कमजोर चंद्रमा के बुरे प्रभाव – चंद्र ग्रह को मजबूत करने के उपाय

2

पंडित और ज्ञानी लोग यह कहते हैं की आपको अपने मुख्य ग्रह और  चंद्र को मजबूत करने के बारे में सोचना चाहिए साथ ही अपने इष्ट देव या देवी की नियमित आराधना करनी चाहिए ताकि आपका जीवन चिंता मुक्त और ख़ुशी से बीते| यहाँ आज हम आपको चंद्र ग्रह को शांत करने और मजबूत बनाने के लिए कुछ उपाय बताने जा रहे हैं| जहाँ एक और चंद्र की कृपा आपका जीवन खुशियों से भर सकता है वही इस ग्रह के कमजोर होने पर आपके जीवें में विपरीत प्रभाव पड़ते हैं आइये पहले जानते हैं की कमजोर चंद्र के दुश प्रभाव क्या हो सकते हैं और अगले भाग में चर्चा करेंगे की चन्द्रमा को मजबूत कैसे करे|

make moon strong

चंद्र कमजोर होने के लक्षण

ऐसा माना जाता है की मून के कमजोर होने पर 4 से 14 साल के बीच और 18 से 24 साल के बीच माता को अपनी संतान के पास रहने में दिक्कत आती है और किन्ही कारणों से माता को संतान से दूर रहना पड़ता है||

इस ग्रह के ख़राब प्रभाव से आपको माता या आपके माता के मायके की तरह से वो प्यार नहीं मिल पाता जितना आपको मिलना चाहिए|

आपके वाहनों के साथ निरंतर समस्याएँ आती रहती हैं|

आपकी पढाई बीच में ही छोडनी पड़ती है और आप कई प्रकार के काम काज करते हैं लेकिन सफलता किसी में नहीं मिलती.

Loading...

चंद्र ग्रह विपरीत होने पर आपकी संतान आपसे दूर रहेना चाहती है या रहना पड़ता है|

ज्यादा खर्च के बाद में आपका घर अव्यवस्थित और कांतिहीन रहता है|

आपको पैसे, समाज में इज्जत की कमी और शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है|

आपके पालतू जानवर आपको काटते हैं|

घर में सीलन रहती ह|

पड़ोसियों से कम बनती है|

यदि आपकी भाषा में कटुता है और आपका चंद्र कमजोर है तो आपको शिक्षा और समाज में अधिक नाम नहीं मिलेगा|

आपके गुरु आप पर कम भरोसा करेंगे और आपकी उनसके कम बनेगी|

कमजोर चन्र्द वाले लोग अक्सर वाणी दोष के प्रभावित रहते हैं|

आपको अपने जीवन साथी से साथ और प्यार आपकी अपेक्षा से कम मिलेगा|

आपको अपनी बात दूसरों को समझाने में परेशानी होगी और इसकारण दुसरे आप पर कम विश्वास करेंगे|

आपको नहाना धोना कम पसंद होगा|

आप घर की साफ़ सफाई पर भी कम ध्यान देंगे|

आपका मन कमजोर रहेगा|

दिमाग तेज होने पर भी आप उसका इस्तेमाल करने में विफल रहेंगे|

आपकी पहली संतान को जीवन में कष्टों का सामना करना पड़ेगा और पहली संतान आपसे दूर रहेगी| यदि संतान पास होगी भी तो भी आपकी और उसकी कम बनेगी|

यदि आपके घर में या घर के आस पास पड़े घंटे वाली घडी है तो आपको संतान प्राप्ति में बाधा आएगी और यदि संतान होगी तो उसमें किसी परकार की जन्मजात त्रुटी होने की संभावना होगी|

आपकी आपनी पत्नी से कम बनेगी और इस बाधा को आप चंद्र शांति द्वारा दूर कर सकते हैं|

आपके सबकुछ अच्छा करने पर भी आपका बुरा ही होगा |

पूजा अर्चना का वंचित फल आपको नहीं मिल पायेगा|

आप जिसकी भी मदद करेंगे बाद में वो ही आपके खिलाफ होजायेगा|

यदि आपके परवार का चंद्र कमजोर है तो ऐसे घर में सास बहु के झगडे होना सवाभाविक होंगे|

यदि आपका चंद्र नीच है तो आप किसी को भी कोई दावा न दें अन्यथा गभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं|

धन दौलत का अभाव कमजोर चनरमा के कारन हो सकता है|

आप छोटी सी बात से भी डर जाते हैं|

आपको blood pressure की शिकायत रहती है|

स्वास्थ्य जल्दी बिगड़ता है बिना किसी कारण के|

चंद्र को मजबूत बनाने के उपाय | चंद्रमा शांति के उपाय

ऊपर जो प्रभाव दिए गए हैं और चंद्रमा की शांति और मजबूत बनाने के उपाय हैं वो हमारे पंडितों की देन हैं| इसलिए यदि ऊपर दिए गए सभी या कुछ लक्षण आपसे मिलते हैं तो आप निम्न उपाय करके अपने चंद्र ग्रह की शांति कर सकते हैं|

कभी भी दूसरों से चांदी की वास्तु उपहार सवरूप न लें|

साल में एक या दो बार चांदी की वास्तु दान करें|

दूध का दान हर सोमवार के दिन करें और स्वम दूध का सेवन न करें|

जिस चीज़ को आपने दान किया है उसे भूलने की कोशिश करें और जिससे आपने दान किया है उसका सम्मान करें|

नारियल खाइए, सफ़ेद कपडे धारण करिए और रोजाना अनुलोम विलोम करिए|

घर में चांदी के शिवलिंग की स्थापना करिए और उसकी रोजाना पूजा करिए|

घर की उत्तर में कृष्ण भगवन की मूर्ति की स्थापना करिए और उन्हें स्फतिक की माला धारण करवाइए| ऐसा करने से घर के सभी सदस्यों का चंद्र मजबूत होगा|

घर में मोर पंख रखने से भी चंद्र ग्रह की शांति होती है|

घर में जंगली कबूतर को न रहने दें|

यदि आपकी हर समय उपेक्षा होती है तो यह कमजोर चंद्र को दर्शाता है| ऐसी स्तिथि में कम बोलिए और धार्मिक किताबें पढ़िए और अपनी माता का सम्मान करिए|

चांदी की माला में सुपारी धारण करिए लेकिन चंद्र जाप के बाद|

पिता को रोजाना दूध देने से भी चंद्र ग्रह शांत होता है|

चांदी की माला अपने माता, पिता या बहिन से उपहार सवरूप लेकर धारण करिए|

पूरनमासी के दिन अपनी माता के साथ बैठकर शिव मन्त्रों का जाप करिए|

सर्दियों में केसर और शिकाजित का सेवन करिए|

घर में बड़ी घंटे वाली घडी न रखें|

घर में शंख नाद करने से भी फ़ायदा होता है|

यदि आपका चंद्र राहु और केतु के साथ है तब आपको अनिद्रा, घबराहट, बेचैनी, अवसाद, चिंता जैसी समस्याएं हो सकती हैं|  आप रोजाना ध्यान का अभ्यास कर्रिए और उनलोगों से न मिलिए जिनसे आपकी बनती न हो| साथ ही रोजाना छोटी इलाइची का सेवन करिए, हरी घास पर चलिए और खूब सारा पानी पीजिये|

इसके अलवा रोजाना चंद्र शान्ति मन्त्रों का जाप करिए, गाय को गुड दान करिए, और साथ ही हल्का और सुपाच्य भोजन करिए|

ये थे कमजोर चंद्र को मजबूत बनाने के उपाय जिन्हें हमने नहीं बल्कि भारत के पंडित और ज्ञानी लोग करने की सलाह देते हैं| आपका इस बारे में क्या कहना है हमें कमेंट्स में लिख कर बताएं|

New Website Launched for English Readers!!!!!!!!!

Check Out Our Brand New English Website

kitchenhomeremedies.com

Loading...

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY