एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट positive आने का कारण | एबॉर्शन में कितने दिन लगते हैं? टेस्ट रिजल्ट कब सही आता है?

0

Positive pregnancy test after taking abortion pill in Hindi. आमतौर पर आपको एबॉर्शन इसलिए करना पड़ता है क्योंकि आप प्रेगनेंसी नहीं रखना चाहते या फिर किसी मेडिकल समस्या के चलते आपको ऐसा करना पड़ता है| अकसर लोग मेडिकल शॉप से एबॉर्शन करने की दवा, गोली या kit खरीद कर घर पर एबॉर्शन करना बेहतर समझते हैं ताकि उन्हें डॉक्टर के सामने न जाना पड़े या किसी और को इसके बारे में पता ना चले| ऐसे में अक्सर एबॉर्शन होने के बाद उनको कई नुक्सान या साइड effects हो सकते हैं जैसे ज्यादा ब्लीडिंग होना, तेज पेट दर्द आदि| इसके साथ एबॉर्शन हुआ या नहीं हुआ पता करने का कोई घरेलु तरीका नहीं होता जिससे पता चल सके की एबॉर्शन पूरी तरह से हुआ या नहीं हुआ|

positive abortion test after abortion in hindi

बात तब एबॉर्शन करने वाले लोगों की समझ से बहार हो जाती है जब आपको एबॉर्शन होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट में पॉजिटिव रिजल्ट देखने को मिले| एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने का मुख्या कारण हम आपको बताएँगे साथ ही आप ये भी जानेंगे की एबॉर्शन यानी गर्भपात होने में कितने दिन लगते हैं यानी यदि आप एबॉर्शन की kit use या इस्तेम्माल करते हैं तो गर्भपात यानि एबॉर्शन की प्रक्रिया पूर्ण होने में कितने दिन या हफ्ते लगते हैं| चलिए जानते हैं की abortion ke baad pregnancy test positive aane ka karan kya hai aur kaise jaane ki garbhpat poora hua ya nahi hindi me.

मेडिकल एबॉर्शन यानि गोली या pill द्वारा एबॉर्शन कितना सुरक्षित है | कब सफल माना जाता है एबॉर्शन | एबॉर्शन सफल होने के chances कितने होते हैं

Abortion ka tesult positive kyu aata hai hindi me जानने से पहले ये जान लीजिये की कितनी सेफ है मेडिकल एबॉर्शन यानि गोली द्वारा होने वाला गर्भपात.

loading...

गर्भपात की गोली द्वारा एबॉर्शन तब sucessful यानी सफल माना जाता है जब प्रेगनेंसी का विकास होना बंद हो जाए और आपको किसी प्रकार की मेडिकल सहायता की जरुरत न पड़े| रिसर्च में पाया गया है की जो औरतें प्रेगनेंसी के पहले 9 हफ़्तों में pill द्वारा एबॉर्शन करती हैं उन्हें एबॉर्शन में 99.5 % सफलता मिलती है| 3 परसेंट औरतों को किसी न किसी प्रकार की मेडिकल help की जरुरत पड़ती है बाकी  97 परसेंट महिलाओं का गर्भपात सामान्य रूप से हो जाता है| कुल मिलाकर जो महिलाएं जितनी जल्दी एबॉर्शन करवाती हैं या करती हैं उनका एबॉर्शन उतना ही सफल रहता है|

एबॉर्शन होने में कितना समय या दिन लगते हैं पूरा होने में? | abortion kitne days me ho jata hai?

गोली द्वारा गर्भपात जब आप करते हैं तब गर्भाशय को पूरी तरह से खाली या साफ़ होने में कुछ समय लगता है और इस दौरान आपको ब्लीडिंग या खून के साथ थक्के आना होता रहता है| एबॉर्शन कितने समय में पूर्ण होगा ये कई बातों पर निर्भर करता है और हर मिहला का शरीर अलग अलग होता है इसलिए औसतन एबॉर्शन पूरा होने में एक से तीन हफ़्तों का समय लग सकता है|

एबॉर्शन में कब आपको डॉक्टर से मिलना जरुरी होता है?

वैसे हमारी राय से आपको हमेशा एबॉर्शन डॉक्टर की देख रेख में ही करवाना चाहिए लेकिन यदि आपने किसी कारण से घर में गर्भपात कर लिया है तो यदि आपको बहुत तेज दर्द, लगातार heavy ब्लीडिंग यानी बहुत ज्यादा खून बहना, बुखार या असामान्य discharge हो रहा हो तो तुरत डॉक्टर से इलाज आपको लेना चाहिए ऐसा ना करने पर जान भी जा सकती है|

READ  mtp kit कैसे use करें, लेने का तरीका – एमटीपी किट के नुकसान क्या होते हैं?

इसके अलावा यदि आपको वहम हो की एबॉर्शन नहीं हुआ है तो आपको डॉक्टर के पास अल्ट्रासाउंड करवाने जाना चाहिए ताकि ये सुनिश्चित हो सके की क्या आपका एबॉर्शन सफल हुआ है या नहीं|

एबॉर्शन हुआ या नहीं कैसे पता करें या जाने का तरीका है अल्ट्रासाउंड या खून की जांच | एबॉर्शन के कितने दिन बाद अल्ट्रा साउंड करवाना चाहिए?

यदि आपने घर में एबॉर्शन kit से एबॉर्शन किया है तो आपको kit इस्तेमाल करने के लगभग 10 दिन बाद अल्ट्रासाउंड करवाकर check कर लेना चाहिए की आपकी रिपोर्ट कैसी है| इसके अलावा आप खून की आंच करवाकर भी अपने शरीर में HCG यानि प्रेगनेंसी hormones के लेवल की जांच करवाकर पता कर सकते हैं की प्रेगनेंसी है या एबॉर्शन सफलतापूर्वक हो गया है|

एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट आने का कारण | garbhpat ki goli lene ke baad abortion na hona reason | abortion hone ke baad pregnancy test prositve kyu aata hai ?

Abortion ki goli या एबॉर्शन kit का इस्तेमाल करके एबॉर्शन करवाने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने का सीधा मतलब होता है की आपने प्रेगनेंसी टेस्ट या जांच समय से पहले कर ली है|

positive pregnancy test after abortion in hindi. यदि एबॉर्शन किट इस्तेमाल करने के बाद या आपको लगे कि एबॉर्शन ब्लीडिंग बंद हो गई है तो अब प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं और यदि आप प्रेगनेंसी टेस्ट 3 हफ्ते से पहले कर लेते हैं तो इस स्थिति में आपको रिजल्ट पॉजिटिव मिल सकता है| इसका कारण होता है एबॉर्शन होने के बाद भी आपके शरीर में पाए जाने वाले प्रेग्नेंसी हार्मोन| आमतौर पर ऐसा देखा गया है कि अबॉर्शन किट इस्तेमाल करने के बाद यदि आप 2 हफ्ते के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट kit इस्तेमाल करते हैं तो आपका प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने की पूरी संभावना होती हे चाहे आप pregnant हो या ना हो| एबॉर्शन सफल हुआ या नहीं हुआ पता करने के लिए आप प्रेगनेंसी टेस्ट तीन से चार हफ्ते रुक कर करें| यदि फिर भी आपके दिल में कोई वहम हो तो आप डॉक्टर से अल्ट्रासाउंड या खून की जांच करवा कर प्रेगनेंसी का पता करें|

READ  गर्भपात (एबॉर्शन) के बाद कब तो होती है ब्लीडिंग – गर्भपात के बाद खून आना कब बंद होता है

कुल मिलाकर आपको घर में अबॉर्शन किट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए और हमेशा डॉक्टर की देखरेख में ही आपको गर्भपात करवाना चाहिए| प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने  की स्थिति में भी  आपको डॉक्टर से जांच करवानी चाहिए और सलाह लेनी चाहिए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...