वीर्य में शुक्राणु की संख्या को स्वस्थ (healthy) रखने के उपाय

0

यह लेख उन लोगों के लिए हम बना रहे हैं जिन्हें लगता है की उनके वीर्य में शक्राणुओं की कमी है या उनका वीर्य पतला है या फिर वो इस बात से चिंतित हैं की वीर्य में शुक्राणु बहुत कम हैं खास कर वो लोग जिन्होंने अपने वीर्य की जांच करवाई हो और जांच में शुक्राणुओं की संख्या कम आई हो| कुछ लोग हमसे पूछ रहे हैं की उन्होंने कई सालों  से जरुरत से जयादा हस्तमैथुन की है जिसके कारण उन्हें लगाता है की उनमें वीर्य या शुक्राणु की कमी हो गयी है और आगे चलकर उन्हें बाप बनने या संतान प्राप्ति में समस्या आएगी|

healthy virya

यह लेख उनके लिए भी उपयोगी सिद्ध होगा जो लोग बच्चा चाहते हैं लेकिन उनके पास स्वस्थ शुक्राणुओं और healthy वीर्य की कमी है और इसलिए उन्हें पुत्र या पुत्री प्राप्ति में बाधा आ रही है| कुल मिलकर हम ये बताएँगे की आप कैसे वीर्य और उसमें पाए जाने वाले शुक्राणुओं को स्वस्थ यानि healthy रख सकते हैं जिससे आपकी कम शुक्राणु और नपुंसकता की समस्या दूर हो सके|

क्या आप जानते हैं की स्वस्थ वीर्य के 1ml में 4 करोड़ से 30 करोड़ तक शुक्राणु पाए जाते हैं| शुक्राणुओं की संख्या पुरुष में तब कम मानी जाती है जब 1ml में शुक्राणु 1 करोड़ से 2 करोड़ रह जायें या उससे भी कम हो जायें|

loading...

यदि आप प्रेगनेंसी पाने की कोशिश कर रहे है तो आपके वीर्य में २ करोड़ शुक्राणु प्रति ml होने चाहिए और यह उस बात पर निर्भर करता है की आपका वीर्य और उसमें शुक्राणु कितने स्वस्थ हैं| तो आईये जानते हैं की आप वीर्य और शुक्राणु को कैसे स्वस्थ (healthy) बना कर अपनी शुक्राणुओं की संख्या, उनकी क्वालिटी और उनकी गति को बढ़ा कर आसानी से अपनी कम शुक्राणु की समस्या दूर कर सकते हैं और भविष्य में संतान प्राप्ति की समस्या को कैसे दूर कर सकते हैं|

वीर्य में शुक्राणु की संख्या को स्वस्थ (healthy) रखने के उपाय

weight यानि भार कम करने से वीर्य और शुक्राणु रहते हैं स्वस्थ

See also  Ling ka dhilapan door karne ke upay nuskhe – ling ki nason mein kamjori ka ramban ilaj

आपके शरीर का भार अधिक होने से कई दिक्कतें आ सकती हैं जैसे high blood pressure, लिंग का छोटा होना, मधुमेह, कोलेस्ट्रॉल अधिक होना आदि और ये सभी समस्याएँ आपके प्रजनन तन्त्र के स्वास्थ्य को बिगडती हैं| रिसर्च में पाया गया है की मोटे लोग जब अपना वजन कम करते हैं तो उनके वीर्य की मात्रा बढती है साथ ही उनके शुक्राणुओं की संख्या, स्वास्थ्य, क्वालिटी और गतिशीलता में भी बढ़ोतरी होती है| इसलिए वजन कम करके आप अपने वीर्य और उसके शुक्राणुओं को स्वस्थ रख सकते हैं|

अपने शरीर का वजन कम करने के लिए आप डॉक्टर, डायटीशियन और फिटनेस ट्रेनर की मदद लें जो की आपको खान पान, एक्सरसाइज और वजन को सही तरह से कम करने के लिए मार्गदर्शन देंगे| इसके अलावा सुबह जल्दी उठकर योग और कुछ देर मैडिटेशन भी करें ताकि आपका मानसिक और शारीरिक स्वस्थ भी सही रहे और आप तनाव मुक्त रह सकें|

रोजाना करिए दिल से एक्सरसाइज

रोजाना एक्सरसाइज करने से आपका मोटापा तो कम होगा ही साथ में मोटापे से जुडी कई बिमारियों का भी अंत होगा और इन सब बातों का प्रभाव आपके वीर्य के स्वास्थ्य पर पड़ेगा जिसके परिणाम सवरूप आपका वीर्य भी पहले से कहीं अधिक स्वस्थ होगा| आप रोजाना कुछ देर तेज चलिए (यदि आपका वजन बहुत अधिक है), आप सुबह शाम आधा घंटा जॉगिंग कर सकते हैं इसके अलवा आप दूसरी कई और एक्सरसाइज कर सकते हैं जैसे रस्सी कूदना, स्विमिंग, आदि|इसके अलावा आप gym ज्वाइन करके किसी अच्छे ट्रेनर की  सलाह से अपने वजन को कण्ट्रोल में कर सकते हैं| एक्सरसाइज से आपका और आपके वीर्य का  स्वास्थ्य समय के साथ बेहतर बनता जायेगा|

विटामिन सप्लीमेंट से शुक्राणु की संख्या और स्वास्थ अच्छा रखना

कुछ खास विटामिन्स जैसे विटामिन C, D, E और CoQ10 आदि वीर्य और शुक्राणु को स्वस्थ रखने के लिए बहुत जरुरी होते हैं| रिसर्च में पाया गया है की सही मात्रा में विटामिन C और D लेने से आपके वीर्य की health बेहतर बनती है और शुक्राणु की क्वालिटी और गतिशीलता में सुधार होता है| इन सबसे आपको संतान प्राप्ति में कोई परेशानी नहीं आती| आप सही विटामिन्स के चुनाव के लिये अपने डॉक्टर की मदद ले सकते हैं| डॉक्टर जरुरी टेस्ट करके आपमें विटामिन की कमी का पता लगाएगा और उसी हिसाब से आपको जरुरी सुप्प्लेमेंट्स  देगा|

See also  स्वप्नदोष क्यों होता है – बचाव और रोकने के तरीके

स्वस्थ वीर्य / शुक्राणु चाहिए तो नशा करिए बंद

नशा जैसे तम्बाकू, शराब, ड्रग्स, स्टेरॉयड आदि से आपकी सेहत और शुक्राणु की संख्या पर बुरा प्रभाव पड़ता है जिससे आगे चलकर निल शुक्राणु या नपुंसकता हो सकती है| आप नशा छोड़ने की कोशिश करें और इसके लिए आप डॉक्टर की मदद भी ले सकते हैं|  आपको कुछ दिन rehab center पर रहना होगा और उसके बाद आप सामान्य जिन्दगी जी पाएंगे जो की पूर्ण रूप से स्वस्थ होगी|

हानिकारक chemicals  से रहिये दूर

धातु, पेस्टिसाइड, डिटर्जेंट, पेंट स्ट्रिपर आदि हानिकारक पदार्थों के साथ काम करने से परहेज रखें| यदि बहुत जरुरी हो तो मोटे रबर के दस्ताने पहने और काम होने के बाद अपने कपडे और अपने शरीर को नहा धोकर साफ़ कर लें| ये chemicals आपकी त्वचा द्वारा आपके शरीर में प्रवेश करके आपके शुक्राणु, शरीर और आपकी ग्रंथियों के स्वास्थ्य को बुरी तरह से नुक्सान पंहुचा सकते हैं जिससे नपुंसकता या कोई दूरसी बीमारी भी हो सकती है| इसके अलवा बहुत अधिक गर्मी या रेडिएशन में काम करने से भी ऐसा हो सकता है|

साइकिल और बाइक को कम चलाइये

रिसर्च में पाया गया है की जो लोग रोजाना कुछ घंटे साइकिल या बाइक या ड्राइव करते हैं उनके शुक्राणु की संख्या कम होती है| इसका कारण है की साइकिल, बाइक, गाड़ी की सीट पर अधिक देर बैठने के कारण  अंडकोष के ताप का बढ़ना| लांग ड्राइव की बात एक दो दिन की हो तो कुछ खास फर्क नहीं पड़ता लेकिन यदि आप कई घंटे रोजाना ड्राइव करते हैं तो आपको इस बारे में डॉक्टर की सलाह लेनी होगी की क्या करने से आप इस समस्या से बच सकते हैं|

See also  वियाग्रा टेबलेट खाने के नुक्सान (side effects) क्या हो सकते हैं हिंदी में

हमेशा कॉटन के ढीले अंडरवियर पहने

टाइट अंडरवियर पहनने से आपके अंडकोष का तापमान बढ़ता है जिससे शुक्राणु और वीर्य की सेहत पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है और उनकी कमी होने लगती है| इसलिए अंडकोष के तापमान को सही रखने की कोशिश करें और ऐसा आप ढीले कॉटन के अंडरवियर पहेनकर कर सकते हैं| सही तापमान मिलने से आपके शुक्राणुओं का प्रोडक्शन बढेगा और आपका वीर्य स्वस्थ रहेगा|

स्वस्थ शुक्राणु

यह जरुरी नहीं की शुक्राणु अधिक होने से ही प्रेगनेंसी होती है| पुरुष की प्रजनन क्षमता शुक्राणुओं से सम्बंधित निम्न 3 कारकों पर भी निर्भर करती है

आपके शुक्राणुओं का स्वास्थ्य कैसा है

आपके बिरय में शुक्राणु की density कितनी है

आपके वीर्य में कुल कितने शुक्राणु हैं

यदि आपकी शुक्राणु की संख्या किसी कारण से कम हो रही है तो सबसे पहले आपनी बुरी आदतों, ख़राब जीवनशैली और अपने खान पान में सुधार करिए ताकि आपका वीर्य और शुक्राणु स्वस्थ रह सकें और उनकी संख्या भी|

तो भाइयों, यदि आप प्रेगनेंसी के लिए प्लान कर रहे हैं तो आपकी शुक्राणु की सेहत तो अच्छी होनी ही चाहिए साथ ही आपकी पार्टनर भी पूर्ण रूप से स्वस्थ होनी चाहिए| यदि आप संतान प्राप्त करना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए वीर्य को स्वस्थ रखने और शुक्राणु को healthy बनाने के उपाय जरुर इस्तेमाल करें| यदि आप में जन्मजात शुक्राणु कम हैं तो भी आपके पास दुसरे आप्शन हैं जैसे ivf ट्रीटमेंट या बच्चा अडॉप्ट करना| इसलिए जो युवक सोचते हैं की उनकी बचपन की गलती के कारन आगे उन्हें समस्या आ सकती है तो ऊपर दिए गए उपाय अजमाकर देखें और अपनी मर्दाना शक्ति बढाकर कम शुक्राणु या नपुंसकता की समस्या को दूर कीजिये|

लोगों की इतनी help की लेकिन हमारी नयी वेबसाइट like नहीं की अभी तक 😥

loading...