Hemoglobin kaise badhaye – हीमोग्लोबिन (खून) की कमी के कारण और इलाज

3

क्या है हीमोग्लोबिन?| what is hemoglobin in Hindi

साधारण भाषा में समझें तो हीमोग्लोबिन एक आयरन युक्त प्रोटीन है जो की हमारी लाल रक्त कोशिकाओं यानि RBC में पाया जाता है| हीमोग्लोबिन के आयरन वाले भाग को “hematin” कहते हैं और प्रोटीन वाले भाग को “ग्लोबिन”| हीमोग्लोबिन का मुख्य कार्य होता है lungs से ताजा ऑक्सीजन को शरीर की कोशिकाओं तक पहुँचाना जिससे की शरीर की कोशिकाओं में रासायनिक क्रियाएं हो सकें और हमारा शरीर सही ढंग से चलता रहे| रासायनिक क्रियाओं द्वारा उत्पन्न हुई कार्बन डाइऑक्साइड को हीमोग्लोबिन वापस lungs तक लेकर जाता है और जहाँ से वह हमारे शरीर से बहार छोड़ दी जाती है|

low hemoglobin

हमारे शरीर के कार्यों के लिए हीमोग्लोबिन बहुत ही जरुरी होता है इसलिए यह जरुरी है की हम अपने खून में इसकी कमी होने से रोकें| वैसे तो हीमोग्लोबिन की यदि थोड़ी सी कमी हो जाये तो कोई खास फर्क नहीं पड़ता, लेकिन यदि अधिक कमी होने लगे तो यह घातक भी हो सकती है|

loading...

आगे हम जानेंगे की आयरन क्यों जरुरी है और हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये के बारे में लेकिन आइए पहले जान लेते हैं की वो कोंसे कारण हैं जिनसे शरीर में हीमोग्लोबिन या यूँ कहें की खून की कमी हो सकती है| साथ ही यह भी जानेंगे की कैसे हीमोग्लोबिन की कमी को दूर करें कुछ जरुरी हीमोग्लोबिन बढ़ाने की टिप्स द्वारा|

आयरन क्यों है जरुरी?

बिना आयरन के शरीर में हीमोग्लोबिन का निर्माण नहीं हो सकता और यदि आयरन की शरीर में कमी हो जाये तो आप iron deficiency anemia जिसे हम आम भाषा में खून की कमी भी कहते हैं के शिकार हो जायेंगे| इसलिए यदि आप अपने शरीर में हीमोग्लोबिन को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको आयरन युक्त स्त्रोत का अधिक सेवन करना होगा| यह भी जरुरी है की आपको उन पदार्थों का सेवन बंद करना होगा जो की शरीर में आयरन के अवशोषण को कम करते हैं| साथ ही विटामिन c युक्त पदार्थों का सेवन अधिक करना होगा क्योंकि विटामिन c शरीर में आयरन के अवशोषण को बढ़ाने में मदद करता है|

कितना होना चाहिए शरीर में हीमोग्लोबिन का normal लेवल या रेंज?

जवान आदमी में  – 14 to 18 gm/dl

जवान औरत में  – 12 to 16 gm/dl

गरभवती स्त्री मरीं – 11 to 12 gm/dl

मध्य आयु आदमी में – 12.5 to 15 gm/dl

मध्य आयु औरत में  – 11.5 to 14 gm/dl

नवजात शिशु में  – 17 to 22 gm/dl

एक महीने के बच्चे में  – 11 to 15 gm/dl

छोटे बच्चों में  – 11 to 16 gm/dl

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण? causes of low hemoglobin

पोषण की कमी

सही पोषण की कमी से शरीर में जरुरी पोषक तत्वों जैसे आयरन और विटामिन B12 की कमी जो जाती है और minerals और विटामिन्स की कमी के कारण हीमोग्लोबिन का निर्माण बाधित होता है जिसके फलसवरूप बॉडी में ख़ून की कमी हो जाती है|

आयरन का अवशोषण न कर पाना

कभी कभी हमारा शरीर आयरन का अवशोषण नहीं कर पाता और ऐसा ज्यादातर Crohn’s disease and Celiac disease वाले लोगों में होता है| इसके कारण शरीर में हीमोग्लोबिन का लेवल गिर जाता है| calcium और tannins युक्त पदार्थ भी आयरन के अवशोषण को बाधित करते हैं| आप जो चाय पीते हैं उसमें tannins काफी मात्र में होते हैं जो की आपके शरीर में आयरन यानि खून की कमी करते हैं| यही कारण है की सब आपको चाय ना पीने की सलाह देते हैं और कहते हैं की चाय पीयोगे तो काले हो जायोगे मतलब आपकी त्वचा और होंठों का गुलाबी रंग काला हो जायेगा|

खून की कमी हो जाना

किसी दुर्घटना, चोट, सर्जरी, पीरियड में जयादा खून बहना, बार बार नकसीर फूटना, पेट में अलसर या खूनी बवासीर आदि के कारण शरीर में खून कम हो जाता है जिसके कारन शरीर में खून यानि हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है| बार बा blood donate करने वालों में ऐसा होना एक आम बात है|

RBC के निर्माण में कमी

कुछ बीमारियाँ जैसे लयूकेमिया, गुर्दे के रोग, hypothyroidism, लीवर सिरोसिस आदि होने पर शरीर में RBC यानि लाल रक्त कणिकाओं का निर्माण बाधित हो जाता है| इसी प्रकार कैंसर और HIV ट्रीटमेंट में दी जाने वाली दवाइयों के प्रभाव से भी शरीर में RBC और हीमोग्लोबिन के निर्माण में कमी आती है|

RBC का टूट जाना

कुछ रोग जैसे sickle cell anemia, thalassemia, और splenomegaly होने पर शरीर में RBC टूटना शुरू हो जाते हैं जिसके फलसवरूप शरीर में हीमोग्लोबिन का स्तर गिर जाता है|

pregnancy या गर्भावस्था के दौरान हीमोग्लोबिन की कमी होना एक आम बात है और इस कमी को पूरा करने के लिए आपकी डॉक्टर आपको आयरन और दुसरे पोषक तत्वों युक्त supplements लेने की सलाह देती है| यदि हीमोग्लोबिन के लेवल में थोड़ी सी गिरावट हो तो कोई खास बात नहीं होती क्योंकि हमारा शरीर शै डाइट मिलने पर उनकी भरपाई कर लेता है| लेकिन यदि आपके शरीर में अच्चानक से हीमोग्लोबिन का स्तर बहुत अधिक नीच गिर जाये तो यह किसी रोग के होने का संकेत होता है और इस स्तिथि में medical जांच और इलाज करवाना पड़ता है| आप अपने हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ा या normal रख सकते हैं बस इसके लिए आपको सही डाइट और जरुरी supplements लेने होंगे|

हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये टिप्स और उपाय | खून की कमी का इलाज

यदि आपको कोई रोग नहीं है तो आप अपनी डाइट और supplements की मदद से अपनी खून की कमी को दूर कर सकते हैं| यहाँ हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये के बारे में कुछ जरुरी टिप्स और घरेलु इलाज बताये जा रहे हैं|

डाइट और supplements

हीमोग्लोबिन बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका होता है की आप आयरन युक्त डाइट और supplements खाएं| डॉक्टर कहते हैं की आपको मीट से अच्छी पत्रा में आयरन मिल सकता है| लेकिन जो लोग मीट नहीं खाते वो या तो आयरन युक्त फल सब्जियां और दुसरे खाद्य पदार्थ खाएं और जरुरी मल्टीविटामिन लें| विटामिन B6, B12 और फोलिक एसिड भी हीमोग्लोबिन के निर्माण के लिए जरुरी होते हैं| नीचे कुछ फ़ूड आइटम्स दिए गाये हैं जिनमें ये सभी विटामिन और आयरन प्रचुर मात्र में पाए जाते हैं|

फल व सब्जियां

हरे पत्तेदार सब्जियां (जैसे सरसों, पालक, बथुआ, मैथी, धनिया, पुदीना आदि), टमाटर, ब्रोकोली, लाल शिमला मिर्च, बीन्स, मटर, पत्ता गोभी, चुकुंदर, मक्की, grapefruit, संतरा, सेब, अनार, मौसंबी, pineapple, केला, कीवी फ्रूट, raspberry, strawberry, अमरुद, पपीता, आम, चीकू, लीची, और औंकुरित दाल और चने आदि |

खाद्य पदार्थ

अनाज, अंडा, मछली, लाल मीट, दाल, cereals, ड्राई फ्रूट, नट्स (अखरोट, मूंगफली), कददू के बीज, गुड, सूरजमुखी के बीज, soymilk, काले तिल के बीज, oats आदि
इनके अलवा कुछ herbs यानि जड़ी बूटियों जैसे अश्वगन्धा, मैथी, spirulina, alfalfa, तुलसी, सेज, rosemary आदि के सेवन से भी हीमोग्लोबिन बढ़ाने में मदद मिलती है|

आयरन के अवशोषण करने वाले पदार्थों से बचिए

कुछ खाद्य पदार्थ शरीर में आयरन की कमी पैदा कर सकते हैं जैसे चाय, कॉफ़ी, fiber और calcium युक्त भोज्य पदार्थ इसलिए इनका सेवन लिमिट में करें| phosphates युक्त दवाइयां और antacids बी इसी श्रेणी में आते हैं | आपको oxalic acid यूक्त खाद्य पदर्थों का भी सेवन नहीं करना चाहिए| पालक में oxalic एसिड पाया जाता है लेकिन आयरन भी अच्छी मात्र में होता है इसलिए आप use खा सकते हैं|

इसी प्रकार यदि आपको coeliac disease है तो आपको gluten युक्त पदार्थों से परहेज करना चाहिए|

विटामिन C खूब खाएं

जब आप आयरन युक्त पदार्थों का सेवन कर रहे हों तब आपको विटामिन c भी अच्छी मात्रा में खाना होता है क्योंकि यह विटामिन शरीर में आयरन के अवशोष को बढाता है जिसके परिणामसवरूप आपका खून भी बढ़ता है|

आयरन supplements लें

आप आयरन युक्त supplements लें लेकिन डॉक्टर की सलाह के बाद| कभी कभी आयरन पेट में गड़बड़ी, कब्ज, गुदा में खुजली जैसे side effects कर सकता है इसलिए जरुरी है की आप डॉक्टर के निर्देश के अनुसार ही सही dose में आयरन युक्त supplements लें| साथ ही डॉक्टर को अपनी दवाई, डाइट और रोग आदि के बारे में भी बताना मत भूलें|

हीमोग्लोबिन यानि खून तेजी से बढ़ाने के कुछ प्रचलित घरेलु नुस्खे

  • आधा गिलास सेब का रस और आधा गिलास चुकुंदर (बीट root) के रस को मिलाकर रोजाना सुबह पीने से हीमोग्लोबिन तेजी से बढ़ता है|
  • यदि आप जानना चाहते है की हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये तो रोजाना आधा कप पलक के रस में आधा निम्बू निचोड़ कर पीयें|
  • तिल को भिगोकर उसकी पेस्ट बना लें इस पेस्ट का एक चम्मच शहद के साथ दिन में दो बार लेने से खून तेजी से बढेगा|
  • चना, मोठ मुंग को रात में अंकुरित कर सुबहे निम्बू का रस डालकर खाने से भी खून बढ़ता है और शक्ति भी आती है|
  • मक्का यानि कॉर्न को रोजाना सुबह उबाल कर खाने से भी फायदा होता है|
  • बात यदि आयुर्वेदिक इलाज की करें तो १/4 चम्मच अनंतमूल, दालचीनी और सौंफ का एक कप पानी के साथ उबाल कर चाय के रूप में पीजिये|
  • गर्मियों में फालसा के शरबत को पीने से anemia और शरीर में खून की कमी दूर होती है|
  • रोजाना सेब, अनार, टमाटर और pineapple का juice पीने से भी काफी जल्दी आप ठीक हो सकते हैं|
  • गुड और मूंगफली की गजक सर्दियों में खाने से साथ ही तिल की पपड़ी या गजक खाने से भी फायदे होता है| आप रोजाना गजक को दूध के साथ रात को पीयें लाभ होगा|

ये कुछ जरुरी हीमोग्लोबिन यानि खून की कमी को दूर करने के लिए जरुरी टिप्स थे | शायद अब आपको अपने प्रशन “हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाये” का सही उत्तर मिल गया होगा| हम आशा करते हैं in टिप्स और उपायों को पढ़कर आपको फायदा होगा|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

3 COMMENTS

    • aapko samay samay par doctor se milte rehna chahiye…aaj hamari science advance ho gayi hai aur sickle cell anemia ka rogi bhi aaram se jeevan ji sakta hai

  1. SIR,
    AGAR BODY ME NEW BLOOD TAIYAR HO RAHA HAI AUR USKO TEGI SE TAIYAR KARNE KE LIYE BEST MEDCINE KAUN SA HAI (FEMAL KE LIYE , AGE 19)

LEAVE A REPLY