गर्भ में लड़का या लड़की होने के लक्षण – kaise jaane ladka hoga ki ladki

13

ये लेख उन लोगों के लिए तैयार किया गया है जो की गर्भावस्था को लेकर उत्साहित हैं तथा ये जानने के इच्छुक हैं की उनका होने वाला बच्चा लड़का है या लड़की यानि उन्हें संतान के रूप में बेटा मिलेगा या बेटी| जैसा की आप जानते हैं की हमारे भारत में मशीन या अल्ट्रा साउंड द्वारा बच्चे का लिंग पता करना वर्जित और एक दंडनीय अपराध माना जाता है| लेकिन हमारे पूर्वजों, दाई माँ और जानकार लोगों की माने तो आप कुछ घरेलु तरीके अपनाकर और गर्भावस्था में कुछ लक्षणों की पहचान करके खुद ही कुछ हद तक गर्भ में पल रहे शिशु के बारे में पता लगा सकते हैं की होने वाला शिशु लड़का है या लड़की|

boy or girl

अब आप पूछेंगे की यह कैसे संभव है तो आपको ये भी पता होगा की पहले के समय में दाई माँ गर्भवती महिला को सलाह देती थी और उनकी डिलीवरी भी करवाती थी| उस वक्त लक्षणों को देखा और समझा जाता था और इसी आधार पर  वो बच्चा होने से पहले ही बता सकती थी की गर्भ में बेटा है या बेटी| इसी प्रकार घर के बड़े सदस्य अपने परिवार में होने वाली संतान और उनकी माताओं पर नजर रखते थे और उन बड़े बुजुर्गों का ज्ञान हम इस्तेमाल करके यह पता कर सकते हैं की आने वाली संतान का लिंग क्या होगा|

हम ये भी आपको पहले ही बता देते हैं की गर्भ में बेटी है या बेटा केवल लक्षणों के आधार पर पता नहीं लगाया जा सकता ये तो केवल अनुमान लगाना है जरुरी नहीं आपका अनुमान सही हो और आप ये पूरी तरह से मान लें की होने वाला बच्चा केवल बेटा ही होगा या बेटी ही होगी| हम ये भी कहना चाहेंगे की आज के समय में लड़का और लड़की दोनों बराबर होते हैं बस सोच का अंतर हैं और ये भी ध्यान में रखना चाहिए की छोटा बच्चा भगवान्  का अवतार माना जाता है इसलिए आपके घर जो भी नन्हा मेहमान आये उससे पूरे दिल से सवीकार करें तो ही भगवान् की कृपा आप पर रहेगी|

आईये जानते हैं की वो कौनसे घरेलु नुस्खे और तरीके हैं जिनसे आप ये पता कर सकते हैं की गर्भ में बच्चा बॉय है या गर्ल|

Loading...

लड़का होगा या लड़की कैसे जाने | garbh me ladka ya ladki hone ke lakshan | लड़का होगा की लड़की कैसे पता करें

पेट का उभार किस और है

पुराने जानकार लोग कहते हैं की आप पेट की स्तिथि देखकर ये बता सकते हैं की गरब में लड़का है या लड़की| उनके अनुसार यदि पेट ऊपर की तरफ फूला हुआ है तो लड़की होने की सम्भावना है और यदि नीचे की और पेट का उभार है तो यह लड़का होने का संकेत होता है| जैसा की हमने आपको पहले बताया की ये केवल अनुमान है इसलिए इससे पूरी तरह से सही नहीं माना जा सकता|

पेट के आकार पर गौर कीजिये

गर्भ में लड़का या लड़की होने के ये दूसरा लक्षण है इस तरीके के अनुसार यदि गर्भवती महिला के पेट का आकर गोलाकार और बाहर की तरफ फूला हुआ है तो यह लड़की होने का लक्षण है वही यदि महिला का पेट चौड़ा है तो यह लड़का होने का संकेत माना जाता है|

रिंग टेस्ट

कुछ देशों में गर्भ में लिंग का पता करने का एक टोटका बहुत मशहूर है और वो यह है की अपनी शादी की अंगूठी में पतला धागा बांधकर  गर्भवती महिला को सीधे लेटकर उसके पेट के ऊपर यदि आप इस धागेयुक्त रिंग को लटकते हैं तो यदि अंगूठी गोलाकार घुमने लगे तो इसका अर्थ होगा लड़की है और यदि यह रिंग राईट या लेफ्ट हिलने लगे तो यह लड़का होने का संकेत माना जाता है| यह घरेलु नुस्खा हमारे भारत में प्रचलित नहीं है लें आप इसे आजमाकर जरुर देख सकते हैं शायद ये तरीका आपकी जिज्ञासा को शांत कर सके|

लिंग जांच kits

वैसे तो हमारे भारत में लिंग का परीक्षण करना गैर कानूनी है इसका कारण है भारत में लड़का और लड़की का अनुपात| आपको ये जानकार हैरानी होगी की भारत के कुछ जिले और गाँव ऐसे हैं जहाँ केवल पुरुष ही रहते हैं और उन्हें शादी के लिए दुसरे जिले और राज्यों से शादी के लिए लड़कियां मंगवानी पड़ती है| कुछ लोग आज कल ऑनलाइन वेबसाइट से लिंग जांच kit खरीद कर घर में ही लिंग की जांच कर लेते हैं| ये kits विदेशों में काफी लोकप्रिय है लेकिन भारत के लोग आजकल इन kits को ऑनलाइन खरीद रहे हैं जैसे की intelligender जिससे आप ढाई महीने के बाद kit की मदद से अपने पेशाब को टेस्ट करके होने वाले बच्चे के लिंग की सटीक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं|

Morning sickness

जानकार लोग कहते हैं की यदि गर्भवती महिला को मोर्निंग sickness जयादा है तो यह लकड़ी होने का लक्षण है और यदि कम है तो इसका मतलब है की गर्भ में लड़का है|

बेकिंग सोडा टेस्ट

आप खाने के मीठे सोडे यानि बेकिंग सोडा से भी होने वाले बच्चे के बारे में जानकारी पा सकते हैं| इसमें आपको करना ये है की एक कटोरी में सुबह का पहला मूत्र लेना है (गर्भवती महिला का ) इसके बाद आपको मूत्र में एक चम्मच बेकिंग सोडा का डालना है| कहते हैं यदि सोडा डालने के बाद झाग और बुलबुले बनते हैं तो गर्भ में लड़की है और यदि सोडा में को भी परिवतन न हो तो लड़का है|

गर्भवती को क्या पसंद है

गर्भकाल में गर्भवती महिला की खाने के प्रति चुनाव भी गर्भ में लड़का या लड़की होने का लक्षण होता है| ऐसा कहा जाता है की प्रेगनेंसी में यदि गर्भवती महिला को मीठा खाने की इच्छा होती है तो इसका अर्थ है की गर्भ में गर्ल है और यदि चटपटा, मसालेदार और नमकीन खाने का मन करता है तो यह लड़के का संकेत है|

त्वचा सम्बन्धी समस्याएं होना

जानकार लोग ये कहते हैं की गर्भ में लड़की होने पर गर्भवती महिला को एक्ने और pimples जैसी समस्याएँ अधिक होती है और इसके विपरीत यदि आपके रंग रूप में निखार आता है तो यह लड़का होने का संकेत माना जाता है|

हाथ की सुन्दरता

गर्भवती के हाथों से भी लड़की या लड़के होने का अनुमान लगाया जा सकता है| कहते हैं की यदि महिला के हाथ सुन्दर हो गए हैं तो यह लड़की होने का संकेत है और यदि हाथ कड़क, सूखे सूखे बेजान से हो रहे हैं तो यह लड़का होने का लक्षण माना जाता है|

यूरिन का कलर

यदि आप प्रयाप्त मात्र में रोजाना पानी पीती है तो ही इस उपाय को मानिए अन्यथा नहीं| लोग कहते हैं की सुबह उठने के बाद गर्भवती महिला के पेशाब का रंग यदि गहरा है तो इसका अर्थ है की गर्भ में लड़का है और यदि रंग हल्का है तो इसे लड़की होने का संकेत माना जाता है|

स्तन का साइज़

यह भी लिंग पता करने का एक अजीब तरीका है इसमें कहते हैं की pregnant महिला का यदि लेफ्ट स्तन राईट वाले से अधिक बड़ा है तो इसका अर्थ है की गर्भ में लड़का है आयर यदि राईट स्तन बड़ा है तो लड़की है|

बच्चा कितना एक्टिव है

ऐसा कहा जाता है की गर्भ में बच्चे का अधिक हिलना लड़के की तरफ इशारा करता है लेकिन आप सभी जानते हैं की प्रेगनेंसी के आखिरी महीनो में बच्चा कुछ जयादा ही एक्टिव होता है फिर चाहे वो लड़का हो या लड़की|

गर्भ में लड़का या लड़की होने के कुछ और लक्षण

गर्भ में लड़की होगी यदि

बाल रूखे सुस्खे बेजान हैं और झड रहे हैं

मूड स्विंग अधिक हो रहा है

आप दाहिनी और सोना जयादा पसंद करती हैं

हिप्स के पास वजन बढ़ा हैं

गर्भ यानि पेट में लड़ख होने के लक्षण ये होंगे

यदि आपके हाथ पैर ठन्डे रहते हैं|

नाक का आकर छोड़ा होजये

बार बार सर में दर्द होना

यदि आप लेफ्ट साइड में सोना पसंद करती है

यदि आपके टांगों के बाल तेजी से बढ़ने लगे हैं|

ये कुछ तरीके, लक्षण और टोटके थे जिनसे आप घर में ही होने वाले बच्चे के बारे में ये पता लगा सकते हैं की होने वाली संतान क्या होगी| हम बार बार ये कह रहे हैं की ये लक्षण केवल अनुमान होता है इसलिए इनको कभी भी 100 प्रतिशत सही नहीं समझना चाहिए| ये सब बाते हमारे पूर्वजों की देन है बस इनके द्वारा आप अपनी जिज्ञासा को शांत कर सकते हैं|

New Website Launched for English Readers!!!!!!!!!

Check Out Our Brand New English Website

kitchenhomeremedies.com

Loading...

13 COMMENTS

  1. Dear Sir…,
    Merit wife 18 week pregnancy hain .
    1) shukla paksh me grabh dharan hua
    2) morning seekness nhi
    3) mitha khana Jada pasand
    4)Jada nind aana
    5)Bhuk Jada lagna
    6)abhi tk baby ka hear beat ya koi movement na hona
    7)hat bry ho gaya
    8)ulti na hona
    Ye sari syesmtromes beta ya beti hone ka lakhan hora hain ??!??

    Plz reply kriye sir.I’m waiting for your answer

    Thank you
    Abhishek Mishra

    • abhishek ji aap article ko padhiye…aapko apne aap pata lag jayega …jayada lakshan milte hain to aapko pata chal jayega…saath hi ye poorane logon aur dai maa jaise logon ki dhaarnayein hain isliye bhagwan par bharosa rakho

  2. Plz sir bataiye kyse ghar me para kare grabh me ladka hain ya kadki ????

    Grabh me beta hone ka lakhan bataiye ??????

    Shukla paksh me grabh dharan hone se putra prapti hati hain ya putri ?

    Abhishek Mishra

  3. Grabh me bachcha kitne machine ya week me movement krta hain ??????

    1) baby boy kintne week/ month me movement krta hain ????

    2) baby girl kitni week/ / week me movement krti hain ???

    Baby boy ya baby girl kon grabh me galdi movement krta hain ?!..

    Abhishek Mishra

    • second trimester mein movement chalu ho jaati hai aur aage badhti jaati hain….aisa kaha jaata hai ki ladka jayada movement karta hai jaisa ki article mein likha hai hamne

          • U mean sir 2nd trimester 4th month se 6th month …
            4month me boby ka movement start ho jata hain ??????

            Grabh me beta ya beti kon aage movement krta hain ???
            Sir mujhe aapse reply chahiye artical me Jo likha rehta usse Jada main aap ka reply se satisfied hota hnu.

            Thank you
            Abhishek Mishra

          • abhishek ji aap maan lein 16 se 22 weeks ke beech baccha movement shuru kar deta hai chahe wo ladka ho ya ladki …movement 25 weeks tak na hon to doctor se milna hota hai ….saath hi poorane logon ke anusaar aisa maana jaata hai ki boy jayada active hota hai

      • Mera questions ye hain ki kon aage movement krta hain ????
        Boy ya girl ?

        Boy kitne week me ?
        Girl kitne week me ?
        Movement krta hain ?

        Ye article me nhi likha hain…
        Plz reply kriye.

        Poorane log / mahilaye, dai ka kehna hain ki grabh me beti aage hilta hain 5month se hi or beta der se hilta 6th month start hone k bad ye sach hain plz reply kriye

        • sach ho bhi sakta hai jo log gabhvati mahilaon aur hone wale bacche par najar rakhte hain unhein jayada knowledge hoti hai …lein mein personally nahi keh sakta

  4. आपका लेख अच्छा हो सकता हैं… लेकिन इससे लिंग भेद से सम्बंधित बुराई देखने को मिलती हैं… गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का हैं या लड़की, इसकी वजह से समाज में लड़कियों के प्रति बहुत ही हीन भावना देखने को मिलती हैं… आज लोगो को यह चाहिए की गर्भ में लड़का या लड़की हैं उसे जरूर जानना हैं… यह लेख भले ही कई लोगो को पसंद आये लेकिन मेरी राय यह हैं की ऐसे लेख आपको नहीं लिखने चाहिए… क्योंकि इससे लिंग भेद होता हैं… और अगर गर्भ में पल रही लड़की होगी तो क्या वह सभी लोग उन्हें मार कर कन्या भ्रूण हत्या करेंगे…

    अगर लड़कियों को उचित शिक्षा और अच्छे अवसर मिले तो वह लड़कों से कम नहीं हैं… आपका यह लेख कन्या भ्रूण हत्या को और भी ज्यादा बढ़ावा देगा…

    • kabir ji aap hamein to bol rahe hain lekin english aur hindi keywords per search karke dekhiye ki poora net kaise is baare mein bhara pada hai..hamne to ladka aur ladki dono ko saman maana hai…lekin doosre log to pakka dawa karte hain…hamne in tarikon ko poorane logon ki den bataya hai na ki ling bhed ka samarthan kiya hai…aap un logon ko bhi samjayie

LEAVE A REPLY