दिव्य यौवनामृत वटी के फायदे नुकसान – benefits and side effects in HIndi

54

दोस्तों, आपने पिछले लेख में पुरषों की मर्दाना शक्ति और यौन इच्छा बढ़ाने वाली zandu vigorex और himalaya confido के बारे में पढ़ा था| आज हम दिव्य की yauvanamrit vati के बारे में अपनी जानकारी बढ़ाएंगे| Patanjali Ayurved के इस प्रोडक्ट को कुछ लोग यौनामृत नाम से भी जानते हैं| इस वटी में ऐसी जड़ी बूटियाँ पायी जाती हैं जो की पुरुष की सामान्य सेहत के साथ साथ उसकी मर्दाना शक्ति और यौन शक्ति को बढ़ाने की शक्ति रखती हैं| बात कम मर्दाना ताकत की हो या शरीर की कमजोरी और ख़राब स्टैमिना की या फिर कम शुक्राणु और संभोग में अरुचि के कारण आयी नामर्दी या नपुंसकता की, यौवनामृत वटी पुरषों (males)की इन सभी समस्याओं का एक बेहतरीन रामबाण इलाज है|

yaunamrit vati

जैसा की आप जानते हैं यौवनामृत वटी के लाभ, गुण, फायदे और नुकसान यानि benefits और side effects इसमें उपस्थित घटकों यानि ingredients के कारण होते हैं| इस वटी की जड़ी बूटियाँ, minerals और दुसरे पोषक तत्व पुरषों की जनरल weakness दूर करते हैं साथ ही दिल, दिमाग और शरीर के कार्यों में सुधार करके जवानी और ताकत को बढ़ाते हैं फिर चाहे वो शारीरिक ताकत हो या यौन ताकत| लेकिन यह प्रोडक्ट उन पुरषों के लिए उत्तम है जो नामर्दी, यौनशक्ति की कमी, कमजोरी, कम शुक्राणु होना, और उम्र बढ़ाने के साथ आई संभोग में अरुचि की समस्या झेल रहे हैं|

यौवनामृत वटी के फायदे | लाभ और गुण | यौवनामृत वटी benefits in हिंदी

loading...

लेख के इस भाग में हम जनानेगे की क्यों है दिव्य यौनामृत वटी पुरषों के लिए फायदेमंद और इसका उत्तर सरल है की चूँकि इस वटी में वो सभी जड़ी बूटियाँ पायी जाती हैं जो की पुरषों की general और reproductive health के लिए जरुरी होती हैं| आइए जानते हैं यौवनामृत में पाए जाने वाले घटकों और उनके फायदे के बारे में|

दिव्य कंपनी की सुनें तो इस वटी में यौवनामृत वटी में कामोतेजक, रक्तवाहिकाओं को फ़ैलाने वाले, tonic, शरीर को साफ़ करने वाले औषधीय गुण होते हैं जो की पुरषों की ताकत, जवानी और यौन इच्छा बढ़ाने में मदद करते हैं|

अश्वगन्धा

पुरषों के स्वास्थ्य और जनन क्षमता बढ़ाने वाली दवा बिना अश्वगन्धा के तो बन ही नहीं सकती| अश्वगन्धा के पुरूषों के लिए फायदे कई हैं जैसे

यह एक अच्छा कामोतेजक है जो की संभोग में रूचि बढ़ाने में मदद करता है

यह पुरषों के स्टैमिना और ताकत को काफी बढ़ा सकता है

यह पुरषों के hormones को बढाकर वीर्य में शुक्राणु की संख्या और उनकी गतिशीलता बढ़ाने में मदद करता है

यह smoking, शराब आदि के सेवन से शरीर को हुए नुकसान की भरपाई करने में सहायता करता है|

यह मर्दाना शक्ति बढ़ा कर नामर्दी दूर करता है|

कौंच के बीज

अश्वगन्धा की तरह ही कौंच के बीज भी मर्दों के लिए एक बहुत ही जरुरी हर्ब है| कौंच के निम्न फायदे है

यह ख़राब खान पान, तनाव, दवाइयों का इतेमाल, नशे आदि के कारण आई नामर्दी को दूर करने में मदद करता है|

यह पुरषों के hormones को बैलेंस करके शीघ्रपतन की समस्या को दूर करता है और संभोग में रूचि को भी बढ़ाने में मदद करता है|

कौंच आपके अंडकोष को नए शुक्राणु के निर्माण के लिए एक्टिव बनाने में मदद करता है|

यह आपको bed पर ज्यादा देर तक सक्रीय बनाये रखने में मदद करता है जिससे आप अपने साथी को अच्छे से संतुष्ट कर सकते हैं|

यह पुरषों की मेंटल, physical और sexual health में सुधार करता है|

बाला

यह पुरषों मों बाँझपन की समस्या को दूर करके उनकी fertility बढाने में मदद करती है| यह लिंग के खड़े न होने की समस्या, शुक्राणु की कमी और संभोग के समय जल्दी सखलित होना यानि शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने में उपयोगी मानी जाती है|

शतावरी

शतावरी पुरषों की sexual health को सुधारती है और उनमें जोश और जवानी बढ़ाने में मदद करती है| यह संभोग के समय लिंग को कड़क बनती जिससे पुरषों को ED की समस्या से छुटकारा मिलता है और नामर्दी दूर होती है| यह मानसिक तनाव के कारण आई संभोग में अरुचि की समस्या को भी दूर करती है|

jaiphal/ जावित्री

यह सेक्स करने में मन न लगने की समस्या को दूर करता है और यौन इच्छा बढाता है| यह  आपके लिंग को सही तनाव दिलवाने में भी मदद करता है|

कुचला हर्ब

इसे poison nut के नाम से जाना जाता है और यह males में erectile disfunction यानि स्तम्भन दोष, शीघ्रपतन और नामर्दी दूर करने में काफी मददगार होती है|

अकरकरा

यह अपने कामोतेजक और वीर्य वर्धक गुणों के लिए जानी जाती है| यह male hormone testosterone के लेवल को बढाकर मर्दना शक्ति बढाती है| यह लिंग के ओर जाने वाले खून के प्रवाह को बढाकर स्तम्भन दोष की प्रॉब्लम दूर करके आपको सख्त लिंग पाने में मदद करती है|

शिलाजीत

शिलाजीत पुरुष की जनन क्षमता और सेहत को बेहतर बनाता है| यह पुरषों में जोश, जवानी और स्टैमिना का संचार करने में मदद करती है| यह दिल की सेहत को सुधारता है और male hormone testosterone को बढाकर आदमी को bed पर लम्बे समय तक एक्टिव रखने में मदद करता है| इसका नियमित सेवन जिसमानी ताकत बढाता है और आपको लम्बे समय तक जवान मर्द बनाये रखता है| साथ ही यह शुक्राणु की संख्या और क्वालिटी में भी सुधार करता है जिससे नपुंसकता दूर होती है|

इनके अलावा दिव्य यौवनामृत वटी में प्रवाल पिष्टी, judbestar, स्वर्ण भस्म, बबूल, वंग भस्म, सफ़ेद मुस्ली आदि घटक भी पाए जाते हैं जो की आदमी की शक्ति, health और फिटनेस को बेहतर बनाने के लिए उपयोगी माने जाते हैं|

तो क्या हैं दिव्य यौवनामृत वटी के फायदे और लाभ

जैसा की आपने ऊपर देखा की यौवनामृत वटी के घटकों में कितने सारे गुण पाए जाते हैं| इन गुणों के आधार पर हम कह सकते हैं की यौवनामृत वटी पुरषों के लिए किसी वरदान से कम नहीं| दिव्य यौवनामृत वटी के निम्न फायदे हैं|

  • यह वटी पुरषों के जोश, जवानी, ताकत, स्टैमिना को बढ़ाने में मदद करती है| यह शारीरिक, मानसिक और यौन कमजोरी को दूर करती है|
  • इस वटी के पोषक तत्व पुरषों को पोषण प्रदान करके शरीर के कार्यों में सुधार करते हैं|
  • यह वटी heart और brain को मजबूत बनाने में मदद करती है और मानसिक तनाव कम करती है|
  • यह पुरषों की सामान्य समस्याएं जैसे शीघ्रपतन, शुक्राणु कम होना, स्तम्भन दोष. स्वपन दोष, धातरोग आदि को जड़ से मिटने में मदद करती हैं|
  • इस वटी के कामोदीपक गुण आपकी संभोग के प्रति रूचि बढ़ाने में मदद करते हैं|
  • यह पुरषों के यौवन को बढाती है और शुक्राणु के निर्माण को तेज करने में सहायक होती है|

दिव्य यौवनामृत वटी लेने की विधि?

यह प्रशन हर कोई पूछता है की यौवनामृत वटी की सही dose क्या है या किस तरह से इस वटी का सेवन करें| तो दोस्तों, सही dose के लिए आप आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह लें वैसे डॉक्टर आम तौर पर १ या 2 गोली दिन में दो बार दूध के साथ लेने की सलाह देते हैं| आपको १-2 गोली सुबहे नाश्ते के बाद और रात को सोने से एक घंटा पहले लेनी होती है|

दिव्य यौवनामृत वटी के नुकसान | side effects

यदि आप यौवनामृत वटी को डॉक्टर द्वारा दी गयी dose के हिसाब से लेते हैं तब आपको कोई side इफेक्ट्स या नुकसान होने की गुन्जायिश नहीं होगी|

यौवनामृत वटी में अकरकरा और जयफल पाए जाते हैं जिनका लम्बे समय तक प्रयोग acidity, मुँह के छाले, पेट की गड़बड़ी और अलसर जैसे side effects  पैदा कर सकते हैं|

यौवनामृत को gastritis, पेट में अलसर, high blood pressure, acidity या IBD रोग जैसे  – ulcerative colitis and Crohn’s disease होने पर नहीं लेना चाहिए अथवा डॉक्टर से पूछ कर ही लेना चाहिए|

यौवनामृत वटी आपकी medicines के साथ react भी कर सकती है इसलिए बेहतर होगा की आप डॉक्टर की देख रेख में ही इसका सेवन करें|

आपने आज दिव्य यौवनामृत वटी के ingredients, फायदे, लाभ और नुकसान के बारे में जाना| यदि आप भी इसका सेवन करना चाहते हैं तो निसंकोच करिए| लेकिन याद रहे की एक महीने तक इस्तेमाल करने के बाद आपको डॉक्टर से राय लेने के बाद ही इससे दोबारा से लेना चाहिए| तो अब दिव्य यौवनामृत वटी खाइए और खुद में नयी ताकत जोश और जवानी जगाइए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

54 COMMENTS

  1. Sir, muje sexual disorder ki prob h, agar iski jagah par mai Patanjali Moosli Pak lun to kya usse bhi meri prob puri tarah se door ho jayegi? Sir, kya Mossli pak aur Divya yovanamrit vati me koi difference hai ? pls tel me

  2. Sir mai apni girlfriend sent bat krta hu ya koi galat bhavna aati hai to mujhe ajeeb Si thakan hoti hai air mera ling susuk jata hai aur chhota bhi hai
    Mai es samay es vati ka use or RHA hu to kitne din mei theek hoga 5days hua let’s

  3. सर मेरा ब्लड presure 140 रहता है में मिक्तावती ले रहा हु। मेरा लिंग छोटा है और सिकुड़ा सा रहता है। डिस्चार्ज जल्दी हो जाता हूं और स्टेमिना भी कम है। क्या करूँ

    • aapko kuch nahi karna mukta vati lijiye jisse bp control rahe…..shayada aapko stress ke kaaran bp ho raha hai aur doosri ling se judi problems bhi isliye sahi diet lijiye aur healthy jeevan jeeyein

  4. Baba je muje livar probalam hai aur mai morning me khale pet English medicine leta hu aur mera ling dhela rahta hai aur bahut jalad sparm gir jata hai aur Night foull ho jata hai Kai mai Divya vati le sakta hu

  5. Nameste sir I’m Rohit.
    Sir mera age 21 ho gya hai.mai bahut dubla ptla aur kamjor hu mera sharirik development puri trah se nahi hua hai’ mtlb mai lagta nahi hu 21 ka.
    Dhatu ka bhi problem hai night fall ho jata hair aur or toilet me jyada bal lagane per dhatu girta hai.
    Sir kya main Divyayonamrit ka use ker sakta hu.. Uchit salah dijia sir..