क्या eye का कलर बदला जा सकता है- हरी, नीली, काँची आँखें पाने के 3 तरीके

0

Why people want to change their Eye color – क्यों लोग आँख का रंग बन्द्लना चाहते हैं?

ऐसे कई कारण होते हैं जिनके कारण लड़कियां लड़कियां अपनी आंखों का कलर यानी रंग बदलना चाहते हैं| कोई सुंदर दिखने के लिए ऐसा करना चाहता है, कोई भीड़ में अलग दिखने के लिए ऐसा करने की सोचता है तो कोई मॉडलिंग एक्टिंग से जुड़े पेशे के कारण अपनी आई कलर को चेंज करवाने के बारे में सोचता है| लोगों को ऐसा मानना है कि हरी या नीली रंग की आंख वाले लोग ज्यादा सुंदर दिखाई देते हैं कुछ लोग ऐसा मानते हैं कि जिनकी आंख हरि या नीली होती है वह भीड़ से अलग दिखाई देते हैं| यही कारण है कि लोग अपने चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के लिए और खुद को और आकर्षक यानी attractive बनाने के लिए अपनी काली या भूरे रंग की आंखों को नीला या हरा करवाने के बारे में सोचते हैं|

how to make eye green blue in hindi

eye का रंग कैसे बदला जाता है | eye color badlne ke tarike | how to change eye color temperorly or premanently|eye color change karne ke options

eye color यानी आँखों का रंग change करने या बदलने के 3 तरीके हो सकते हैं पहला तरीका उन लोगों के लिए है जो कुछ दिन के लिए आ कभी कभी अपनी eye का रंग बदलना चाहते हैं| बाकी २ तरीके आपकी आँखों का रंग हमेशा यानि पूरी जिंदगी के लिए बदल सकते हैं| चलिए जानते हैं किन तरीकों से आप अपनी आँखों का रंग घर में बदल सकते हैं या फिर ऐसा ट्रीटमेंट ले सकते हैं जिससे आपकी आँखों का रंग हमेशा या पूरी लाइफ के लिए बदल जाए| यह भी जानेंगे की इन तरीकों के क्या साइड इफेक्ट्स या नुक्सान हो सकते हैं|

eye color temporarily badlne ka tarika | jarurat padne par eye color change karna | contact lens

यदि आप कभी कभार अपनी आंखों के रंग को बदलने के बारे में सोच रहे हैं और आप नहीं चाहते कि आपकी eye का कलर हमेशा के लिए बदल जाए तो ऐसे में आंखों का रंग green or blue बनाने  या करने का सबसे आसान तरीका है रंगीन कॉन्टैक्ट लेंस आंखों में लगाना| कांटेक्ट लेंस लगाने के कुछ साइड इफेक्ट या नुकसान होते हैं इसलिए आप लंबे समय तक इन्हें नहीं पहन कर रख सकते और इनको लगाने के बाद इनका ध्यान भी रखना पड़ता है| ज्यादातर लोगों का यह मानना है कि कांटेक्ट लेंस की सहायता से eye color चेंज करना ज्यादा नेचुरल नहीं दिखता इसलिए लोग सर्जरी द्वारा अपनी आंखों का रंग चेंज करवाने की सोचते हैं|

loading...

चलिए जानते हैं कि आंखों का रंग बदलने की सर्जरी की ऑप्शन क्या है और ऐसी सर्जरी करवाने के साइड इफेक्ट के नुकसान क्या हो सकते हैं|

Iris Implant – eye color change karne ka pehla surgical tarika

how to change eye color in Hindi – यदि आप परमानेंट रूप से अपने आंखों के रंग को बदलवा ना चाहते हैं तो इसके लिए iris implant सर्जरी करवा सकते हैं, जिसमें कि आपकी iris के ऊपर एक रंगीन iris की layer यानिपरत लगा दी जाती है जिससे कि आपकी आंखों को मनचाहा रंग मिल जाता है यानी हरा या नीला | इस सर्जरी के कुछ नुकसान भी होते हैं जैसे कि नकली आइरिश की रगड़ से आंखों में सूजन आना या इरिटेशन रहना|  इसके अलावा आपको आंखों से जुड़े दूसरे रोग भी हो सकते हैं जैसे की आंखों का ब्लड प्रेशर बढ़ना यानी ग्लूकोमा की स्थिति पैदा होना जिसके कारण आपकी आंखों की रोशनी जाने का भी खतरा रहता है| इसके अलावा आपको आंखों से जुड़ी दूसरी परेशानियां भी हो सकती है जैसे समय से पहले आपको मोतियाबिंद की समस्या हो जाना और भी कई नुकसान है ऐसी सर्जरी करवाने के इसलिए बहुत कम डॉक्टर ही आपको ऐसी सर्जरी करवाने की सलाह देंगे|

Laser Technique to change eye color to blue or green | आँखों का रंग बदलना के लिए लेज़र ट्रीटमेंट

लेजर ट्रीटमेंट द्वारा आंखों का रंग बदलने की प्रक्रिया iris implant से थोड़ी सुरक्षित मानी जाती है और इस प्रक्रिया द्वारा आप तेजी से अपनी आंखों के रंग को black or brown ग्रीन या ब्लू करवा सकते है लेजर ट्रीटमेंट द्वारा eye का कलर बदलने में बहुत कम समय लगता है| लेजर ट्रीटमेंट में आपकी आंखों मे कम ऊर्जा की लेजर द्वारा melanin के लेवल को change किया जा सकता है जिसके फलस्वरूप आपकी आंखों के रंग को बदला जाता है| यदि आपकी आंखों का रंग brown है तो लेजर द्वारा आपकी आंखों में पाए जाने वाले melanin को कम कर दिया जाता है जिससे आप की आंखों का रंग नीला हो जाता है |

जैसा की हमने बताया कि आंखों का रंग बदलने के लिए करवाया जाने वाला लेजर ट्रीटमेंट जल्दी काम करता है और सुरक्षित होता है लेकिन फिर भी इसके कुछ नुकसान हो सकते हैं जैसे की आंखों में ग्लूकोमा की समस्या भविष्य में हो जाना के अलावा आंखों से जुड़ी दूसरी समस्या भी हो सकती है|

दोस्तों यह 3 तरीके हैं जिनसे आप अपनी आंखों का रंग चेंज करवा सकते हैं या बदलवा सकते हैं| इन तरीकों के कोई न कोई साइड इफेक्ट तो अवश्य होते हैं इसलिए भगवान ने जो eye color आपको दिया है उसी में खुश रहे या फिर भी यदि आपको अपनी आंखों पर रंग बदलना है तो आप contact lens का इस्तेमाल कीजिए ताकि आपकी आंखों को कम से कम नुकसान हो|  कॉन्टैक्ट लेंस हमेशा टॉप क्वालिटी के पहनने जिसके बारे में आप किसी अच्छे आंखों के विशेषज्ञ य कॉस्मेटिक सर्जन से पूछ कर सही जानकारी पा सकते हैं|

eye color change यानि अपनी black या brown आँखों को यदि आप green या blue बनाना चाहते हैं तो इसके जानकारी हमसे आप कमेंट सेक्शन में पूछकर पा सकते हैं|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...