अरण्डी का तेल के फायदे, उपयोग और नुकसान

5

अरंडी का तेल जिसे लोग इंग्लीश भाषा मे castor oil के नाम से जानते हैं  अपने स्किन, हेयर और health benefits के कारण इंडियन घरों मे कई स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं के लिए use होने वाला एक उपयोगी तेल है| अरण्डी या अरंड के तेल के इन्हीं फायदे के कारण हमरे बड़े बुजुर्ग इस तेल को बहुत सी प्रॉब्लम्स को दूर करने के लिए सदियों सेउपयोग में लेते आ रहे हैं| castor oil को castor seeds  यानी अरंडी के बीज को प्रेस्सिंग क्रिया से गुज़ार कर बनाया जाता है| इसके गुणों के कारण इसे कॉसमेटिक इंडस्ट्री में साबुन (सोप), लोशन्स, मसाज आयिल्स और यहा तक की दवाइयां बनाने मे भी प्रयोग किया जाता है| यहाँ हम अरंडी के तेल के फायदे, नुकसान, उपयोग, गुण और इसके प्रयोग से होने वाले  स्वास्थ्य लाभके बारे मे पढ़ेंगे|

castor oil

अरंडी के तेल के गुण

इस तेल मे ढेर सारे औषधिय गुण पाए जाते हैं जैसे

loading...

Anti inflammatory, एंटी बॅक्टीरियल, एंटी फंगल, healing, anti arthritis, दूध का उत्पादन बढ़ने वाले गुण, कब्ज दूर करने वेल यानी लॅक्सेटिव गुण, जर्मिसाइडाल गुणों के अतिरिक्त बहुत से दुसरे गुण पाए जाते हैं जो की बहुत सी हेल्थ प्रॉब्लम्स को सही करने मे मदद करते हैं|

अरण्डी के तेल के फायदे | उपयोग | Health Benefits of castor oil in Hindi

Castor oil यानी अरण्डी के तेल के औषधीय गुणों के कारण आपको इसके उपयोग से बहुत सारे फायदे मिल सकते हैं| नीचे के भाग में इस तेल के कुछ benefits और uses हैं|

Rheumatism  का उपचार

अरंडी का तेल  Ricinoleic, Oleic और Linoleic acidsसे भरपूर होता है| साथ ही इसमें फॅटी acids भी पाया जाते हाइन| ये सभी गुण Rheumatism  जैसे arthritis, gout आदि के लक्षण जैसे दर्द, inflammation और सुजन को कम करने मे असरदार होते हैं|

यदि आप rheumatoid और osteoarthritis के दर्द और सोज से परेशन हैं तो आप नीच दी गाये घरेलु नुस्खों का उपयोग्ग कर सकते हैं|

Rheumatoid arthritis मे एक या दो चम्मच अरण्डी के तेल को एक कप अदरक की चाय (जिनजर टी) के साथ पीने से लाभ होता है|

इसी पार्कर osteoarthritis मे gandharva haritaki  हर्ब की थोड़ी सी मात्रा को अरंडी के तेल के साथ भून कर एक गिलास गर्म  पानी मे मिलकर पीने से फ़ायदा होता है|

इसके अलावा कॉटन के कपड़े को हल्के गरम castor oil मे डुबो कर दर्द वाले जॉइंट पर बाँधने से भी दर्द और सूजन कम होता है|

पीठ मे दर्द का इलाज (backpain home treatment)

यदि आपकी कमर या पीठ मे दर्द हो रहा है तो इसमें भी अरंडी के तेल का इस्तेमाल करके आप उस दर्द से निजात पा सकते हैं| यह तेल backache के लिए एक आसन और सुरक्षित होम रेमेडी होती है| बस आपको हल्का गरम तेल अपनी पीठ पर मलना है और उसपर कुछ देर hot pad लगाके रखना है ताकि सेक (हीट) से तेल स्किन के अंदर समा कर inflammation , सूजन और दर्द को कम कर सके| ऐसा रोजाना रात को 3 दिन करने से आपको लाभ मिलेगा और दर्द का अंत होगा तुरंत|

इम्यूनिटी बढ़ने मे उपयोगी

आयुर्वेदा के अनुसार इस तेल का सेवन (लिमिटेड मात्रा मे) करने से आपकी इम्यूनिटी यानी रोगों से लड़ने के शक्ति बढ़ती है| इतना ही नही यदि आप इससे रोजाना अपनी बॉडी की मसाज करते हैं तो भी आपकी रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ेगी| इसका कारण है की जब आप इसे अपनी स्किन पर लगते हैं तब ये आपकी T-11 कोशिकाओं को इनक्रीस करती है| ये कोशिकाएं आपकी बॉडी की self defence power को बढ़ा कर आपको रोगाणुओं से बचाती हैं|

पेट का स्वास्थ्य  ( पेट रखे एक दम फिट)

अरण्डी के तेल का कम मात्रा मे सेवन करना पेट की समस्याएँ जैसे कमजोर पाचन, indigestion (बदहजमी), फ़ूड poisoning, कब्ज (कॉन्स्टिपेशन), पेट मे कीड़े आदि को ठीक कर आपके पेट की सेहत  बेहतर करने में मददगार होता है| हल्के गर्म तेल की पेट पर मसाज से पाचन और stomach health पर पॉज़िटिव effect देखने को मिलता है|

आप ये सभी फायदे एक बड़े चम्मच अरंडी के तेल को ठंडे दूध या ऑरेंज जूस मे मिलकर पा सकते हो| दूध हो या ऑरेंज जूस ये आपके पेट को एकदम सॉफ करके पेट की तमाम प्रॉब्लम्स को दूर कर देगा| कुछ लोग इसे पेट की सफाई के लिए गर्म पानी के साथ भी पीते हैं| तरीका कोई भी हो रिज़ल्ट एक ही होगा यानी….stomach problems no more!

अरंडी के तेल मे कब्ज हटाने वाले यानी लॅक्सेटिव गुण होते हैं इसके लिए इसे संतरे के जूस के साथ दिन में दो बार पीने से पुरानी से पुरानी कब्ज भी खुल जाती है|

Menstrual problems  करे दूर

यदि आपको पीरियड यानि मासिक धर्म आने में प्राब्लम है, या पीरियड में देर हो रही है या पीरियड बंद हो और अधिक दर्द हो रही है तो अरंडी का तेल उपयोग करके आप इन सभी प्रॉब्लम्स से छुटकारा पा सकते हैं| अरण्डी के तेल में emmenagogue गुण होते हाइन जो कई पीरियड सम्बंधित प्रॉब्लम्स को दूर करे हैं|

Beauty uses and benefits of castor oil in Hindi

डीटेल मे जानिए किस तरह अरंडी का तेल आपके फेस, स्किन और बालों के रख रखाव के लिए उपयोगी है|

अरंडी का तेल बेनिफिट्स फॉर फेस आंड स्किन इन हिन्दी

Castor oil for skin care

  1. अरण्डी  आयल  के मेडिसिनल गुणों के कारण इसे बहुत सारी स्किन प्रॉब्लम्स को ठीक करने मे उपयोग किया जाता है| इस oil को इसके moisturizing और हीलिंग गुणों के कारण skin care मे सदियों से उसे किया जा रहा है| ये wrinkles, acne, पिंपल्स, फेस के खुश्की (ड्राइनेस्), dark marks, acne scars और दूसरी त्वचा सम्बन्धी समस्याओं को दूर करने मे असरदार माना जाता है|  नीचे अरंडी के तेल के skin and face care uses दिए गये हैं|
  2. castor oil में कमाल के घाव भरने वाले गुण पाए जाते हैं और ये गुण इसमे पाए जाने वेल  यूनीक रायसीनोलिक फैटी एसिड के कारण होते हैं| ये फॅटी एसिड अरण्डी के अलावा किसी और तेल या नॅचुरल स्त्रोत मे नही पाया जाता|
  3. आपको इसके स्किन को moisturize करने वाले गुणों के बारे मे तो  पता ही है लेकिन इसमे इसके अलावा  अनडीसाईंलेनिक एसिड होते हैं जिनसे इस तेल को कमाल के एंटी बॅक्टीरियल गुण मिलते हैं|. और यही गुण फेस पर acne और संक्रमण को रोकने मे काम आते हैं| साथ ही इस आयिoilल के anti inflammatory गुण मुहासे से सम्बंधित सोज को ठीक करके उसे जल्दी ठीक होने मे मदद करते हैं|
  4. यदि आपका चेहरा, हाथ, एड़ियाँ, टाँगे आदि खुश्क (ड्राइ) रहते हैं तो आप अपनी त्वचा को अच्छे से सॉफ करके रात को सोने से पहले अरण्डी के तेल को लगा कर सो जायें| ये नुस्ख़ा आपकी स्किन को नम करने के साथ उसे सॉफ्ट, सिल्की, कोमल, मुलायम बना देगा|
  5. इस तेल से चेहरे पर मसाज करने से आप कुछ ही मिनिट्स मे ग्लोयिंग फेस पा सकते हैं| मसाज से ब्लड फ्लो अच्छा होगा साथ ही आपकी स्किन को पोषण मिलेगा जिससे आपके फेस पर पिंक ग्लो आ जाएगा|
  6. यदि आपकी त्वचा काली है या उस पर blackspots, dark patch, काले दाग धब्बे आदि हैं तो उस जगह पर अरण्डी का तेल रोज मलने से वो ब्लैक मार्क्स धीरे धीरे मिट जायेंगे| ऐसा castor oil के स्किन whitening गुण के कारण होता है| इतना ही नही ये आयल उस जगह पर नए टिश्यू की growth को प्रमोट करवाता है फलसवरूप डार्क और डॅमेज्ड टिश्यूस दूर हो जाते हैं और सॉफ निखरी त्वचा बाहर आ जाती है|
  7. क्या आपके फेस पर असमय wrinkles और छोटी छोटी धारियाँ (फाइन लाइन्स) पड़ गयी हैं? आप रोजाना रात को इस आयिल से अपने सॉफ फेशियल स्किन पर मसाज करिए| इसके anti-ageing गुण signs of ageing  को हटाने में काफ़ी मददगार साबित होते हैं|
  8. चेहरे की त्वचा के लिए अरंडी के तेल के बहुत फायदे हैं जैसे की ये आयिल collagen production को तेज करवाता है इसलिए उम्र बढ़ने के प्रभाव कम करके ये आपकी स्किन को टाइट और यंगर लुकिंग रखने मे सहायता करता है|
  9. यदि आपकी स्किन sunburn के कारण सूज गयी है तो उसे पर अरंड का तेल लगाइए| इस तेल के एंटी इनफ्लमेटरी गुण इनफ्लमेशन कम करके आपको आराम देंगे| साथ ही sunburnके कारण काली पड़ी स्किन को वापिस सही tone मे लाने मे मदद भी मिलेगी|
  10. यदि प्रेग्नेन्सी या मोटापे के कारण आपके पेट या कमर पर स्ट्रेच मार्क्स पड़ गये हो तो रोजाना अरंडी के तेल की मसाज करे|. 2 महीने मे वो गायब हो जायेंगे|
  11. Ringworm या दाद होने पर एक चम्मच castor oil को 2 चम्मच कोकनट आयल मे मिलकर स्किन पर लगाने से दाद खाज खुजी दूर हो जाती है|
  12. इसे मस्से पर लगाने से भी फ़ायदा होता है|
  13. रेग्युलर इसका इस्तेमाल त्वचा पर करने पर age spots और फ्रेकल्स भी दूर होते हैं|

Arandi ka Tel Benefits for hair in Hindi | Castor oil फायदे बालों के लिए

स्किन की तरह हेयर केयर में भी अरंडी के तेल के अनेक  फायदे हैं और इसी लिए हम में से कई लोगों के दादी नानी इस तेल से सर पर मालिश करने मे उपयोग में लाती आ रही हैं| इस आयल  का उपयोग करके आप scalp और बालों के कई प्रॉब्लम्स

जैसे रूसी (dandruff), ड्राई scalp , बाल बढ़ने की गति कम होना, सिर में संक्रमण, दो मुहे बाल (split ends), बालों का कमजोर होना, बालों का झड़ना (hair fall), बालो का सफेद होना (वाइट हेयर) के अलावा रूखे, सूखे बेजान बालों को ठीक कर उन्हे फिर से शाइनी, लोंग और स्वस्थ बनता है| नीचे कुछ टिप्स हैं जिनका उपयोग करके आप लम्बे घने और सुन्दर बाल पा सकते हैं|

Hair growth

दो मुहे बाल, बालों को पोषण ना मिलना, डॅमेज्ड हेयर आदि बालो को बढ़ने से रोकते हैं| अरंडी के तेल का एक फायदा ये है की जब आप इसे अपने स्कॅल्प पर मसाज करते हैं तब ये आपके बालो की ड्राइनेस्, split ends ख़तम करके उन्हें ढेर सारा पोषण प्रदान करता है जिसके फलसवरूप उनकी growth तेज़ी से होती है| साथ ही इस आयल मे मौजूद ओमेगा-9 फॅटी एसिड्स आपके बालों  को सेहतमंद रखने मे मदद करते हैं| तो यदि आपको long  and strong हेयर चाहिए तो आज से ही रोज रात को castor आयल से अपने सर की मसाज करें|

Scalp यानि सर पर संक्रमण

Castor oil आयिल में फंगल  और बॅक्टीरियल infection से लड़ने वाले एंटी फंगल और एंटी बॅक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो की रूसी यानी डॅंडरफ, scalp पिंपल्स, scalp infection, सर मे खुजली आदि प्रॉब्लम्स को दूर रखने मे हेल्प करते हैं|

वाइट हेयर (जल्दी बाल सफेद होना)

यदि बाल असमय सफेद हो रहे हैं तब इस तेल को डेली मसाज करके उन्हें रोका जा सकता है| ये तेल बालों मे पाए जाने वाले पिगमेंट को रोके रखने का कम कर उन्हे लंबे समय तक सफ़ेद होने से बचाता है|

कंडीशनिंग करें

बालो को कंडीशन करने का सबसे आसान तरीका ये है की इस तेल का एक बड़े चम्मच को अपने कंडीशनर मे मिला लें| अरंडी के तेल मे humectants गुण पाए जाते हैं यानी ये नमी को बांधे रखते हैं|  इससे आपके कंडीशनर की शक्ति काई गुना बढ़ जाएगी और आपको मिलेंगे सुंदर शाइनी बाल कुछ ही मिनिट्स में|

यदि आप अपने eyebrows मोटे करना चाहते हैं तो इस तेल को नियमित रूप से अपने eyebrows पर लगाइए| फायदा  मिलेगा|

Home remedies with Castor oil| प्रचलित घरेलु नुस्खे | अरंडी के तेल के कुछ उपयोग (uses )

  1. सर मे जूँ (हेड लाइस) की प्राब्लम हो तो इस आयिल को अपने हेड पर मसाज करके पूरी रात के लिए छोड़ दीजिए|  ऐसा हफ्ते में 2 बार करने से लाभ होगा|
  2. इसको स्पाइडर वेन्स पर मलने से वो दूर हो जाती हैं|
  3. under eye dark सर्कल्स यानि आँखों के kale घेरे हो तो इसे रात को सोने से पहले 2 हफ़्तों तक लगाने से वो दूर हो जायंगे|
  4. इसकी कुछ बूँदें जूस मे डालकर पीने से एलर्जी दूर होती है|
  5. यदि बवासीर की पीड़ा और सूजन से परेशन हैं तो इस तेल को कॉटन पर लगाकर अपनी गुदा मे रखिए| लाभ मिलेगा|
  6. यदि शीघ्रपतन के समसया हो तो इस तेल को अपने penile एरिया ( गुदा और अंडकोष के बीच) मे मसाज करें, कुछ दिन ऐसा करने से फ़ायदा मिलेगा|
  7. पीरियड मे यदि आपके स्तन दुखते हैं तो अरण्डी के तेल को हल्का गरम करके अपने स्तनों की 10 मिनिट्स मसाज रोजाना एक हफ्ते के लिए करने से दर्द दूर हो ज़ायगा|
  8. किसी भोजन या अंडे से एलर्जी हो तो अरण्डी के तेल की 5 ड्रॉप्स अपने वेजिटेबल सूप मे मिलकर पीने से वो ख़तम हो ज़ायगी|
  9. गंजापन होने पर एक बड़ा चम्मच saw palmetto, एक बड़ा चम्मच amla powder और 2 बड़े चम्मचcator oilके मिलकर एक हेयर पैक बनाइए| इसे रात को सोने से पहले लगाइ और सुबह उठकर धो लीजिए| इसे कुछ दिनों के लिए रोजाना करने से गंजापन दूर होगा|
  10. chikungunya  बुखार मे यदि आपके जोड़ों में दर्द हो रहा है तब एक बड़े स्पून अरंडी के तेल को एक चुटकी लाल मिर्च डालकर गरम करें| हल्का गरम होने पर इसे जोड़ो पर मलने से दर्द दूर हो ज़ायगा| ऐसा दिन मे 3 बार करना है|
  11. यदि हाथ, पैर, या किसी अन्य जगह सूजन (swelling) हो रही हो तो अश्वगंधा के पत्तों की पेस्ट को castor oil  के साथ बाय्ल करके सूजन पर लगाने से वो दूर हो जाती है|

अरण्डी के तेल के नुकसान | Side effects of castor oil in Hindi

  • हालाँकि FDA  ने इसे सेफ माना है लेकिन फिर भी अरंडी के तेल के कुछ नुकसान या side effects हो सकते हैं जैसे:
  • स्किन एलर्जी होना – स्किन पर rash, खुजली और सूजन इसके मुखाय लक्षण होते हैं| इसलिए यदि आप इस आयिल से allergic हैं तो इसे कभी भी use ना करें|
  • castor oil  के सेवन से कुछ लोगों मे पेट दर्द, दस्त लगना, उल्टी आना, जी भारी होना जैसे लक्षण भी देखने को मिलते हैं और ये अक्सर लिमिट से ज़यादा सेवन करने से होते हैं|
  • ये delivery जल्दी करवा सकता है और कुछ गर्भपात (abortion) के मामले भी देखने मे आए हैं| इसलिए प्रेग्नेन्सी के दौरान इसका उपयोग एकदम वर्जित है|
  • यदि आप कोई मेडिसिन (दवा) ले रहे हैं तो अपने डॉक्टर से सलाह करके ही इस तेल का उपयोग करे|

याद रखिए castor oil in Hindi मतलब अरण्डी का तेल और ऊपर जो पढ़ा वो थे इस तेल के फायदे, गुण, उपयोग, नुकसान आदि से सम्बंधित जानकारी| अंत मे हम बस यही कहना चाहेंगे की डॉक्टर से पूछे बिना इस तेल का प्रयोग ना करें|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

5 COMMENTS

  1. एक बहुत ही महत्वपूर्ण फायदा मैं बता रहा हूँ । अगर किसी को लू लग गई हो तो इस तेल की मालिश पैरों के तलवे मे करे निश्चित फायदा होगा । ये मेरा प्रयोग किया हुआ है। अवश्य आजमाये ।