कैसे पता करें की एबॉर्शन पूरा हुआ या अधुरा – सफल और असफल गर्भपात होने के लक्षण क्या होते हैं?

0

एबॉर्शन kit से मेडिकल एबॉर्शन के बाद सबसे बड़ी problem – क्या एबॉर्शन kit पक्का काम करेगी या कैसे पता करें की गर्भपात हुआ है या नहीं यानि एबॉर्शन गोली लेने के बाद सफल हुआ की नहीं? कैसे जाने की गर्भपात पूरा हुआ है या अधुरा?

कब और कितना सफल होता है मेडिकल एबॉर्शन यानि kit द्वारा एबॉर्शन?

एबॉर्शन किट द्वारा मेडिकल एबॉर्शन करने पर अक्सर लोग इस चिंता में रहते हैं कि अबॉर्शन पूरा हुआ होगा या नहीं और कैसे जाने या पता करें की एबॉर्शन सही तरह से हो गया है|  इतना ध्यान रखिए कि मेडिकल अबॉर्शन द्वारा गर्भ गिराने का सबसे इफेक्टिव तरीका होता है लेकिन जब यदि सही तरह से किया जाए| एबॉर्शन kit द्वारा किया गया गर्भपात  98% कामयाब होता है यदि प्रेगनेंसी के पहले 9 हफ्तों में किया जाए|

एबॉर्शन पूरा हुआ या अधुरा कैसे पता चलेगा? कैसे जाने की एबॉर्शन kit ने अपना काम किया या नहीं?

कुछ तरीके या लक्षण होते हैं यह पता करने के की गर्भपात successful रहा या नहीं जैसे की एबॉर्शन kit के इस्तेमाल के बाद ब्लीडिंग होना और पेट में मरोड़ या क्रेम्पिंग होना बहुत जरुरी होता है और मुख्य लक्षण भी|

ब्लीडिंग आपके शरीर से आपके गर्भ के tissue को बहार निकालने में मदद करती है और cramping होने से आपके गर्भाशय को अपने सही आकर में आने में मदद मिलती है |

loading...

दर्द और मरोड़ को रोकने के लिए या दबाने के लिए गर्म सेक या pain किलर का इस्तेमाल किया जा सकता है|

सफल एबॉर्शन के लिए ब्लीडिंग होना जरुरी होता है – एबॉर्शन की ब्लीडिंग कब शुरू होनी चाहिए

सफल एबॉर्शन के लिए यह जरूरी होता है कि ब्लीडिंग एबॉर्शन  किट का सेकंड सेट लेने के 1 से 4 घंटे मैं शुरू हो जाए कभी-कभी ब्लीडिंग होना 24 से 72 घंटे भी ले लेता है |

ब्लीडिंग ना आये तो क्या मतलब होता है?

यदि एबॉर्शन किट लेने के 72 घंटे तक ब्लीडिंग ना हो तो इसका सीधा अर्थ होते हैं कि गर्भपात  सफल नहीं हुआ इसके कई कारण हो सकते हैं जैसे एबॉर्शन किट का सही तरह से इस्तेमाल ना करना, एक्टोपिक प्रेगनेंसी की समस्या होना, प्रेगनेंसी का ना होना |

एबॉर्शन की ब्लीडिंग कितनी होनी चाहिए और कब खतरा होता है ?

एबॉर्शन की बिल्डिंग आपकी पीरियड में होने वाली बिल्डिंग से हेवी होती है जिसमें की खून के थक्के भी आते हैं ब्लीडिंग होना एबॉर्शन किट के इस्तेमाल के 2 से 5 घंटे में शुरू हो जाता है और 24 घंटे तक ब्लीडिंग कम होने लगती है| एबॉर्शन के बाद ब्लीडिंग 4 हफ्ते यानी 1 महीने तक चल सकती है लेकिन यदि ब्लीडिंग हेवी हो जैसे कि यदि आप 1 घंटे में दो से तीन पैड बदल रहे हैं तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए | इसके अलावा यदि आप का दर्द जरूरत से बहुत तेज है और दर्द निवारक गोली लेने के बाद भी वह कम नहीं हो रहा और यदि आपको बुखार है आपको तुरंत डॉक्टर से मिलना चाहिए|

एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी के लक्षण?

एबॉर्शन होने के बाद प्रेगनेंसी के लक्षण जैसे ज्यादा पेशाब आना, जी मिचलाना, स्तन में सूजन आदि दूर होने में एक महीने का समय लग सकता है इसलिए चिंता करने की जरुरत नहीं|

एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट यानि जांच कब कितने दिन या हफ्ते बाद करने से रिजल्ट सही मिलता है?

यदि एबॉर्शन होने के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं और रिजल्ट पॉजिटिव आता है तो आपको डरने या घबराने की जरूरत नहीं क्योंकि ऐसा तब होता है जब आप प्रेगनेंसी टेस्ट जल्दी कर लेते हैं | एबॉर्शन के बाद प्रेगनेंसी टेस्ट का सही रिजल्ट पाने के लिए आपको कम से कम तीन से चार हफ्ते रुकना चाहिए इसी प्रकार अल्ट्रासाउंड के लिए 2 हफ्ते रुकना चाहिए यदि आप खून की जांच द्वारा प्रेगनेंसी पता लगाना चाहते हैं तो आपको गर्भपात होने के बाद 4 से 5 दिन तक वेट करना चाहिए|

गर्भपात होने के बाद दोबारा पीरियड कब आता है?

एबॉर्शन होने के बाद पीरियड लौटने में 1 से 2 महीने का समय लग सकता है कभी-कभी यह समय ज्यादा भी हो सकता है|  पीरियड जल्दी आना या लेट आना आपके शरीर की रिकवरी पर भी निर्भर करता है|

एबॉर्शन  सफल हुआ या सफल जाने से जरूरी है कि आप गर्भपात होने के बाद अपने शरीर की सुने यदि आपको कुछ भी असामान्य लक्षण दिखाई दे रहा है तो अपने डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए अपने आप या किसी के कहने पर किसी नतीजे पर नहीं पहुंचना चाहिए|

लोगों की इतनी help की लेकिन youtube चैनल subscribe किसी ने नहीं किया अभी तक

 

loading...