंदे नींबू का रस मिलाकर गांठ वाली जगह पर लगाने से गांठ के लक्षण जैसे दर्द और सूजन में राहत मिलती है| आप प्याज के नुस्खे को अपनाकर देखिए आपको फायदा अवश्य मिलेगा|

नींबू का रस करता है कांख में गांठ का इलाज

कांख में गांठ होने की समस्या से मुक्ति आपको रोजाना सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से भी मिल सकती है| नींबू में एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो कि दर्द और सूजन को कम करते हैं साथ ही नींबू के एंटीबैक्टीरियल गुण आपके शरीर को इंफेक्शन से बचने में मदद करते हैं| नींबू पानी रोजाना सुबह पीने से आपको बहुत सारे फायदे मिलते हैं जैसे खून साफ होना, रंग रूप में निखार आना और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होना आदि|

चारकोल और अलसी के पाउडर से बगल की गांठ का इलाज

आप बाजार से एक्टिवेटेड चारकोल ला सकते हैं जो कि आपको पाउडर के रूप में आसानी से मिल सकता है|  इसके इलावा आपको अलसी के बीजों का पाउडर बनाना है | अब एक्टिवेटेड चारकोल और अलसी के बीज के पाउडर को समान मात्रा में मिला लेना है अब इतना पानी डालना है कि आपको मोटी पेस्ट प्राप्त हो जाए| इस पेस्ट को टिशू पेपर में लपेट कर अपने बगल की गांठ के ऊपर 10 से 15 मिनट तक लगाकर रखना है| ऐसा दिन में दो बार कीजिए इससे बहुत तेजी से आपको गांठ के कारण होने वाली दर्द और सूजन से राहत मिलेगी|

बगल की गांठ हटाने का यह घरेलू नुस्खा दर्द और सूजन को खत्म करने के लिए बहुत तेजी से काम करता है | इसका दूसरा फायदा यह है की यह नुस्खा आपकी  त्वचा से हानिकारक और विषैले तत्व भी खींच लेता है साथ ही इन्फेक्शन को खत्म करता है|  यह नुस्खा अपनाकर आप दो-तीन दिन में अपनी कांख की गांठ की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं|

लहसुन से गांठ का इलाज कैसे करते हैं

लहसुन में कीटाणु मारने वाले, दर्द निवारक और सूजन कम करने वाले गुण पाए जाते हैं| यदि आप की बगल में गांठ लसिका ग्रंथि के सूजन या इंफेक्शन के कारण हुई है तो रोजाना सुबह खाली पेट 2-3 पालिया लहसुन की खाकर अपनी कांख की गांठ की शिकायत को आप दूर कर सकते हैं| इसके इलावा लहसुन का इस्तेमाल चटनी के रुप में भी आप कर सकते हैं| या लहसुन का नुस्खा आपके शरीर को कई प्रकार की बीमारियों से बचने में भी मदद करेगा और आपके शरीर में खून के दौरे को सही रखने में मदद करेगा|

ठंडा और गर्म सेक से मिलती है राहत

 

यदि आप की बगल की गांठ में तेज दर्द सूजन की शिकायत सामान्य से अधिक है तो आप कुछ देर बगल पर एक कपड़े को गर्म पानी में भिगोकर रखिए और 2 मिनट बाद ठंडे पानी से भीगा हुआ कपड़ा बगल पर रखिए| यह दोनों उपाय एक साथ करने से आपकी दर्द और सूजन कम होगी और आप बगल में खून का दौरा सही होगा जिससे गांड को जल्दी ठीक होने में मदद मिलेगी|

सेब का सिरका (एप्पल साइडर विनेगर) से लीजिए मदद

सेब के सिरके में दर्द और सूजन घटाने वाले गुण पाए जाते हैं इसके अलावा इसके एंटीसेप्टिक गुण इंफेक्शन के कारण बनने वाली गांठ के इलाज में मदद करते हैं| सेब के सिरके में थोड़ा सा पानी मिलाकर रुई की सहायता से गांठ वाली जगह पर लगाएं| ऐसा दिन में दो बार करें इसके अलावा सुबह उठते ही पानी में एक या दो चम्मच सेब का सिरका घोल कर पी लीजिए इससे आपके शरीर को अंदरूनी सुरक्षा प्राप्त होगी|

यह हमेशा याद रखिए कि हर बगल की गांठ या स्तन के अंदर या आसपास होने वाली गांठ कैंसर नहीं होती| यह हारमोंस के बदलाव के कारण भी हो सकती है| यदि बगल में गांठ का इलाज करने वाले घरेलू तरीके और उपचार के उपाय 1 हफ्ते तक आपको आराम ना दें तब आपको डॉक्टर से मिल लेना चाहिए|

अंडर आर्म्स यह बगल की गांठ से बचाव के तरीके और उपाय | prevention tips

यहां हम आपको कुछ तरीके बताने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल करके आप बगल में बार-बार गांठ होने की समस्या को खत्म कर सकते हैं|

अपनी साफ सफाई का विशेष रुप से ध्यान रखिए खासकर अपनी बगलों का क्योंकि बगलों में पसीना अधिक आता है इसलिए बाहर से आने के बाद और सुबह शाम बगलों को धोकर और सुखा कर रखिए| यदि आपको बार बार इन्फेक्शन होने की शिकायत है तो आप एंटीबैक्टीरियल पाउडर भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

ज्यादा तैलीय और मिर्च मसालेदार खाने से परहेज रखिए क्योंकि ऐसे खाद्य पदार्थ खाने से आपको पसीना अधिक आता है और पसीना अधिक होने से बगलों में इंफेक्शन होने का खतरा उतना ही अधिक बढ़ जाता है\ जिससे की गाँठ की समस्या अधिक होती है|

अधिक चाय कॉफी पीने से परहेज करिए यदि आप का चाय कॉफी पीने का मन करता है तो उसके स्थान पर आप ग्रीन टी पी सकते हैं| आपको शराब और सोडा तो बिल्कुल भी नहीं पीना है|

हार्मोन लेवल को सही रखने के लिए तथा खून को और शरीर को साफ रखने के लिए रोजाना अधिक से अधिक पानी पीना की कोशिश करें | ऐसा करने से आपकी त्वचा स्वस्थ रहेगी और त्वचा संबंधी रोग आपको कम होने की संभावना रहेगी|

दूसरों की प्राइवेट चीज़ें इस्तेमाल करना सही नहीं होता इससे इन्फेक्शन फैलती है इसलिए दूसरों का तौलिया, कपड़े आदि चीजें इस्तेमाल करने से परहेज करें|

यदि आप के बगल में बार-बार गांठ होती है तो डॉक्टर से पूछकर अच्छा एंटीबैक्टीरियल साबुन इस्तेमाल करें|

यदि बगल में कोई फुंसी होती है तो उसे नाखूनों से उखाड़ने की कोशिश कभी मत करें इससे इन्फेक्शन बढ़ सकती है और गांठ बनने का खतरा हो सकता है|

बगल पर तेज परफ्यूम का इस्तेमाल ना करें साथ ही  डियोड्रेंट को भी आप कपड़ों पर ही लगाएं सीधे बंगलों की त्वचा पर नहीं| deo और परफ्यूम से त्वचा पर इरिटेशन हो सकता है इसके फलस्वरुप गांठ की परेशानी आ सकती है|

कांख में गांठ होना के दौरान बगल के बाल शेव करने की भूल कभी मत करें|

बगल की गांठ के इलाज के लिए दवा या मेडिसिन

यदि आपकी बगल की गांठ एक हफ्ते तक सही नहीं होती तब आपको डॉक्टर से इलाज लेना चाहिए शुरुआत में इन्फेक्शन होने पर डॉक्टर आपको एंटीबायोटिक दवा या मेडिसिन देगा | यदि इन्फेक्शन नहीं है और सूजन और दर्द है तो इसके लिए डॉक्टर आपको दर्द निवारक और सुन्न करने वाली क्रीम भी दे सकता है| यदि इस इलाज के बाद भी गांठ सही नहीं होती तो डॉक्टर उसके लिए सर्जरी या दूसरे इलाज के उपाय करवाने की भी सलाह दे सकता है|

बगल की गांठ कब खतरनाक हो सकती है

जैसा की हमने बताया कि की गांठ होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं लेकिन आपको गांठ का सही तरह से ख्याल रखना है और थोड़ी जागरूकता दिखानी है| गाँठ चाहे छोटे कारण से हुई हो या बड़े कारण से डॉक्टर को एक बार दिखा लेने में कोई हर्ज नहीं होता क्योंकि कोई नहीं जानता कि कब साधारण सी दिखने वाली गांठ कैंसर का रूप ले ले | यदि आपको बहुत ज्यादा सूजन और दर्द रहा है तो डॉक्टर के पास जाइए और जरूरी जांच करवाइए|

यदि आपको कोई गंभीर लक्षण नजर नहीं आ रहे और आप की बगल की गांठ की समस्या दर्दनाक नहीं है तो आप ऊपर दिए गए घरेलू उपाय अपनाकर अपनी का गाँठ को जल्दी से जल्दी सही कर सकते हैं|

तो दोस्तों यह था बगल के अंदर गांठ होना और उसे दूर करने के लिए इलाज दवा और मेडिसिन के बारे में हिंदी जानकारी| यदि आपको कोई और जानकारी चाहिए  या इसके इलावा आप किसी और समस्या से पीड़ित है तो हमसे जरुर शेयर कीजिए शायद हम आपकी कुछ मदद कर सकें|

Check Out Our Brand New English Website

kitchenhomeremedies.com

loading...
Loading...

LEAVE A REPLY