सबसे अच्छे प्राकर्तिक दर्द निवारक – दर्द की गोली से पायें छुटकारा

0

आजकल ख़राब जीवनशैली और ख़राब मुद्रा (posture) और जरुरत से ज्यादा काम के कारण हमारा सामना दर्द से होता रहता है चाहे वो माइग्रेन का सर दर्द हो या ज्यादा देर sitting के कारण कुल्हे या कमर दर्द| इनके अलावा गर्दन, हाथ, टांगो, किसी माँसपेशी में pain, arthritis, gout और दुसरे कई प्रकार के दर्द होते हैं जिनके कारण रोगियों को रोजाना दर्द की गोली यानि pain killers लेनी पड़ती हैं| कुछ दर्द इतने भयंकर और तेज होते हैं की सबसे अच्छी दर्द की गोली भी उसे ख़तम करने में फ़ैल हो जाती है| ऐसे में आपको चाहिए की आप नेचुरल pain killers यानि प्राकर्तिक दर्द निवारक का इस्तेमाल करें|

dard nivarak

ज्यादातर दर्द inflammation यानि सोज के कारण होते हैं| जब भी किसी को दर्द होता है तो सबसे पहले वो NSAID यानि non steroidal anti inflammatory drug लेने की कोशिश करता है| हम मानते हैं की ऐसी गोलियां आपको कुछ देर तक आराम दिला सकती हैं लेकिन इन्हें लम्बे समय तक लेने से बहुत से side effects हो सकते हैं जैसे acidity, पेट के ulcers, stomach में खून बहना, किडनी की क्षति, और यहाँ तक की heart attack भी इन गोलियों के दुष्परिणाम हो सकते हैं| हम कतय नहीं चाहेंगे की आपको ये सब side effects झेलने पड़े| और इसीलिए हमने आपके लिए यह लेख लिखा है ताकि आप उन नेचुरल pain killiers के बारे में जाने जो की आपके दर्द का अंत तुरंत करने में सक्षम हो सकते हैं|

Natural pain killers – जिनका आप सेवन कर सकते हैं

यहाँ वो जड़ी बूटियाँ और घरेलु पदार्थों का संकलन है जो की आप अपने मुख के द्वारा ग्रहण कर सकते हैं|

loading...

हल्दी (turmeric)

हल्दी लगभग हर घर में पाई जाती हैं| इसमें curcumin नाम का कंपाउंड पाया जाता है जो की सोज और दर्द पैदा करने वाले प्रोटीन को ब्लाक करता है| यह योगिक शरीर में पीड़ा से लड़ने वाली शक्ति को भी बढ़ाने में मदद करता है| यह पुरानी से पुरानी पीड़ा को ख़तम करने की क्षमता रखता है| गठिया के लोगों के लिए हल्दी विशेष रूप से उपयोगी होती है| आप रोजाना दूध के साथ हल्दी का सेवन कर सकते हैं| इसी प्रकार खाना बनाते समय भी इसका उपयोग कर सकते हैं|

Omega-3 Essential Fatty Acids

जब बात प्राकर्तिक तरीके से पीड़ा को कम करने की आती है तो दर्द निवारकों की लिस्ट में Omega-3 Essential Fatty Acids का नाम शीर्ष पर आता हैं| हमारा शरीर Omega-3 Essential Fatty Acids को pain और inflammation घटने वाले compounds में तोड़ देता है| इसीलिए यदि आपको लम्बे समय से दर्द हो रही है तो आपको इन ओमेगा एसिड्स को supplements के रूप में लेने से काफी फ़ायदा होगा| अखरोट, अलसी के बीज, कुछ मछलियाँ जैसे salmon और mackerel में ये ओमेगा एसिड्स अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं|

Ginger (अदरक)

अदरक तो भारत के हर घर में उपयोग होने वाली spice हैं| अदरक में दर्द और inflammation को हरने वाले enzymes पाए जाते हैं| आपको प्रतिदिन 2 ग्राम अदरक का सेवन करना होगा| इससे आपको काफी आराम मिलने लगेगा| आप इसे भोजन बनाते हुए या चटनी के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

Devils Claw

यह हर्ब दर्द घटने का एक बहुत ही पुराना south African नुस्खा है| आप इस herb को ऑनलाइन आर्डर करके मंगवा सकते हैं| यह हर्ब कमर के दर्द और गठिया के लिए बहुत ही फायदेमंद मानी जाती है| इसकी जड़ में एक केमिकल पाया जाता है जिसे iridoid glycosides कहते हैं| यह केमिकल बहुत ही असरदार दर्द और सोअज निवारक होते हैं| लेकिन devil claw का प्रोयग उनलोगों के लिए वर्जित है जो की stomach ulcers से पीड़ित हैं|

Olive Oil

जैतून के तेल यानि olive oil में दर्द और inflammation के लिए प्रयुक्त होने वाली दवाइयों जैसे ही गुण पाए जाते हैं| इसका सेवन करने से आपको ibuprofen जैसे ही परिणाम मिलेंगे| भोजन बनाते समय इसका प्रयोग करें और दो चम्मच extra virgin olive oil के दिन में 2 बार ग्रहण करिए|

Tart Cherries

रिसर्च ने ये खोजा है की दिन में 20 cherries का सेवन आपको gout और arthritis सम्बन्धी दर्द और सूजन से छुटकारा दिलवा सकता है| in cherries में विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो की आपकी सेहत को भी सुधारते हैं|

Natural  pain killers – Topical use- जो बाहरी तरफ से आपको दर्द से निजात दिलवाते हैं

यहाँ उन दर्द निवारक पदार्थों के बारे में आप जानेंगे जिनका उपयोग बाहरी रूप से होता है जैसे त्वचा पर लगाने में, नहाने में आदि!

Epsom Salt

इस नामक को हजारों सालों से नहाने और त्वचा सम्बन्धी रोगों को ठीक करने में प्रयुक्त किया जा रहा है| यह साल्ट आसानी से त्वचा के अंदर समां जाता है और दर्द को हरने में मदद करता है| गर्म जल में इसे मिलाकर और दर्द वाले स्थान को इस पानी में कुछ देर डुबोकर रखने से दर्द का अंत तुरंत हो जाता है| वैसे ये नुस्खा fibromyalgia और osteoporosis सम्बंधित पीड़ा में विशेष रूप से उपयोगी माना जाता है|

Lavender Oil

इस आयल को armotherapy के रूप में उपयोग किया जाता है| इस तेल में दर्द को शांत करने वाली और एंटी inflammatory गुण होते हैं जो की माँसपेशी, जोड़ों और हड्डियों से सम्बंधित दर्द को ख़तम करने में सक्षम होते हैं|

Arnica

इस हर्ब का उपयोग दर्द और सुजन वाले स्थान पर किया जाता है| वैसे homeopathic दुकानों पर arnica की गोलियां भी उपलब हैं जिन्हें लेकर आप चोट, सुजन और गठिया के दर्द से आराम पा सकते हैं|

Capsaicin

लाल मिर्ची में पाई जाने वाली गर्मी और जलन उसमें पाए जाने वाले capsaicin नामक यौगिक की कारन होती है| लाल मिर्च का उपयोग भी musculoskeletal pain और  neuropathic pain में किया जाता है| यह पहले आपको जलन देगा लेकिन कुछ देर बाद दर्द और जलन शांत हो जाएगी और आपको मिलेगी पीड़ा से मुक्ति|

तो दोस्तों ये थे कुछ प्राकर्तिक दर्द निवारक जो की आपको दर्द की गोली से छुटकारा दिला सकते हैं वो भी बिना किसी side effects के| ऐसे ही कुछ दर्द निवारक गुण तुलसी, बिर्च की पत्ती, peppermint, cranberry juice, लौंग, pineapple आदि में भी पाए जाते हैं|

कृप्या ध्यान रखिये की ऊपर दी गयी कोई भी हर्ब या नुस्खा आजमाने से पहले अपने डॉक्टर की राय जरूर लेलें| हो सकता है की ऊपर दिया गया कोई नुस्का आपकी दवा के साथ reactionकर जाये और आपको किसी प्रकार का कोई नुकसान हो| इसलिए जब भी आप इन प्राकर्तिक दर्द निवारकों का इस्तेमाल करें तो आपको अपने डॉक्टर से उनके बारे में जरूर पूछना चाहिए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

LEAVE A REPLY