खूनी बवासीर के कारण लक्षण और रोकने के उपाय इलाज

0

खूनी बवासीर क्या है और कैसे होता है?

piles या बवासीर गुदा के अन्दर और बहार पायी जाने वाली रक्त वाहिकाओं में सूजन और inflammation के कारण होता है जिसके कई कारण हो सकते हैं| खूनी बवासीर अंदरूनी या बाहरी हो सकता है| अंदरूनी खूनी बवासीर में दर्द कम होता है वहीँ बाहरी खूनी बवासीर में दर्द काफी तेज होता है| जब बवासीर बिगड़ जाती है तब उसमें खून आने और इन्फेक्शन की सम्भावना बढ़ जाती है| इसलिए जरुरी हो जाता है की इस प्रकार की बवासीर का जल्दी इलाज किया जाए| आज हम यहाँ खूनी बवासीर को जड़ से ख़तम करने और रोकने के उपाय और इलाज के बारे में बात करेंगे लेकिन उससे पहले जान लीजिये की क्या हैं खूनी बवासीर होने के कारण और लक्षण|

bleeding piles khatam karna

खूनी बवासीर के कारण | Bleeding Piles Causes | khooni bawaseer kaise hota hai

loading...

बाहरी और अंदरूनी बवासीर के लक्षण तो बहुत से हो सकते हैं लेकिन बात जब खूनी बवासीर की हो तब बवासीर के पेशेंट को दर्द, जलन, खुजली, बेठने में परेशानी के साथ मल के साथ खून आने की भी दिक्कत होती है| जरुरी नहीं खून मल त्याग के समय ही आये| बेठने पर भी खूनी बवासीर के रोगी की गुदा से रक्तस्त्राव हो सकता है जो की आमतौर पर बैठने से गुदा पर पड़े दबाव के कारण होता है|

खूनी बवासीर का मुख्य कारण होता है गुदा की त्वचा और सूजी हुई रक्त वाहिकाओं का अधिक दबाव या सख्त मल के कारण कट जाना जिससे आपकी गुदा से मल त्याग के समय कम या जयादा मात्रा में खून आ सकता है|

खूनी बवासीर के लक्षण | symptoms of bleeding piles

खूनी बवासीर के लक्षण की बात करें तो शब्द खूनी से साफ़ प्रतीत हो रहा है की इस बवासीर में मल त्याग के समय खून आता है जो की दर्द के बिना ही सकता है (अंदरूनी बवासीर होने पर)या तेज दर्द, जलन के साथ हो सकता है जब आपको बवासीर बाहरी हो| कुल मिलकर या बिगड़ी हुई बवासीर का ही एक लक्षण होता है जिसमें कम या अधिक मात्र में खून आ सकता है| खूनी बवासीर में यदि अधिक खून बहता है तब आप में एनीमिया के लक्षण भी दिखाई देने लगते हैं| खूनी बवासीर में इन्फेक्शन होने का भी खतरा होता है इसलिए इसका जल्दी इलाज करवाना जरुरी हो जाता है|

खूनी बवासीर का इलाज | khooni bawaseer rokne ke upay | खूनी बवासीर जड़ से ख़तम करने के  इलाज के  घरेलु तरीके

बवासीर में खून आना बहुत ही दर्दनाक और असहनीय हो सकता है जिसका डॉक्टर सर्जरी द्वारा इलाज करते हैं| यदि आप अपनी खूनी बवासीर की समस्या का बिना बवासीर के ऑपरेशन के करना चाहते हैं तो आपको यहाँ दिए गए कुछ असरदार घरेलु नुस्खे अपनाने होंगे| इसके अलावा खूनी बवासीर को रोकने के लिए यह भी जरुरी होता है की आप अपनी गुदा पर कम से कम दबाव डालें इसके लिए आप bed पर लेटकर आराम करिए ताकि आपकी piles का इलाज जल्दी से काम कर सके| कब्ज की समस्या को कम करिए ताकि गुदा पर सख्त मल के कारण कट न लगे| तो आइये जानते हैं की खूनी बवासीर को जड़ से ख़तम करने का घरेलु इलाज और उपाय क्या हैं|

See also  बवासीर (बादी /खूनी) का इलाज के लिए पतंजली दवा medicine name in Hindi

अनार से खूनी बवासीर का इलाज

अनार खूनी बवासीर के लिए दावा का काम कर सकता है क्योंकी इसमें hemostatic गुण पाए जाते है साधारण भाषा में खून को बहने से रोकने वाले गुण| इसमें खून बनाने वाले पोषक तत्व भी पाए जाते हैं जिनसे आपके शरीर में आई खून की कमी दूर होती है|

आप रोजाना दिन में दो बार अनार का जूस पीयें और कुछ ही दिनों में खूनी बवासीर को ख़तम करिए|

इसके अलावा आप अनार के छिलकों का पाउडर बनाएं और एक चम्मच पाउडर को एक गिलास पानी में कुछ देर उबालिए| इस पानी को दिन में 3 बार पीने से पुरानी बड़ी खूनी बवासीर भी जल्दी ठीक हो जाएगी और मस्से भी दूर होने लगेंगे|

नीम से बवासीर से खून आना कैसे रोकें

नीम में एंटीसेप्टिक, दर्द निवारक  और जीवाणुओं को मारने वाले गुण पाए जाते हैं| नीम inflammation, दर्द , खुजली तो दूर करता ही है साथ ही यह खून बहने से भी रोकता है| आप नीम के पत्तों का रस, नीम के कैप्सूल इस्तेमाल करके कब्ज को भी दूर रख सकते हैं| इन सबके प्रभाव से आपकी खूनी बवासीर की समस्या ख़तम हो जाएगी| इसके अलवा नीम के बीजों का पाउडर एक चम्मच लीजिये  और इससे आधे गिलास मूली के जूस में घोल कर पीने से भी आपको खुनी बवासीर से कुछ ही दिनों में आराम मिलेगा|

आंवला है खुनी बवासीर का दुश्मन

अमला में अधिक मात्र में विटामिन C पाया जाता है जिससे घाव जल्दी भरते हैं इसके अलावा ये कब्ज की समस्या को दूर करता है जिससे आपको आगे बवासीर में समस्या नहीं होती| आमला का एक चम्मचा पाउडर आधी कटोरी दही या घर में निकले हुए सफ़ेद मक्खन में मिलकर दिन में 3 बार खाने से खुनी बवासीर का अचूक इलाज होता है|

हलके गर्म पानी में बैठिये

एक टब में हल्का गर्म पानी लीजिये और इस तब में २० मिनट्स तक बेठिये| इससे आपको बवासीर में होने वाले दर्द और सूजन से निजात मिलेगी जिसके फलसवरूप आपकी piles की problem जल्दी ठीक होगी| यह भी खूनी piles के लक्षणों को दूर करने का एक आसान तरीका है|

फाइबर और पानी का भरपूर सेवन करें

यदि आप खुनी बवासीर को जल्दी खत्म करना चाहते हैं तो यहाँ दिए गए बवासीर ख़तम करने वाले नुस्खे इस्तेमाल करने के साथ साथ आपको फाइबर युक्त डाइट खानी होगी और इसके अलवा आपको दिन में भरपूर मात्रा में पानी, नारियल पानी, फल और फ्रूट के जूस आदि पीकर अपने शरीर में पानी की कमी को पूरा करना होगा| इसका फल यह होगा की आपको कब्ज नहीं होगी और आपको मल त्याग में बहुत आसानी होगी| अंत में आपको खूनी बवासीर और उसके लक्षण जैसे सूजन, मलत्याग के पहले और बाद में दर्द और जलन से मुक्ति मिलेगी| इसके अलवा आपको सूखे मेवे, मिर्च मसालेदार भोजन, फ़ास्ट food, शराब, चाय, कॉफ़ी जैसे नुक्सान करने वाले पदार्थों से परहेज रखना होगा क्योंकि ऐसे पदार्थ कब्ज, पानी की कमी और बवासीर की समस्या को उत्पन करते हैं और आपको कई महीनो या सालों तक दर्द और तकलीफ ही मिलती है|

See also  लिंग की चमड़ी नहीं खुलती या बंद नहीं होती – लिंग की चमड़ी के रोग टाइट चमड़ी

बैठना करिए कम

ये बात वो लोग अच्छे से समझ सकते हैं की बवासीर होने पर बैठने से उन्हें क्या क्या समस्याएं आती हैं| अधिक देर बैठने से आपकी गुदा पर दबाव पड़ता है जिससे नसों में सूजन आती है और दबाव से खून आना भी कोई बड़ी बात नहीं होती| इसलिए खूनी बवासीर के इलाज के दौरान लेट कर जितना आराम कर सकें आप उतनी जी जल्दी ठीक हो पाएंगे|

रोजाना कुछ देर करें व्ययाम

पानी अधिक पीने और  फाइबर युक्त डाइट लेने के साथ आपको रोजाना कुछ देर एक्सरसाइज करनी चाहिए| एक्सरसाइज से आपका पाचन मजबूत होगा और कब्ज की समस्या कम होगी इससे आपका मल त्याग काफी आसन बनेगा जिससे आपकी खूनी बवासीर की समस्या में तेजी से सुधार होगा| यदि आपको एक्सरसाइज करने में परेशानी हो तो जितना हो सकते तेज चलने की कोशिश करें|

जीरा पानी से बवासीर का इलाज

जीरा पानी भी खूनी बवासीर को रोकने का एक रामबाण इसाज माना जाता है| इसमें आपको एक चम्मच भुने हुए जीरे का पाउडर और एक चम्मच सादे जीरे का पाउडर आपस में मिलाना होता है| इस मिश्रण का एक चम्मच एक गिलास पानी में घोल कर सुबह पीना होता है| यह नुस्खा आपकी खूनी बवासीर को जल्दी ख़तम करने में मदद करेगा|

मूली का रस है बवासीर की अचूक दवा

मूली का जूस कब्ज को रोकता है, आपके शरीर को साफ़ करता है, बवासीर के दर्द और दुसरे लक्षणों को दूर करता है और ये सभी कारक आपकी खूनी बवासीर के लिए जिम्मेदार होते हैं| खून वाली बवासीर के इलाज के लिए आपको दिन में दो बार आधा गिलास मूली का रस रोजाना कुछ दिन पीना होता है जिससे आपकी recovery बहुत तेजी से होती है|

अंजीर से खूनी बवासीर दूर करने का इलाज

अंजीर में laxative गुण पाए जाते है मतलब यह मल को कोमल बनाकर उसे शरीर से आराम से बहार त्यागने में मदद करते हैं| साथ ही ये आपको पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाते हैं औरअंजीर में पाया जाने वाला आयरन आपके शरीर में खून बहने के कारण आई खून की कमी को भी दूर करता है|

आपको रोजाना रात में और सुबह १२ घंटो के लिए 3-4 अंजीर पानी में भिगोकर रखने हैं और इन्हें खली पीट सुबह और रात में सोने से पहले खाना है| हो सके तो अंजीर का पानी भी पीलें| यह नुस्खा आपको बवासीर में बहुत राहत देगा|

निम्बू और दूध से खूनी बवासीर को रोकने के उपाय

खूनी piles का एक और असरदार इलाज है और वो है एक गिलास निम्बू में आधा निम्बू निचोड़ कर दूध के फटने से पहले पी जाना| निम्बू और दूश का मिश्रण आपकी कब्ज की समस्या दूर करेगा , आपको बेहतर पोषण देगा और आपकी बवासीर से खून आने की समस्या को जल्दी से ठीक करेगा|

खट्टे फ्रूट्स होते हैं फायदेमंद

खट्टे फ्रूट्स जैसे निम्बू, संतरा, मौसंबी आदि में bioflavonoid पाए जाते हैं जो की आपकी गुदा में पायी जाने वाली खून की नसों को बल प्रदान करते हैं और खूनी बवासीर के लक्षणों जैसे दर्द, सूजन और खून बहने को भी जड़ से ख़तम करने में मदद करते हैं| आपको एक चम्मचा निम्बू का रस आधी कटोरी पानी में घोल कर रुई की मदद से अपनी बाहरी बवासीर पर भी दिन में दो बार लगाना चाहिए इस आपकी समस्या तेजी से दूर होगी|

See also  गला आवाज बैठ जाना कारण क्या करे इलाज और घरेलु उपाय – hoarseness of voice treatment in Hindi

केले से खूनी बवासीर का इलाज

केला बाजार में आसानी से मिल जाता है आपको पके हुए पीले केले को एक कप दूध में घोलकर पीना है| यह बवासीर का घरेलु नुस्खा आपको दिन में 4 बार इस्तमाल करना है| इससे आपका सख्त मल सॉफ्ट हो जायेगा और आपको खूनी बवासीर और दर्द से कुछ ही दिनों में रहत मिल जाएगी|

करेले के पत्ते for piles

करेला सब्जी के पत्ते खुनी बवासीर को दूर करने के एक बहुत ही अच्छी दवाई मानी जाती है| आपको करेले के पत्तों से 3 चम्मच रस निकल कर छाछ में मिलकर सुबह खली पेट पीना है| आपको ऐसा करने से दो हफ़्तों में अपनी खुनी बवासीर से आराम मिल जायेगा|

अजवैन से बवासीर का इलाज

आप एक गिलास छाछ में एक चम्मच अजवैन का पाउडर मिलाकर रोजाना पीना है| यह खुनी बवासीर का एक और बेहतर इलाज है|

एलो वेरा से बवासीर का खून रोकना

रोजाना दिन में दो बार एलो वेरा जूस पीने से और ताजे एलो वेरा की gel बाहरी बवासीर पर लगाने से खूनी बवासीर की समस्या में तेजी से सुधार होता है| एलो वेरा में एंटीसेप्टिक, घाव को जल्दी भरने वाले और दर्द – सूजन कम करने वाले गुण पाए जाते हैं जिससे आपको फटाफट आराम मिलता है|

हल्दी से खुनी बवासीर ख़तम करने के उपाय

हल्दी से बवासीर का इलाज के बारे में हमने पहले पूरा लेख लिखा है आप उससे जरुर पढ़ें| हल्दी के एंटीसेप्टिक , antimicrobial, हीलिंग यानि घाव को जल्दी भरने वाले गुण आपके खूनी बवासीर के लक्षणों को दूर करके आपकी जल्दी recovery करवाने में मदद करते हैं| आप दिन में और रात में एक ग्लास दूध में आधा चम्मच हल्दी का घोल कर पीयें| यकीन मानिये ये आपके लिए बहुत ही अच्छा इलाज साबित होगा|

नारियल की जटा – खुनी बवासीर एक दिन में ख़तम करने का इलाज

नारियल की जटा यानी बाल से बवासीर का एक दिन में इलाज के बारे में तो आपने जरुर सुना होगा| इसके लिए आपको नारियल के बाल को जला का राख बना लेनी है| इस राख की 3 ग्राम मात्र को एक गिलास ताज़ी छाछ या एक कटोरी ताजे दही में घोल कर दिन में तीन बार पीना है| एक दिन से अधिक इस नुस्खे का प्रयोग नहीं करना| कहते हैं की इससे पुरानी और खूनी piles एक दिन में ठीक हो जाती है|

खूनी बवासीर के लिए दवा | Medicine for bleeding piles

खुनी बवासीर को ख़तम करने के लिए डॉक्टर आपको क्रीम, दर्द निवारक दवाई जैसे पेरासिटामोल और मल को नर्म बनाने वाली दवाइयां दे सकता है| यदि खून अधिक बह रहा हो तब आपको non-steroid anti-inflammatory drugs (NSAIDs) जैसे ibuprofen न लेने की सलाह दी जाती है क्योंकि ऐसी दवाई खून बहने को और बढ़ा सकती है| आपको दवा एक हफ्ते से कम समय के लिए दी जाती हैं यदि समस्या ठीक न हो तो डॉक्टर आपके लक्षणों के हिसाब से आगे के इलाज या सर्जरी करने का निर्णय लेता है|

ऊपर बताये गए खूनी बवासीर को दूर करके खत्म करने वाले घरेलु इलाज और उपाय आपके लिए बहुत ही सहायक सिद्ध होंगे| यदि आपको तेज बुखार, चक्कर आना, गुदा में इन्फेक्शन, एनीमिया आदि समस्या हो तो तुरंत अपने डॉक्टर की सलाह और इलाज लें|

लोगों की इतनी help की लेकिन हमारी नयी वेबसाइट like नहीं की अभी तक 😥

loading...