जल्दी नींद लाने वाली गोली से हो सकते हैं ये गंभीर नुकसान साइड इफेक्ट्स

0

नींद ना आने की problem से जुडी जरुरी जानकारी

आजकल तेज दौड़ती जिन्दगी में जहाँ किसी को एक मिनट का भी आराम नहीं है के कारण नींद न आने की रोगी बढ़ते जा रहे हैं रही सही कसर मोबाइल इन्टरनेट और सोशल media ने पूरी कर दी है जिससे छोटे और बड़े सभी को नींद ना आने की बीमारी लगनी शुरू हो गयी है| मानसिक मानसिक तनाव, नशा करना, काम की चिंता, पढाई का तनाव, घरेलु कलेश, रिश्तों में तनाव आदि कई दुसरे कारण हैं जिनसे आपको नींद कम आने की बीमारी या रोग लग सकता है| जहाँ कुछ लोग जल्दी नींद आने के लिए घरेलु नुस्खे या उपाय अपनाते हैं वही दुसरे जल्दी नींद लाने की गोली या दावा खाने की गलती करते हैं जिससे वो जल्दी ही नींद की गोली के आदि बन जाते हैं|

neend ki goli ke nuksan

नींद जल्दी लाने की गोली के sedative और हिप्नोटिक गुण आपको जल्दी सोने में मदद जरुर करते हैं लेकिन इन sleeping पिल्स खाने के कई नुक्सान भी होते हैं और यदि किसी ने नींद की गोली अधिक खा ली है यानि ओवरडोज़ हो गयी है तो इससे कोमा या मौत होने जैसे दुष्परिणाम भी हो सकते हैं| तो चलिए जानते हैं जल्दी नींद लाने वाली गोलि के क्या नुक्सान और bad effects हैं|

नींद जल्दी लाने वाली गोली दावा medicine के नुकसान साइड effects क्या हो सकते हैं?

नींद की गोली लेने से आपको निम्न नुकसान हो सकते हैं

नींद आना बिलकुल बंद हो जाना
loading...

जब आपको नींद नहीं आती तो आपको परेशानी होती है इसलिए आप जल्दी से सोने वाली दवाई का इस्तेमाल करना शुरू कर देते हैं लेकिन आप कुछ ही दिनों में उसके आदि बन जाते हैं और धीरे धीरे जितनी dose आप लेते हैं उतनी dose असर नहीं करती और आप dose बढ़ाना शुरू कर देते हैं जिससे आपको जानलेवा खतरा तो रहता ही है साथ ही नींद की गोली की आदत पड़ने से आपको गोली लेने के बावजूद नींद आना बंद हो जाती है| कभी कभी कुछ लोग नींद लाने के लिए अधिक dose ले लेते हैं जिनकी नींद में ही मृत्यु होने की सम्भावना रहती है|

नींद में चलने की बीमारी होना

जब आप नींद की गोलियों के आदि हो जाते हैं तब sleeping पिल्स के रस्यनों से आपके दिमाग की केमिस्ट्री बदल जाती है और आपको नींद में चलने की बिमारी हो जाती है| कुछ लोग नींद में चलने की बीमारी होना के कारण दुर्घटना का शिकार भी हो जाते हैं जैसे नींद में छत से गिरना या नींद में सड़क पर निकलकर किसी दुर्घटना का शिकार हो जाना| ऐसे लोगों को नींद में चलने का एहसास नहीं होता और ऐसा आपने मूवीज में अक्सर देखा होगा|

हमेशा थकावट रहना शरीर भारी रहना

हमेशा हर समय ताकत रहना और ऐसा लगना की शरीर में जान ही नहीं हो भी नींद आने की टेबलेट लेने के लक्षण होते हैं| कभी कभी आलस में लोग ड्राइविंग करते हैं और उन्हें झपकी आने से दुर्घटना भी हो सकती है| कुछ लोगों को सिर घूमना, सिर का भारीपन, खड़े होने पर चक्कर आना जैसी शिकायतें भी होती हैं| ऐसे लक्षणों के चलते आप आपने काम काज पर ध्यान नहीं दे पाते और आपका जीवन भी बिगड़ने लगता है|

नींद आने की गोली डालती है नशे की लत

कुछ लोग नशे के रूप में इनका प्रयोग करते हैं और ऐसे में कई नुकसान हो सकते हैं जैसे ओवरडोज़ से बेहोशी, कोमा या मौत| कुछ लड़के इन गोलियों का सेवन नशे के लिए करके किसी दुर्घटना का शिकार हो जाते हैं या फिर अपना जीवन बर्बाद कर लेते हैं|

नींद आने की गोली देती है एसिडिटी को जन्म

sleeping पिल्स आपके आहार तंत्र को नुकसान पहुचती हैं जिससे आपको एसिडिटी की शिकायत रहने लगती है और जिसके कारण आ चाह कर भी अच्छी नींद नहीं ले पाते|

जल्दी नींद आने की दवा से हो सकती है जल्दी मौत या कैंसर

नींद लाने की लेते ही आपको गहरी नींद दे सकती हैं लेकिन रिसर्च में यह पाया गया है की ऐसी गोलियां आपकी उम्र को भी छोटा करती है इसलिए जरुरी नहीं लेवल ओवरडोज़ या अधिक गोलियां खाने से ही मौत हो क्योंकि लम्बे समय तक इन गोलियों का सेवन करने से आपके कम उम्र में मरने की सम्भावना बहुत अधिक हो जाती है| इसके अलावा नींद आने की दवा या medicine आपको कई प्रकार के कैंसर का शिकार होने की सम्भावना को भी कई गुणा बढ़ा देती है|

कमजोर होता है आपका दिमाग और याददाश्त

रिसर्च में पाया गया है की बड़ी उम्र के जोलोग नींद आने की दावा का 3 महीने लगातार सेवन करते हैं उनको दिमाग की बीमारी Alzheimer’s disease, होने की सम्भावना बहुत अधिक हो जाती है| कम उम्र के लोगों में ये medicine दिमाग को कमजोर बना देती है और भूलने की बीमारी लग जाती है|

दम घुटना और चेहरा सूज जाना

यदि आपकी नींद की गोली से एलर्जी हो जाए तो दम घुटना या चेहरे में बहुत अधिक सूजन आ जाना इसके कुछ लक्षण होते हैं ऐसे में डॉक्टर से तुरंत इलाज करवाना चाहिए|

शराब के साथ नींद की गोली हो सकती है घटक

नींद की गोली के बाद या पहले यदि आपने शराब भी है तो इसके परिणाम घातक या जानलेवा भी हो सकते हैं|

नींद की गोली की over dose होने पर क्या होता है

जल्दी नींद आने की गोली आपने डॉक्टर की बताई गयी dose से अधिक ले ली तो इससे कोमा, मौत भी हो सकती है| यदि आपका शरीर ओवरडोज़ को सेहन भी कर जाता है तो आपको साँस घुटना, पेट में दर्द, शरीर को न हिला पाना, बेहोश रहना जैसे लक्षण होते हैं जिका इलाज आपको जल्दी लेना होता है|

नींद की गोली की ओवरडोज़ कितनी होती है?

यह कहना बहुत मुश्कित है लेकिन किसी दवाई को अधिक मात्रा में ले लेना ओवरडोज़ ही होता है जिसके परिणाम घातक ही होते हैं|

नींद की गोली के साइड इफेक्ट्स दूर या ख़तम करने के लिए क्या करें?

यदि आपको उपरोत नींद की गोली से होने वाली नुकसान से बचना है तो आपको इन गोलियों से परहेज करना होगा जिसके लिए आप डॉक्टर की मदद ले सकते हैं| जब आप इन गोलियों की छोड़कर अच्छी नींद, सही दिनचर्या, सही खान पान आदि शुरू कर देंगे तो उपरोक्त प्रभाव ख़तम होने लगेंगे| नींद को बेहतर बनाने के लिए आप योग, ध्यान, घरेलु उपाय, aromatherapy जैसे उपाय कर सकते हैं \

आपको नींद की गोली एक दम से नहीं छोड़ी होती और उसके लिए आपका डॉक्टर धीरे धीरे dose कम करता जाता है और यदि आप नियमित एक्सरसाइज, healthy डाइट और अच्छी जीवनशैली अपनाते हैं तो आपको फिर से नींद सही ढंग से आने लगती है और आपको जल्दी नींद आने वाली दवाइयों से होने वाले नुकसान भी नहीं होते|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक


 

loading...