नीम के पत्तों से शुगर का इलाज

0

जैसा की आप जानते हैं की नीम भारत में पाया जाने वाला एक औषधीय पौधा है जिसे कई प्रकार के रोगों का इलाज करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है| आज हम यहाँ नीम के पत्तों से शुगर यानि की diabetes के इलाज के बारे में जानानेगे| यदि आपको भी high शुगर की समस्या है तो आपके लिए यह लेख काफी फायदेमंद साबित हो सकता है| जी हाँ यह सच है की नीम में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो की खून में बढ़ी हुई blood शुगर के स्तर को कम करने में सक्षम होते हैं| बस आपको अपने खान पान का ध्यान रखना है और रोजाना कसरत के लिए जाना है साथ ही शराब और मीठा खाने से परहेज करना है और स्वस्थ जीवन जीने की कोशिश करनी है|

neem diabetes

शुगर में नीम के क्या फायदे हैं | Benefits of Neem Leaves For Diabetes

जैसा की पहले ही हमने आपको बता दिया है की नीम के पत्तों में कुछ विशेष प्रकार के यौगिक पाए जाते हैं जिनके कारण खून में शुगर का लेवल कम होता है जिसके फलसवरूप आपका शुगर लेवल कण्ट्रोल में रहता है| बस आपको नीम के पत्तों की बनी चाय या काढ़े का सेवन दिन में दो बार करना है| लेकिन ध्यान रहे की आपको अपनी शुगर की दवाई नियमित लेनी है जब तक आपकी शुगर नार्मल न रहने लगे उसके बाद डॉक्टर से पूछ कर ही दवाई कम या बंद करनी है|

loading...

शुगर के इलाज के अलावा नीम का सेवन करने के कई और फायदे हैं जैसे :-

See also  टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन की कमी के कारण और लक्षण – कितना होना चाहिए टेस्टोस्टेरोन का लेवल?

नीम के एंटीऑक्सीडेंट आपको कई प्रकार के cancers से बचाते हैं|

नीम के एंटी इंफ्लेमेटरी गुण आपके शरीर में inflammation को कम करते हैं|

इसके खून साफ़ करने वाले गुण आपके blood को दूषित होने से बचाते हैं|

इसके एंटीबायोटिक गुण आपको त्वचा और शरीर सम्बन्धी बिमारियों से सुरक्षा प्रदान करते हैं|

नीम में बुखार कम करने वाले गुण भी मौजूद होते हैं|

नीम शरीर में खून के दौरे को बेहतर बनाने में मदद करती है जिसके परिणाम सवरूप आपको दिल सम्बन्धी रोग नहीं हो पाते|

नीम के एंटीबैक्टीरियल गुण आपको त्वचा के बहार और शरीर के अन्दर होने वाले संकर्मन से बचाते हैं|

नियामत नीम का सेवन आपको पेट सम्बन्धी रोगों से बचने में मदद करता है|

शुगर के इलाज में नीम के प्रयोग की विधि | शुगर कम करने के लिए नीम का इस्तेमाल कैसे करे

आपको नीम की पत्तीओं को धोकर निम्न विधि द्वारा उपयोग में लाना है|

नीम के पत्तों की चाय

इसमें आपको एक मुठी नीम के पत्तों को २ गिलास पानी में तब तक उबालना होगा जब तक पानी आधा यानि एक गिलास न रह जाए| इस नीम के काढ़े या चाय को दिन में दो बार पीना है|

इसके अलावा आप नीम कैप्सूल का भी प्रयोग कर सकते हैं|

कृप्या ध्यान रखें:-

जब आप नीम से शुगर कम कर रहे होते हैं और साथ ही diabetes की दावा ले रहे हो तो अपना शुगर लेवल नियमित रूप से check करवाते रहे क्योंकि नीम और दवाई का एक साथ प्रयोग आपके शुगर को बहुत ज्यादा कम कर सकता है|

See also  kamar me chanak, chuk, chinak , chanka padna – kamar ki chanak nikalne ke upay aur ilaj

प्रेगनेंसी में या स्तन पान के दौरान नीम का सेवन वर्जित है| प्रेगनेंसी में नीम गर्भपात करवा सकता है|

नीम से शुक्राणु पर बुरा प्रभाव पड़ता है इसलिए नीम का प्रयोग तब न करें जब आप बच्चे के लिए प्लानिंग कर रहे हों|

 

नीम के शुगर कम करने में और आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत से फायदे हैं बस आपको पता होना चाहिए की इस औषधीय पौधा का इस्तेमाल किस प्रकार से करना है| यदि आपका शुगर लेवल सामान्य से बहुत अधिक रहता है तो अपनी दवाई के साथ आप नीम के पत्तों का सेवन कर सकते हैं या फिर अपने डॉक्टर की सलाह के अनुसार आवश्यक निर्णय ले सकते हैं|

लोगों की इतनी help की लेकिन हमारी नयी वेबसाइट like नहीं की अभी तक 😥

loading...