गले में गांठ होना कारण, लक्षण और इलाज

2

गले में गांठ होना एक बहुत ही सामान्य बात हो सकती है जब तक की gale ki ganth में दर्द या ज्यादा सूजन न हो| गले के आगे, पीछे या साइड में गांठ यानि throat lump का होना किसी को भी कभी भी हो सकता है और बिना जांच करवाए गले की गांठ को गले का कैंसर या throat tumor नहीं समझना चाहिए क्योंकि throat में गांठ होने के बहुत से और कारण भी होते हैं और अलग अलग लक्षण भी जिनसे यह पहचान हो सकती है की गले की गांठ कैंसर के कारण है या किसी और कारण से|

throat me ganth ilaj

एक जरुरी बात आपको यहाँ जाननी है की यदि आपको गले में आगे की तरफ, गले के पीछे या साइड में गांठ होने का एहसास होता है और उसके कारण यदि आपको थूक निगलने में या कुछ खाने पीने के बाद निगलने में दिक्कत नहीं होती तो यह globus sensation के कारण होता है जिसमें गांठ होती नहीं लेकिन उसके होने का एहसास मात्र होता है| व्यक्ति को ऐसा लगता है की गले में कुछ अटका है या गले में कुछ उभरा हुआ है| globus sensation की समस्या किसी को भी कंही भी हो सकती है और जीवन में ऐसा कई बार हो सकता है|

साथ ही जब तक निगलते समय यदि आपको दर्द और गले में सूजन के अलावा कुछ और सीरियस problem हो तो ENT डॉक्टर से उसकी शीघ्र जांच करवानी चाहिए|

गले में गांठ होने के कारण | Lump in Throat Causes / Reasons

loading...

जैसा की हमने पहले बताया की गले में गांठ होने का एहसास यदि आपको होता है तो उसके पीछे कई कारण हो सकते हैं जैसे

गुटखा, पान मसाला, जर्दा खाना

जो लोग सिगरेट, गुटखा, पान मसाला, खैनी, जर्दा, सुपारी आदि का सेवन करते हैं उनमें गले में globus sensation होना कई कारणों से हो सकता है| साथ ही ये सबी पदार्थ गले में कैंसर भी कर सकते हैं जो की एक सीरियस condition है|

गले की muscle में तनाव आना

जब आप बात नहीं करते होते या कुछ खा पी नहीं रहे होते तब आपके गले की मांस पेशियाँ शिथिल रहती हैं और यदि उन मसल्स को आराम न मिले तो उनमें तनाव आ जाता है जिससे आपको गले में कुछ अटकने की शिकायत होती है| इसके अलावा यदि आपके गले की मसल्स में कोई समस्या आ जाए तब भी आपको गले में गांठ होने का एहसास होता है| जब ऐसा होता है तब आपको थूक निगलने में दिक्कत या दर्द होता है लेकिन जब आप कुछ खाकर निगलते हैं तब आपको दिक्कत कम होती है|

एसिड reflux की समस्या होना

एसिड reflux होने पर आपके पेट से एसिड आपकी भोजन की नली और गले तक आता है जिससे आपके गले की मसल्स में तनाव आ जाता है और आपको गले में गांठ जैसा फील होता है|

Postnasal drip

बुखार, जुखाम, साइनस की समस्या, सर्दी लगने के बाद आपके नाक और साइनस से अधिक मात्र में बलगम आपके गले में एकत्रित हो जाती है जिससे आपके गले की संवेदनशीलता बढ़ जाती है और आपको गले में उभार या गांठ होने का एहसास होता है|

मानसिक तनाव, चिंता, depression या दुःख में रहना

जब आप मानसिक रूप से परेशान होते हैं आपकी globus sensation की फीलिंग अधिक हो जाती है और आपको गले में अटकने जैसा कुछ लगने लगता है| इसी प्रकार मानसिक परेशानी होने से आपको नींद लेने में परेशानी होती है जिससे थकावट होना आम बात है| अधिक थकावट की स्थिति में भी गले की यह problem बढती है|

Thyroid की बीमारी होना

globus sensation यानि गले में कुछ अटकना का एहसास होना या गांठ होना लगना थाइरोइड की समस्या से भी हो सकता है खास कर उन लोगों को जिनकी थाइरोइड ग्रंथि निकाल दी गयी है|

गले में कुछ अड़ जाना

गले में कोई सॉलिड चीज़ जैसे कोई प्लास्टिक का टुकड़ा, या कोई अन्य चीज़ गलती से अटक जाती है तो ऐसे में गले में घाव होने का उस अटकी चुई चीज़ से भी समस्या आ सकती है और इस case में आपको ent डॉक्टर से इलाज ले लेना चाहिए|

इसके अलावा कुछ करक होते हैं जिनके कारण globus sensation हो सकती है जैसे

temporomandibular joint (TMJ) सम्बन्धी समस्या होना

आपके मुंह में थूक का कम बनना या थूक की कमी

cervical osteophytes या  bone spurs

ईगल सिंड्रोम होना

laryngeal और pharyngeal तनाव होना

गले में गांठ होने पर डॉक्टर से कब मिलना जरुरी है ?

गले में गांठ का यदि आपको एहसास होता है और आपको गले में आगे, पीछे या साइड में गांठ लग रही है लेकिन गांठ में दर्द या सूजन नहीं है तो इस स्थिथि में गांठ अपने आप ठीक हो जाती है| लेकिन अपना वहम दूर करने के लिए आपको डॉक्टर से जांच करवा ही लेनी चाहिए साथ ही यदि यह समय बहुत लम्बे समय से है तो आपको डॉक्टर से जरुर मिलना चाहिए|

खाना पीना निगलने में दर्द होना या गले में गांठ वाली जगह पर दर्द या सूजन होना खतरनाक समस्या जैसे tumor या कैंसर का भी संकेत हो सकता है खास कर उन लोगों में जो तम्बाकू, गुटखा, पान मसाला, सिगरेट आदि की लत के शिकार हैं|  इस स्तिथि में आपको बिना देर किया डॉक्टर से जांच करवानी चाहिये ताकि कैंसर या tumor का पहले ही पता चल सके और उससे शुरुवात में ही रोक दिया जा और यदि आपने इलाज में देर करने की भूल की तो tumor बढ़ने से इलाज होना असंभव हो जाता है जो की अधिकतर जानलेवा सिद्ध होता है|

गले में जांच के लिए किस डॉक्टर से मिलना चाहिए?

Throat में गांठ का इलाज और जाच करवाने के लिए ENT चिकित्सक यानि ear nose throat डॉक्टर की मदद लेनी होती है| ENT डॉक्टर गांठ जांचने के लिए एक नाली आपके नाक या गले में डालकर आपके अन्दर की जांच करता है यदि आपके गले में कुछ भी नहीं है तो आपको कोई भी दवा नहीं दी जाती|

गले में गांठ होने से कब खतरा हो सकता है?

यदि गले में गांठ का कारण globus sensation है तो आपके लिए यह खतरनाक नहीं है लेकिन यदि आपको इसके साथ दुसरे कोई भी लक्षण दिखाई देते हैं तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए खास कर आपको गले में गांठ होने के निम्न लक्षण महसूस हों

गले में बहुत अधिक दर्द करना

भोजन का अटकना और अन्दर न जा पाना

निगलने में तेज दर्द या दिक्कत होना

यदि आपके गले की गांठ को आप हाथ से महसूस कर सकते हैं या फिर मुह खोलकर देख सकते हैं

आपको गांठ के कारण बुखार रहने लगे

आपका वजन यानि weight कम होना शुरू हो जाए

आपको बहुत अधिक थकावट या कमजोरी महसूस हो रही हो

गले की गांठ के लक्षण जो ऊपर दिए गए हैं उनको कभी भी अनदेखा न करें और तुरत डॉक्टर से मिलने की कोशिश करें| समय पर इलाज आपको गंभीर समस्या जैसे throat कैंसर से बचा सकता है|

गले में गांठ का इलाज और उपाय | Throat lump or bump treatment in Hindi

गले में कुछ अटकने जैसा लगाना लेकिन गले में गांठ न होना की स्थिति में आपको गले की गांठ का इलाज लेने की जरुरत नहीं होती क्योंकि ऐसा अपने आप ठीक भी हो जाता है| लेकिन यदि आपको आराम न आये और आपको गांठ के ऊपर दिए गए लक्षण दिखाई दें तो इलाज करवाना जरुरी हो जाता है| गले की गांठ का इलाज अलग अलग स्थिति में डॉक्टर अलग अलग तरीकों से करता है जैसे

muscle थेरेपी

गले की मांस पेशियों में तनाव होने की स्थिति में डॉक्टर आपको ENT या speech therapist के पास बेझ सकता है और ये डॉक्टर आपको गले में muscle के तनाव करने के तरीके और उपाय बताएँगे जिनसे आपको आराम मिलेगा|

Post nasal drip का इलाज

पोस्ट nasal drip होने के कारण गले में गांठ जैसा लगना होने पर आपको डॉक्टर nasal spray या नाक में डालने वाली ड्रॉप्स या फिर कोई दूसरी पीने की दवा दे सकता है जिससे गले में जमा बलगम दूर होगी|

मानसिक तनाव कम करने की Therapy

Depression, चिंता, दुःख आदि मानसिक परेशानी के कारण गले में गांठ जैसा फील होने का इलाज डॉक्टर आपको मानसिक तनाव कम करने की दावा, एक्सरसाइज या थेरेपी देकर दूर कर सकता है|

एसिड reflux होने पर इलाज

यदि आपकी गले की गांठ का होना एसिडिटी या एसिड reflux के कारण है तो आपको आमतौर पर डॉक्टर antacids यानि एसिडिटी कम करने वाली दवा लेने की सलाह दे सकता है|

globus sensation कम करना

globus sensation कम करने के लिए यदि आपको थोड़ी थोड़ी देर में कुछ पीते रहते हैं और थूक नियमित रूप से निगलते रहते हैं तो आपको काफी आराम मिलेगा|

गले में गांठ होने से बचाव | lump in throat prevention tips

रिसर्च अभी तक यह जानने में नाकाम रही है की आखिर globus sensation के पीछे का असली कारण क्या क्या हो सकता है लेकिन आप निम्न बचाव के उपाय अपनाकर गले में गांठ होने से बचाव कर सकते हैं|

पानी खून पीजिये जिससे आपका गला और आपकी मसल्स नम रहे और आपका शरीर सही तरह से कार्य करता रहे| पानी की कमी से मुंह और गला सूखता है जिससे गले में घाव और globus sensation होने की सम्भावना अधिक रहती है|

सिगरेट, शराब, गुटखा, खैनी, पान मसाला, जर्दा आदि यदि आप खायेंगे तो समस्या कैंसर तक भी पहुँच सकती है जो की जानलेवा सिद्ध हो सकता है इसलिए अपने गले और शरीर की भलाई के लिए इन मादक चीज़ों की बुरी लत छोड़ने की कोशिश करिए|

बुखार, सर्दी जुखाम, गला ख़राब या गले में खारिश होने पर जितना कम हो सके उतना बोलिए| अधिक बोलने से आपके गले की मसल्स सूज सकती हैं और उनको नुक्सान भी पहुँच सकता है|

तेज बोलने और चिल्लाने से परहेज करिए क्योंकि ऐसा करने से आपके गले में पाए जाने वाले ध्वनी यंत्र और मांसपेशियों को नुक्सान हो सकता है|

गले में गांठ होने के कारण, लक्षण और गांठ का इलाज के बारे में जानने के बाद आपको यह फैंसला करना है की यदि आपकी स्थिति सही है तो आपको चिंता करने की जरुरत नहीं लेकिन गांठ बहुत लम्बे समय से है और आपको उसके कारण दुसरे सीरियस लक्षण महसूस हो रहे हैं तो आपको उसका समय पर इलाज करवाना चाहिए क्योंकि आजकल का खान पान और खाद्य पदार्थों में कैंसर कारक पाए जाते हैं इसलिए गले की या शरीर की कोई भी गांठ हो तो उसका समय पर टेस्ट और इलाज करवाएं|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...

2 COMMENTS

  1. sir
    mje bhi gle me ganth feel ho rehi h pr drd or kuch nhi h ! 3 din se lg reha h phle mje lga khana he atak reha h pr ajj khana khate time mje bht feel ho reha tha ke koi gath h khana bhi lightly sa atak reha tha….
    kapi achi jaankari thi
    thanks sir

LEAVE A REPLY