मोच आने पर करें ये घरेलु उपाय – Ankle sprain Home treatment

0

मोच आना जिसे इंग्लिश में leg sprain या ankle sprain के नाम से जानते हैं एक बहुत ही आम जोड़ों से जुडी समस्या है जो किसी को भी किसी भी समय हो सकती हैं| मोच आने पर आपके पैरों के लिगामेंट्स जरुरत से ज्यादा खींच जाते हैं जिससे उनको क्षति पहुँचती है जिसके फलसवरूप उस जगह पर तेज दर्द और सूजन हो जाती है और आपका चलना फिरना बहुत ही मुश्किल हो जाता है| मोच के कई कारण हो सकते हैं जैसे अधिक भर उठाने से पैर का मुड़ना या फिर चलते दौड़ते समय अचानक से पैर का जरुरत से जयादा मुड जाना| कुछ लोग तो एक ही पैर में बार बार मोच आने से भी परेशान  रहते हैं| दोस्तों, यदि आपकी मोच हलकी फुलकी है तो आप उसे घरेलु नुस्खे और प्राकर्तिक उपचार के उपाय अपनाकर ठीक कर सकते हैं| आम तौर पर आपको १-2 दिन में आराम मिल जाता है| लेकिन यदि आपको कुछ दिनों बाद भी आराम न मिले और दर्द और सुजन आपकी सहन से बहार हो रहे हैं तो किसी अच्छे हड्डियों के डॉक्टर से मिलना ही समझदारी होगी|

ankle sprain

नीचे कुछ घरेलु आयुर्वेदिक उपाय दिए जा रहे हैं जिन्हें आप मोच आने पर इस्तेमाल करके अपनी परेशानी से जल्द निजात पा सकते हैं|

Home Remedies for Ankle Sprain | मोच आने का घरेलु उपचार

हमेशा धयान रखिये की जब कभी भी आपके मोच आये तब सबसे जरुरी होता है की प्रयाप्त आराम करना ताकि आपकी चोटिल जगह को ज्यादा हिलना डुलना न पड़े और आपके दर्द और सूजन में कमी आये| इसलिए भरपूर आराम कीजिये| साथ ही निम्लिखित home remedies इस्तेमाल में लीजिये|

Loading...

बर्फ

मोच वाली जगह पर बर्फ यानि ice लगाने से सोज, दर्द और सूजन से काफी रिलीफ मिलता है| जब भी आपके मोच आये तो कुछ ice cubes को किसी कपडे या तौलिए में लपेट कर दर्द वाली जगह पर 15 से 20 मिनट्स तक लगाकर रखिये} ऐसा दिन में 3-4 बार करने से आपको जल्द आराम की अनुभूति होगी|

पट्टी कीजिये

यदि आप चाहते हैं की सूजन ज्यादा न बढ़ पाए तो मोच आते ही उस जगह पर कपडे की bandage बांध लीजिये| ऐसा करने से दर्द भी कम होगा और आपके पैर पर जोर भी नहीं पड़ेगा| केमिस्ट की दूकान से एक क्रेप bandage लाइए और उसे मोच वाली जगह पर बंद लीजिये (जयादा tight नहीं)| अच्छा होगा की दिन के समय आप यह bandage लगा कर रखें और रात में इसे उतार कर सोयें|

हल्दी से मोच का इलाज

हल्दी अपनी दर्द निवारक और inflammation घटाने वाले गुणों के कारण जानी जाती है| हाली आपके जोड़ों और muscles को relax करती है फलसवरूप आपको दर्द और सूजन से रहत मिलती है|

आप हल्दी वाला दूध पीकर दर्द से जल्द छुटकारा पा सकते हैं| इसके अलावा आप हल्दी में थोडा सा निम्बू का रस मिलकर और गर्म जल मिलकर गाढ़ी पेस्ट तैयार करिए| इस पेस्ट को मोच वाले स्थान पर लगाकर bandage से बांध लीजिये| पूरे दिन रखने के बाद आप bandage उतार सकते हैं| यह नुस्खा तब तक इस्तेमाल करें जब तक आपकी चोट ठीक न हो जाये| इसी प्रकार हल्दी, थोड़े से चुना और पानी के साथ बनी पेस्ट को भी कुछ लोग इस्तेमाल करते हैं|

लहसुन और आयल मालिश 

लहसुन भी मोच से जुड़े लक्षण जैसे दर्द और सुजन को कम कर सकता है| बस आपको करना यह है की लहसुन के रस का एक चम्मच 2 चम्मच नारियल या बादाम के तेल के साथ मिलाना है| इस मिश्रण को हल्का गर्म करके अपने मोक वाले स्थान पर लगाकर हलके हाथों से कुछ देर massage करना है| ऐसा आपको दिन में 2-3 बार करना होगा|

सेंधा नामक

सेंधा नामक को सदियों से मोच आने के लिए इस्तेमाल में लिया जा रहा है| इसके गुण तन्रिकाओं और muscles को relax करते हैं और आपको मोच के लक्षणों से निजात दिलवाते हैं| एक बाल्टी हलके गर्म पानी में एक कप सेंधा नामक मिलिए| इस बाल्टी में अपने मोच वाले पैर को आधा घंटे तक डूबो कर रखिये| ऐसा दिन में दो बार करिए|

अरण्डी का तेल

मोच आने पर अकसर जानकार लोग अरण्डी का तेल लगाने की सलाह देते हैं| इसमें एंटी inflammatory गुण पाए जाते हैं जो आपको दर्द और सूजन से जल्द मुक्ति दिलवा सकते हैं| इस तेल को सूजन वाली जगह पर अच्छे से लगाइए| अब एक गर्म पानी की बोतल को कपडे में लपेट कर दर्द वाली जगह पर लगाइए| ऐसा दिन में 2-3 बार करिए| अपने पांव को अपने शरीर से थोडा ऊपर रखने से जल्द फायदा मिलता है|

नोट:- इसी प्रकार आप जैतून का तेल यानि olive आयल और सरसों का तेल भी इस्तेमाल कर सकते हैं|

प्याज़ से मोच ठीक करना

प्याज में दर्द निवारक और सूजन  दूर करने वाले गुण मौजूद होते हैं| मोच के लिए इस इस्तेमाल करने के लिए आप प्याज़ के बारीक बारीक टुकड़े कर लें और इन्हें पतले कपडे में बंद कर अपनी मोच वाली जगह पर दो घंटों के लिए लगाकर रखें| आप समय समय पर प्याज़ का रस भी लगा सकते हैं|

पत्ता गोभी के पत्ते

पत्ता गोभी के पत्तों को अकसर मोच आने और हड्डी टूटने पर सुजन और दर्द से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है| इन पत्तों को हल्का गर्म करके मोच वाली जगह पर bandage के द्वारा बाँध कर आधे घंटे तक रखा जाता है| दिन में ऐसा दो बार करने से आराम मिलता है|

मोच के कुछ और घरेलु उपचार

मोच वाले स्थान पर चने बांध कर हलके गर्म जल से भिगोते रहे| जानकार कहते हैं चनों के फूलने से दर्द और सूजन दूर होने लगेगी|

  • फिटकरी के 2 ग्राम चूर्ण को एक गिलास गर्म दूध के साथ पीने से मोच की सोज जल्दी ठीक हो जाती है|
  • शहद में थोडा सा चुना मिलकर मोच वाली जगह पर दिन में 2-3 बार मलने से जल्दी आराम मिलता है|
  • तेज पत्ते और long के पाउडर को बराबर मात्रा में मिला लें| इसमें पानी मिलकर पेस्ट बनाएं और इस पेस्ट को दर्द और सूजन वाली जगह पर लगाने से आपको काफी फायदा होगा|
  • sprain वाली जगह पर समय समय पर एलो वेरा का रस लगाने से भी लाभ होता है|
  • पान के पत्ते पर नामक लगा कर मोच वाले स्थान पर बंधने से भी दर्द से रहत मिलती है|
  • इमली की पत्तीओं की पेस्ट लगाने से भी लाभ होता है|
  • सरसों के तेल में नामक मिलकर लगाने से भी आपको जल्द आराम मिलेगा|

मोच आने से कैसे बचें?

यहाँ कुछ जरुरी बातें हैं जिन्हें अपनाकर आप बार बार मोच आने से बाख सकते हैं|

  • खेल कूद या exercise करने से पहले warm up करना न भूलें|
  • चलते, दौड़ते और काम करते समय आपको विशेष ध्यान रखना होगा खास कर जब सतह समतल न हो|
  • हमेशा अच्छी फिटिंग के जूते डाल कर बहार जायें|
  • high हील जूतों को पहनने से परहेज करें|
  • stretching exercise द्वारा muscles की ताकत और लचक बढाये|
  • बैलेंस अच्छा करने वाली exercises का नियमित अभ्यास करें|

तो दोस्तों, मोच आने पर ऊपर दिए गाये उपाय और इलाज के तरीके अपनाकर आप थोडा आराम पा सकते हैं| यदि आपकी चोट गंभीर है तो बेहतर यदि होगा की आप डॉक्टर से उनका सही इलाज करवाएं|

New Website Launched for English Readers!!!!!!!!!

Check Out Our Brand New English Website

kitchenhomeremedies.com

Loading...

LEAVE A REPLY