नाभि में इन्फेक्शन – दर्द, सूजन और पस निकलना

4

नाभि में इन्फेक्शन (navel infection)यानि संक्रमण होने का मुख्य कारण होता है साफ़ सफाई की कमी और नाभि का अन्दर की और धसे होना जिसके कारण लोग उसकी सफाई करने के बारे में अकसर भूल जाते हैं जिसके फलसवरूप उस जगह पर बैक्टीरिया और फंगस आसानी से पनपती है और आप नाभि में संक्रमण के शिकार हो जाते हैं| यह संक्रमण बच्चों और बड़ों किसी में भी हो सकता है| नाभि में संक्रमण होने के लक्षण है नाभि में दर्द होना, बार बार खुजली होना, अजीब सी बदबू आना, उस जगह पर सूजन होना और कभी कभी नहीं से मवाद (pus) भी निकलने लगता है|

navel infection

साफ़ सफाई के अलावा कुछ और कारण भी नाभि में इन्फेक्शन होने के लिए जिम्मेदार होते हैं जैसे नाभि में piercing करवाना, मोटापा, पसीना, मधुमेह, pregnancy, सर्जरी आदि| यदि आपकी समस्या गंभीर है तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलिए| लेकिन यदि अभी शुरुवात है तो आप शुरवाती इन्फेक्शन को घरेलु इलाज और उपचार अपनाकर भी दूर कर सकते हैं| साथ भी आपको अपनी साफ़ सफाई पर भी आगे से विशेष ध्यान देना होगा ताकि यह संक्रमण भविष्य में न हो पाए|

नाभि इन्फेक्शन घरेलु इलाज | Home Remedies for Navel Infection | घरेलु नुस्खे और उपचार  

गर्म पानी में नामक

आप जानते ही होंगे की नामक में जिवानुनाशी गुण होते हैं साथ ही इसके प्रभाव से संक्रमण दूर हो जाता है| एक कप हलके गर्म जल में एक चम्मच साधारण नामक का मिलिए| इस घोल में रुई डुबोकर अपनी नाभि को साफ़ करिए| ऐसा दिन में कुछ बार करने पर 2-3 दिन में इन्फेक्शन ख़तम हो जाएगी| बेहतर होगा की आप medical shop से कोई अच्छी एंटी बैक्टीरियल क्रीम भी ला कर लगायें जिससे आपका इन्फेक्शन जल्दी दूर होगा|

See also  खूनी बवासीर के कारण लक्षण और रोकने के उपाय इलाज

नाभि को साफ़ रखो

यदि आपको इन्फेक्शन से जल्दी छुटकारा पाना है तो हमेशा यह कोशिश करिए की आपकी नाभि हमेशा साफ़ और सुखी रहे| आप सफाई के लिए किसी अच्छे medicated anti बैक्टीरियल साबुन का प्रयोग कर सकते हैं| धोने के बाद नाभि को सूखने दीजिये|

गर्म सेक

यदि आपकी नाभि पर दर्द और सुजन है तो आप इसे गर्म सेक देकर कम कर सकते हैं| इसके लिए आप गर्म पानी में एक छोटे तौलिए को डुबोकर निचोड़ लीजिये| अब इस गर्म तौलिए को अपनी नाभि पर कुछ मिनट्स के लिए लगाकर रखिये| ऐसा कुछ बार और करिए जब तक आपको दर्द और सुजन से निजात नहीं मिल जाती|

Rubbing alcohol

Rubbing alcohol आसानी से आप medical shop से खरीद सकते हैं यह अकसर घाव साफ़ करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है| यह alcohol infection को ख़तम करता है और दर्द जैसे लक्षणों को दूर करता है| बस इसकी थोड़ी सी मात्र रुई पर लगाइए और इस रुई को अपनी नाभि पर लगा कर रखिये| अंत में navel को साफ़ करके रुई फैंक दीजिये| ऐसा दिन में 3-4 बार करिए|

Tea tree oil

आप इस तेल को किसी अच्छी हर्बल shop से खरीद सकते हैं| इस तेल की 3-4 बूंदे एक छोटे चम्मच जैतून या नारियल के तेल में मिलिए| अब रुई की सहायता से इस मिश्रण को अपनी नाभि पर 10 मिनट्स तक लगाकर रखिये| ऐसा आपको दिन में 2-3 बार करना होगा| tea tree आयल में बैक्टीरियल, फंगल इन्फेक्शन को ख़तम करने वाले शक्तिशाली गुण होते हैं|

See also  Sahi Time Par Period aane ke upay aur gharelu nuskhe

सिरका

सिरके में मौजूद अम्लीय गुण इन्फेक्शन का खत्म करने में सक्षम होते हैं| घर में पाए जाने वाले सफ़ेद सिरके के एक भाग को 2 भाग पानी के साथ dilute कर लें| इस मिक्सचर को रुई की सहायता से अपनी नाभि पर 10 मिनट्स तक लगाकर रखिये| बाद में गुनगुने पानी से अपनी नाभि को धो कर कपडे  से सुखा लीजिये| ऐसा रोजाना 2-3 बार करिए जब तक संक्रमण दूर न हो जाये|

एलो वेरा

एलो वेरा के वेशकीमती गुण आपको संक्रमण से मुक्ति और दर्द सुजन से रहत दिला कर घाव जल्दी भरने में मदद करते हैं| बस ताजे एलो वेरा gel को अपनी नाभि पर लगाकर सूखने दें और बाद में उस जगह को गीले कपडे से साफ़ करके सूखने दें| ऐसा दिन में 2-3 बार करिए जल्द फायदा होगा|

हल्दी से उपचार

हल्दी में एंटी सेप्टिक, एंटी बायोटिक और सुजन कम करने वाले गुण पाए जाते हैं| आप हल्दी वाला दूध पीकर अपने शरीर से तमाम प्रकार की infection से छुटकारा पा सकते हैं| साथ ही हल्दी और पानी की बनी पेस्ट को सूखने तक अपनी नाभि पर लगाकर रखिये और फिर गीले कपडे से साफ़ कर लें| ऐसा दिन में 2 बार करने से कुछ ही दिनों में आपको प्राकर्तिक रूप से अपनी समस्या से मुक्ति मिलेगी|

नीम के पत्तों की पेस्ट

नीम के एंटी सेप्टिक, इन्फेक्शन से लड़ने वाले और एंटी inflammatory गुण आपको दर्द, खुजली, सुजन और इन्फेक्शन से जल्द आराम दिलवा सकते हैं| बॉस आपको यह करना है की नीम के ताजा पत्तों की पेस्ट बनाकर उसमें एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाकर अपनी नाभि पर लगाना है| 20 मिनट्स के बाद गुनगुने पानी से धोकर उस जगह को सूखने देना है| ऐसा रोजाना दो बार करने से आपको कभी भी नाभि से सम्बंधित कोई परेशानी नहीं होगी|

See also  Hemoglobin kaise badhaye – हीमोग्लोबिन (खून) की कमी के कारण और इलाज

नाभि में इन्फेक्शन से बचाव

  • जैसा की हमने पहले बताया की साफ़ सफाई की कमी इस समस्या का मुख्य कारण होती है इसलिए आज से ही अपनी साफ़ सफाई का विशेष ख्याल रखिये| यदि आपकी नाभि से बदबू आती है तो इसका साफ़ अर्थ है की साफ़ सफाई की कमी है और इन्फेक्शन होने का खतरा है|
  • अपनी नाभि में बार बार उँगलियाँ मत मारिये इससे आपके नाखूनों से नाभि में घाव हो सकते हैं और उसके कारण इन्फेक्शन होने का खतरा ओर बढ़ जाता है|
  • अपने भोजन में लहसुन का अधिक प्रयोग करिए| लहसुन इन्फेक्शन दूर रखने में काफी मदद करता है|
  • विटामिन C, जिंक और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर पदार्थों का सेवन करिए ताकि इन्फेक्शन न हो और यदि संक्रमण है तो वो जल्दी ठीक हो सके|
  • अपने बढे हुए sugar के स्तर को control में रखने की कोशिश करें|
  • नियमित व्ययाम करके अपने वजन को सही करने की कोशिश करें|
  • नाभि में piercing करवाने से परहेज करें|

यदि नाभि में इन्फेक्शन दर्द, सुजन और पस का निकलना ऊपर बताये गए घरेलु नुस्खो और इलाज के तरीके को इस्तेमाल करने के एक हफ्ते बाद भी ठीक नहीं होता तो तुरंत अपने डॉक्टर से जा कर मिलें और सही इलाज करवाएं|

लोगों की इतनी help की लेकिन हमारी नयी वेबसाइट like नहीं की अभी तक 😥

loading...

4 COMMENTS