हस्तमैथुन में क्या करना सही है और क्या गलत सच्चाई आप खुद जानिये

0

जिस तरह बिना नेट practice के कोई भी क्रिकेटर मैदान में अच्छा परफॉर्म नहीं कर पाता ठीक उसी तरह बिना hand practice के आप bed पर अच्छी तरह परफॉर्म नहीं कर सकते

जी हाँ उपरोक्त कथन बिलकुल सही है ये हम नहीं बड़े बड़े साइंटिस्ट्स की रिसर्च कहती है क्योंकि हस्तमैथुन वो पहली क्रिया है जो आपको अपने अन्दर के मर्द या मर्दानगी का एहसास करवाती है और आपको आगे आने वाली शादी शुदा जिन्दगी या लव लाइफ में कामयाब बनाने में मदद करती है| फिर भी हमारी पुरानी सोच के कारण हम इसके बारे में किसी से बात करने या कोई समस्या आने पर डॉक्टर के सामने जाने से कतराते हैं| हद तो तब हो जाती है जब लोग बिना किसी जानकारी के इस प्राकर्तिक क्रिया के बारे में तरह तरह की भ्रांतियां या अवधारणाओं को फैलाते हैं जिससे हमारी आने वाली पीढियां भी उन्हें मानने लगती है और गलत फ़हमी का शिकार हो जाती है| आजका लेख आपको यह बताएगा की हस्तमैथुन सही है या गलत यानि हस्तमैथुन करना right है या wrong – hand practice good or bad in Hindi के बारे में|

hand practice right or wrong

डॉक्टर कहते हैं की हस्तमैथुन पुरुष और महिला के लिए उतनी जी जरुरी क्रिया है जितना की सांस लेना| यदि आप शारीरिक रूप से एकदम स्वस्थ हैं और हस्तमैथुन नहीं करते तो आप कई प्रकार की मानसिक और  शारीरिक समस्याओं का शिकार हो सकते हैं| सबसे पहले आपको ये जाने की जरुरत है की हस्तमैथुन  में क्या सही है और क्या गलत ताकि आपको खुद पता चल सके की हस्तमैथुन करना सही है या गलत| इस लेख से हम आपको हस्तमैथुन से जुडी गलत फेहमियां और सच्चाई से रूबरू करवायेंगे ताकि आप खुद फैंसला कर सकें की वास्तव में हस्तमैथुन करना आपके लिए सही साबित होगा या गलत|

हस्तमैथुन से जुडी भ्रांतियां | हस्तमैथुन सही है या गलत | Hand practice good habit है या bad habit | Muth Marna Myths and Facts | मानो या न मानो पर यही सही है

 

गलत सोच – अधिक हस्तमैथुन करने से नपुंसकता, लिंग खड़ा न होना (ED) और नामर्दी आती है|

सही – रिसर्च में हजारों लोगों के ऊपर टेस्ट करके पता लगाया है की हस्तमैथुन अधिक करने से लिंग का ढीलापन, लिंग खड़ा न होना, नामर्दी जैसी कोई समस्या नहीं आती| इसके पीछे का कारण यह है की जब आप लम्ने समय से हस्तमैथुन कर रहे होते हैं या फिर लम्बे समय तक एक ही पार्टनर के साथ सम्भोग करते हैं तो आपकी रूचि समय के साथ कम होने लगती है| बात चाहे अपने हाथ की हो या एक ही पार्टनर के साथ बार बार सम्भोग की आप समय बीतने के साथ एक ही चीज़ बार बार करके बोर हो जाते हैं जिसके फलसवरूप आपको सम्भोग में अरुचि , हस्तमैथुन के समय लिंग ठीक से या बिलकुल न खड़ा होना आदि समस्या आती है| आपने खुद भी इससे महसूस किया होगा|

इसलिए जो लड़के हमें कहते हैं की लम्बे समय या कई सालों तक हस्तमैथुन करने के बाद उनके लिंग में कमजोरी आ गयी है और लिंग में तनाव न आने की समस्या हो रही है तो वो खुद एक बार सोच कर देखें की यदि आपको कोई अनजान लड़की स्पर्श करे तो क्या आपकी वो समस्या वैसी ही रहेगी या नहीं?

गलत – शादी शुदा लोग हस्तमैथुन करें तो दाल में काला है|

सही – अकसर लोग पूछते हैं की शादीशुदा लोग यानि शादी के के बाद भी जोड़े हस्तमैथुन करते हैं? इसका जवाब है हाँ| शादी के बाद आप अपने साथी के साथ सम्भोग करते हैं लेकिन समय बीतने के साथ आदमी और औरत की शारीरक जरुरत अलग हो जाती है और वो अपने हिसाब से अपने आपको यौन सुख देने के बारे में सोचते हैं जिसके फलसवरूप आदमी हो या औरत कभी कभी खुद ही हस्तमैथुन करके अपने आप को संतुष्ट कर लेते हैं| ऐसा करना बिलकुल भी गलत नहीं है और यह कभी नहीं सोचना चाहिए की आपका पार्टनर आपको धोखा दे रहा है| आज के समय में लोग जागरूक हो रहे हैं और कई लोग इस बात को सही मानते हैं गलत नहीं|

गलत सोच – हस्तमैथुन के फायदे नहीं होते केवल नुक्सान होता है|

सही – हस्तमैथुन यदि जरुरत से जयादा हो या फिर आप इस लत में पागलपन की हदें पार कर दें तो ही आपके शरीर पर इसका नकारात्मक प्रभाव या दुष्परिणाम पड़ेंगे| लेकिन यदि आप इसे limit में करते हैं जो की कम उम्र के लड़कों के लिए एक में १ या २ बार हो सकती है और 40 के ऊपर यह limit हफ्ते में २ से 3 बार हो सकती है, तो इस स्तिथि में आपको हस्तमैथुन से ढेर सरे लाभ या फायदे मिलेंगे जैसे:

  • आपकी नींद की क्वालिटी में सुधार होगा|
  • आप बहार गलत महिलाओं से सम्भोग से बचते हैं जिसके फलसवरूप आप गभीर यौन रोग, गुप्त रोग और एड्स जैसी घटक बिमारियों से बचते हैं|
  • यह आपके आत्मविश्वास को बढ़ने में मदद करती है|
  • यकीन मानिए यह आपके शरीर के बहुत से गुप्त रोगों को दूर करने का एक रामबाण उपाय है| इसके बारे में हम आपको दुसरे लेख में बताएँगे|
  • आपने देखा होगा की हस्तमैथुन करने से आपका मानसिक तनाव, चिंता, depression आदि ठीक हो जाते हैं| आपने भी महसूस किया होगा की चिंता और तनाव के कारण कभी कभी आपको नींद नहीं आती और हस्तमैथुन करने के बाद आप अधिक रिलैक्स महसूस करते हैं और हल्का भी|
  • महिलाओं में हस्तमैथुन पीरियड से पहले, दौरान और बाद में होने वाले पेट के दर्द और मासं पेशियों में ऐंठन को दूर करने में मदद करती है|
  • नियमित हस्तमैथुन करने से आपके लिंग की एक्सरसाइज होती है जिससे उसमें खून का दौरा बेहतर बना रहता है फलसवरूप आपको लिंग का ढीलापन और नसों में कमजोरी की समस्या नहीं होती| साथ ही यह क्रिया आपकी पेल्विक फ्लोर muscle के लिए बहुत अच्छी मानी जाती है| यह muscle आपको यौन रूप से लम्बे समय तक स्वस्थ रखने में मदद करती है|
  • नियमित हस्तमैथुन से आप मानसिक और शारीरक रूप से स्ट्रोंग बनते हैं|
See also  लिंग की लम्बाई मोटाई बढाने के पुराने तरीके और उनके रिजल्ट्स

गलत – हस्तमैथुन से लैंगिक विकास और शारीरिक विकास पर बुरा प्रभाव पड़ता हैं – यानि की शरीर और आपकी आपके लिंग आदि का विकास रुक जाता है| 

सही – यदि ऐसा होता तो आज सभी का विकास न हो (वो जो लैंगिक रूप पूरी तरह से स्वस्थ होते हैं)| लोग यह भी पूछते हैं की बच्चे हस्तमैथुन करें तो उनका कद और लिंग की लम्बाई नहीं बढ़ पाती और वो पतले और कमजोर हो जाते हैं| आज तक इस विषय पर कई रिसर्च हो चुकी हैं और कुछ साल पहले की गयी रिसर्च में 1000 14 से 17 साल के लड़के और लड़कियों के ऊपर शोध किया गया जो की रोजाना हस्तमैथुन एक या उससे अधिक करते थे| कुछ साल उनपर रिसर्च चलती रही और अंत में यह परिणाम आया की वो सभी लैंगिक, प्रजनन, शारीरक रूप और मानसिक रूप से स्वस्थ रहे और उनकी लम्बाई तथा शरीर पर हस्तमैथुन का कोई बुरा असर नहीं पड़ा| तो निश्चित रूप से यह कहना गलत होगा की हस्तमैथुन आपके विकास और वृद्धि पर प्रतिकूल असर डालती है| जो लोग अपनी बड़ी उम्र में भी स्वस्थ हैं वे लोग इस बात को भलीभांति जानते हैं| जो लोग दूसरों के अधूरे ज्ञान को सुनकर इस गलत तथ्य को मानते हैं वो लोग खुद को और दूसरों को भ्रम में रखते हैं|

गलत – हस्तमैथुन से लिंग किसी काम का नहीं रहता – हस्तमैथुन से लिंग छोटा, पतला और कमजोर हो जाता है|

सही – हस्तमैथुन लिंग के लिए बहुत ही उत्तम एक्सरसाइज मानी जाती है जो की आपके लिंग को स्वस्थ रखने में, नए शुक्राणु बनाने में और आपके प्रजनन तंत्र को सेहतमंद रखने के लिए जरुरी होती है लेकिन तभी जब आप इसे एक हद में और स्वस्थ रूप में करते हैं| लेकिन कुछ लोग अपनी पॉवर देखने के लिए इसे अधिक बार करना शुरू कर देते हैं या फिर कई लोग अपने दोस्तों से अधिक बार करने का प्रयास करते हैं तो इस केस में लिंग को नुक्सान पहुँचता है और बार बार यह क्रिया करने से आपका लिंग आपके स्पर्श के प्रति संवेदी (sensitive) हो जाता है| समय बीतने के साथ साथ आपका लिंग आपके स्पर्श से तनाव में नहीं आता और आपको यह लगता है की आपका लिंग कमजोर होगया है या फिर वो ठीक से काम नहीं कर रहा|

ध्यान रखिये आपको एक स्वस्थ जिंदगी जीनी है इसलिए हमेशा अपनी हद को याद रखें| लेकिन यदि आप हस्तमैथुन के world रिकॉर्ड को तोड़ने की कोशिश करेंगे तो आपके लिंग को भारी नुक्सान हो सकता है जैसे लिंग में फ्रैक्चर, लिंग का पूरी जिंदगी खड़ा न होना, या लिंग की कोई गंभीर समस्या| इसलिए आपको हमेशा अपनी limit नहीं भूलनी चाहिए| कुल मिलकर लिंग का छोटा होना, पतला होना दूसरे कारकों पर निर्भर करता है और हस्तमैथुन लिंग की सेहत के लिए और उससे लिंग को स्वस्थ रखने के लिए एक बहुत ही जरुरी प्राकर्तिक क्रिया है जिससे आदमी ही नहीं जानवर भी करते हैं|

गलत – हस्तमैथुन से अंधे हो सकते हैं

सही – हस्तमैथुन एक natural क्रिया है और इसे छोटे और बड़े सब करते हैं लेकिन जब बात हद से बहुत जयादा हस्तमैथुन करने की आती है तो आप सभी को पता है की limit से अधिक यदि अमृत भी पिया जाए तो उसके भी नुक्सान होंगे| ये उनके लिए है जो दिन में कई बार हस्तमैथुन करते हैं और उनको इसकी आदत पड़ी हुई है| देखिये बहुत ज्यादा यदि आप हस्तमैथुन की अति कर देते हैं तब आपके शरीर से धीरे धीरे उन पोषक तत्वों की कमी होती है जो शरीर के कार्यों को ठीक रखने के लिए जरुरी होते हैं जैसे आँखों को स्वस्थ रखने का कार्य| इसके अलावा आँखों को स्वस्थ रखने वाले neuro chemicals का भी शरीर में लेवल कम होने लगता है जिसके फलसवरूप आँखों का धुंधलापन और आँखों के आगे आकृतियाँ बनना जैसी समस्याएं हो सकती हैं लेकिन अंधापन होना किसी और बीमारी जैसे मधुमेह, ग्लूकोमा, high blood pressure, मोतियाबिंद, presbyopia आदि समस्यों के समय पर इलाज न होने पर हो सकता है|

आप आँखों की हस्तमैथुन से आई नजर कमजोर होने की समस्या को निम्न तरीकों से बढ़ा सकते हो:

  • आँखों के डॉक्टर से आँखों की रोशिनी अच्छी रखने वाली कुछ एक्सरसाइज सीखें और उन्हें रोजाना करें इससे आँखों की कई समस्याएं जैसे आँखों का तनाव और थकान आदि भी दूर होंगी|
  • वो पदार्थ अधिक खाएं जिनमें अधिक मात्रा में rutin, lutein, zexanthin, zinc और  copper हो|
  • आँखें यदि फड़क रहे हैं तो ठंडा ताप लगाकर आप उन्हें सही कर सकते हैं|
  • इसके अलावा डॉक्टर से नियमित रूप से अपनी आईज की जांच करवाते रहे ताकि आपकी आईज लम्बे समय तक healthy रहे|
See also  जरुरत से ज्यादा हस्तमैथुन के नुकसान – limit se jayada hand practice ke side effects

गलत – आप अंधाधुंध हस्तमैथुन कर सकते हैं

सही – हस्तमैथुन की limit हर किसी इंसान के लिए अलग अलग हो सकती है और यह इस बात पर निर्भर करती है की आपकी उम्र क्या है, आपका स्वास्थ्य कैसा है और आपमें पुरुष hormones का स्तर क्या है| कम उम्र में स्वस्थ लड़के दिन में दो या तीन  बार भी हस्तमैथुन कर सकते हैं लेकिन उम्र बढ़ने के साथ साथ आपके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की कमी होने से आप हफ्ते में एक, दो या तीन बार ही इस क्रिया को कर पाते हैं| जरुरत से ज्यादा हस्तमैथुन करने से कुछ तो नुक्सान हो सकते हैं जिन्हें आप हमारे दुसरे लेख – जरुरत से ज्यादा हस्तमैथुन करने के नुक्सान में पढ सकते हैं| कुल मिलाकर यदि हस्तमैथुन से आपको लगता है की आपको कोई समस्या आ रही है तो हमेशा अपनी limit को याद रखिये और अपने ऊपर थोडा कण्ट्रोल रखिये| हस्तमैथुन आपके लिए कितना सही है और कितना गलत ये फैंसला आपके खुद के हाथ में ही है|

गलत – हस्तमैथुन से HIV/AIDS होता है

सही – HIV हस्तमैथुन से नहीं फैलता लेकिन कई नशा करने वाले लोग दूसरों की सुई आदि का प्रयोग करते हैं और इस बीमारी का शिकार हो जाते हैं| इनमें से कई लोग सोचते हैं की हस्तमैथुन के कारण उन्हें एड्स हुआ है| यह बात वो लोग करते हैं जो दूसरों की अज्ञानता भरी बातों में आते हैं|

गलत – हस्तमैथुन आदमी के वीर्य को पतला और शुक्राणुओं की संख्या को कम करके उससे नपुंसक या नामर्द बना सकती है

सही – हस्तमैथुन यदि आप नहीं करेंगे तो आपके वीर्य की मात्रा और उसमें पाए जाने वाले शुक्राणुओं की संख्या और शुक्राणुओं की गति पर बुरा प्रभाव पड़ेगा| ऐसा देखा गया है की जो लोग दो या तीन दिन छोड़कर हस्तमैथुन करते हैं तो उनका वीर्य गाढ़ा और अधिक मात्रा में आता है लेकिन जो लोग रोजाना दिन में २ बार से अधिक हस्तमैथुन करते हैं उनका वीर्य पतला हो जाता है और वे लोग सोचते हैं की हस्तमैथुन के नुक्सान के कारण ऐसा उनके साथ हुआ है|

हम जो आपको बताने जा रहे हैं उसपर आप अँधा विश्वास कर सकते हैं और वो यह है की जब आप एक या दो दिन के अंतराल के बाद हस्तमैथुन करते हैं तब आपका वीर्य सीधा वीर्य को लाने वाली नलिका से आता है जो की वहां पहले से होता है और धीरे धीरे गाढ़ा होता रहता है लेकिन यदि आप 24 घंटे में 3 -4 या उससे अधिक बार या फिर रोजाना कई बार हस्तमैथुन करते हैं तब उस वीर्य में आपकी प्रोस्टेट ग्रंथि का पतला स्त्राव भी मिला होता है जिसके कारण आपको ये लगता है की आपका वीर्य पतला हो गया है और आपके शुक्राणु कम हो गए हैं लेकिन वास्तव में ऐसा होता नहीं| यदि आप स्वस्थ हैं और कोई नशा नहीं करते तो आपके पतले वीर्य में भी भरपूर मात्रा में शुक्राणु होंगे| इसलिए आज से यह सोचना बंद कर दीजिये की हस्तमैथुन से वीर्य पतला और शुक्राणु कम होते हैं जिससे नामर्दी और नपुंसकता आती है| बस अपने ऊपर कण्ट्रोल रखें और एक दिन छोड़ कर हस्तमैथुन करें जिससे की आपको फिर से गाढ़ा वीर्य देखने को मिलेगा|

गलत – हस्तमैथुन से कमजोरी आती है और आदमी शारीरिक रूप से कमजोर बन जाता है

सही – हस्तमैथुन जब आप सही ढंग से और सही समय पर यानि कभी कभी करते हैं तब यह क्रिया आपको रिलैक्स करती है और आपका शरीर हल्का महसूस करता है| वही अधिक हस्तमैथुन जो लोग करते हैं उन्हें शारीरिक कमजोरी होना आम बात है| बस बात इस बात पर निर्भर करती है की आप आप अधिक बार कर रहे हैं या limit में| सही limit में यदि हस्तमैथुन करते हैं तो आपको थकावट और कमजोरी के लक्षण देखने को नहीं मिलेंगे| कुल मिलाकर हर चीज़ पर कण्ट्रोल तो रखना बनता है फिर चाहे बात हस्तमैथुन की हो या एक्सरसाइज की| छोटी सी बात ये है की आप यदि हद से ज्यादा शरीर से काम लेंगे तो थकावट होनी लाजमी है|

गलत – हस्तमैथुन से pimples, एक्ने  यानि कील मुंहासे  होते हैं

सही – आपने अक्सर अपने दोस्तों से सुना होगा या देखा होगा की हस्तमैथुन करने से skin सम्बंधित problems जैसे एक्ने, pimples, ब्लैक हेड्स, cysts, कील मुहांसे आदि होते हैं| लेकिन आपको यह बता दें की यह सब problem आपके skin को नम रखने के लिए त्वचा में पायी जाने वाली तेल बनाने वाली ग्रंथियो के कारण होता है| ये तेल बनाने वाली ग्रंथियां hormones के कण्ट्रोल में रहती हैं न की हस्तमैथुन के कण्ट्रोल में| आपकी जवानी के दिनों में hormones अधिक होने के कारण आपकी तेल बनाने वाली ग्रंथियां ओवर एक्टिव हो जाती हैं फलसवरूप ये अधिक तेल बनती हैं जो की skin की देख भाल की कमी के कारण त्वचा पर अधिक तेल होने, धुल मिटटी जमने, इन्फेक्शन आदि के कारण फोड़े फुंसी, कील मुंहासे आदि की समस्या पैदा हो जाती है| आपने देखा होगा की बड़ी उम्र वाले हस्तमैथुन करने वालों में pimples की problem नहीं होती| कुल मिलाकर आपकी कम उम्र में आपके शरीर में हार्मोनल बदलाव के कारण त्वचा सम्बन्धी ये समस्याएं होती हैं न की हस्तमैथुन के कारण| बस युवावस्था में चाहिए की आप अपनी त्वचा की ठीक से देखभाल करें ताकि आपकी त्वचा problem फ्री रहे|

See also  स्वप्नदोष क्यों होता है – बचाव और रोकने के तरीके

गलत – हस्तमैथुन से weight loss होता है  – बॉडी नहीं बन पाती|

सही – शरीर का वजन कम होना, मसल्स का कमजोर होना आपके खान पान और आपकी जीवनशैली पर निर्भर करता है| कुछ लोग कहते हैं की हस्तमैथुन करने से टेस्टोस्टेरोन कम हो जाता है जिससे बॉडी नहीं बन पाती और मसल्स कमजोर हो जाती है| hand practice  यदि limit में हो तो टेस्टोस्टेरोन का स्तर नार्मल बना रहता है| हद से अधिक हस्तमैथुन से लेवल कुछ गिर सकते हैं लेकिन फिर भी शरीर उन्हें कण्ट्रोल में कर लेता है| लेकिन जो लोग अधिक hand practice करते हैं उनमें कंसंट्रेशन की कमी, थकावट, मोटिवेशन की कमी आदि के कारण वो एक्सरसाइज और अपने खान पान पर ध्यान नहीं रख पाते फलसवरूप शारीरक के विकास में बाधा आती है और  आपका gym और एक्सरसाइज करने में दिक्कत आती है या आपका एक्सरसाइज करने का बिलकुल मन नहीं करता| इसका प्रभाव ये होता है की आपकी बॉडी ठीक से नहीं बन पाती|

गलत – हस्तमैथुन से बाल झड़ना – हेयर loss problem यानि कम उम्र में गंजापन होना समस्या होती है|

सही – अब यह केस देखिये – लोग कहते हैं की हस्तमैथुन करने से है हेयर loss होता है जिसके कारण गंजापन होता है और यहाँ भी रिसर्च पूरी हो चुकी है| देखिये, पुरुषों में बाल Dihydrotestosterone DHT हॉर्मोन की कमी के कारण उड़ते हैं| आपको जानकार हैरानी होगी की कण्ट्रोल में हस्तमैथुन करने से शरीर में DHT हॉर्मोन का स्तर कम नहीं होता बल्कि बढ़ता है| DHT हॉर्मोन का यह बढ़ा हुआ लेवल आपके बालों को झड़ने से रोकता है तो फिर गंजापन होने का तो सवाल ही नहीं उठता| यदि आपके बाल कम उम्र में झड रहे हैं तो इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे आनुवंशिक कारण, पोषण की कमी, बालों की देख भाल न करना, dandruff, स्कैल्प इन्फेक्शन, हेयर केयर प्रोडक्ट्स का अधिक इस्तेमाल आदि|

गलत – हस्तमैथुन से हाइट रुक जाती है और कद उम्र के हिसाब से नहीं बढ़ पाता|

सही – अधिक हस्तमैथुन का आपकी लम्बाई पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है लेकिन वह किसी कमी के कारण या हस्तमैथुन के नुक्सान के कारण नहीं होता बल्कि आपकी मानसिक स्तिथि, आपके मूड में बदलाव, आपका एक्सरसाइज के प्रति लगाव कम होना आदी के अलवा आपके आनुवंसिक गुण, पोषण और अन्य कारकों पर निर्भर करता है| हस्तमैथुन तो दुनिया में हर कोई करता है और यदि हाइट कम होने के लिए हस्तमैथुन को जिम्मेदार माना जाये तो आज कोई भी दुनिया में लम्बा नहीं होता|

गलत – हस्तमैथुन से दिमाग कमजोर होता है और याददाश्त ख़राब हो जाती है

सही – हस्तमैथुन का पहले फायदा यही है की यह किया दिमाग को रिलैक्स करती है और आपके मानसिक तनाव, चिंता, डर और depression को दूर करके आपमें wellness की फीलिंग को बढ़ाने में मदद करती है लेकिन यह तभी होता है जब आप हस्तमैथुन को जरुरत पड़ने पर करते हैं| जो लोग जूनून में इस क्रिया को दिन में बार बार करते हैं उनका दिमाग अधिकतर हस्तमैथुन करने के बारे में अधिक सोचता है और उनके दिमाग में अक्सर अश्लील विचार चलते रहते हैं जिनसे उनकी कंसंट्रेशन खराब होती है और वे लोग हस्तमैथुन को दिमाग की कमजोरी और याददाश्त में कमी से जोड़कर देखने लगते हैं| यदि आप स्टूडेंट हैं तो पढ़ाई, एक्सरसाइज और खेल कूद में मन लगाइए, अच्छी और healthy डाइट खाइए और सबसे ऊपर अपनी हस्तमैथुन की आदत पर सयम रखिये और यदि आप ऐसा करते हैं तो आप मानसिक रूप से एक दम स्वस्थ रहेंगे|

Conclusion – क्या  हस्तमैथुन करने से लाभ होता है या हानि ?

जैसा की आपने जाने ही लिया की हस्तमैथुन करने के लिए क्या सही है और क्या गलत तो इस आधार पर आप खुद समझ सकते हैं हस्तमैथुन से लाभ और हनी के बारे में| सारांश में – यदि हस्तमैथुन आप नियमित लेकिन limit में करते हैं तो उसके ढेरों लाभ आपको मिलेंगे और यदि आप हद से ज्यादा इसे करेंगे या फिर किसी नशे में रह कर इससे limit से जयादा करेंगे तो या निश्चित रूप से हानि भी कर सकती है| पानी हो या अमृत, दावा हो या जड़ी बूटी, या फिर कोई भी फायदा करने वाली खाने की कोई चीज़ हो यदि आप हद से ज्यादा उनका इस्तेमाल करेंगे तो वो आपको दुष्परिणाम देगी न की लाभ और यही बात हस्तमैथुन पर भी लागू होती है|

दोस्तों, ऐसे ही कुछ और प्रशन हैं जो की लोग हमसे पूछना चाहते हैं जैसे

क्या हस्तमैथुन करने से आँखों के डार्क सर्कल्स यानि काले घेरे होते हैं?

क्या हस्तमैथुन से चेहरे की सुन्दरता, glow,  रूप रंगत उड़ जाती है?

क्या हस्तमैथुन से संतान प्राप्ति में दिक्कत आती है?

इन प्रश्नों का जवाब हम अपने अगले आर्टिकल्स में देंगे इसलिए अधिक जानकारी पाने के लिए हमसे जुड़े रहिये| आपको यहाँ सबसे सही जानकारी देने का हम वादा करते हैं क्योंकि हमारा लक्ष्य भारत वासियों खास कर हमारी युवा पीढ़ी को हर तरह से स्वस्थ बनाना है न की उन्हें अधूरा ज्ञान देखर उनको अन्धविश्वास की और धकेलना|

लोगों की इतनी help की लेकिन हमारी नयी वेबसाइट like नहीं की अभी तक 😥

loading...